Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

पंजाब ; 70 वर्ष की उम्र में महिला ने दिया पहले बच्‍चे को जन्‍म

daljinder-kaur_650x400_71462889592नई दिल्‍ली: 70 साल की उम्र में बच्‍चे को जन्‍म देने वाली पंजाब की एक महिला ने कहा कि वह इतनी भी उम्रदराज नहीं हुई थी कि अपने पहले बच्‍चे को जन्‍म ना दे सके। उसने कहा कि अब जाकर मेरा जीवन पूरा हुआ।

हरियाणा के एक फर्टिलिटी क्‍लीनिक में अपने 79 वर्षीय पति के साथ 2 साल तक आईवीएफ तकनीक से इलाज कराने के बाद दलजिंदर कौर ने पिछले महीने एक लड़के को जन्‍म दिया।दलजिंदर ने बताया कि उनकी शादी को 46 साल हो गए थे और उन्‍होंने बच्‍चे की उम्‍मीद बिल्‍कुल छोड़ दी थी।कौर ने बताया, ‘भगवान ने हमारी प्रार्थना सुन ली। मेरी जिंदगी अब भरी पूरी लग रही है। मैं बच्‍चे की देखभाल खुद ही कर रही हूं। मेरे पति भी बहुत ख्‍याल रखने वाले हैं और जहां तक हो सके मेरी मदद करते हैं।

कौर ने कहा, ‘जब हमने आईवीएफ का विज्ञापन देखा तो हमने सोचा कि क्‍यों ना इसे एक बार आजमाया जाए क्‍योंकि मैं हर हाल में अपना खुद का बच्‍चा चाहती थी।’कौर अपनी उम्र करीब 70 साल बताती हैं क्‍योंकि भारत के ज्‍यादातर लोगों की तरह ही उनके पास भी जन्‍म प्रमाणपत्र नहीं है जबकि क्‍लीनिक ने एक बयान में कहा कि उनकी उम्र 72 साल है।नेशनल फर्टिलिटी एंड टेस्‍ट ट्यूब सेंटर ने कहा, 19 अप्रैल को जन्‍मा बच्‍चा अब बिल्‍कुल स्‍वस्‍थ है जबकि जन्‍म के समय उसका वजन मात्र 2 किलोग्राम था। दलजिंदर कौर का गर्भधारण उनके खुद के अंडाणु और उनके पति के शुक्राणु का इस्‍तेमाल कर हुआ।

कौर के पति मोहिंदर सिंह गिल, जिनके पास अमृतसर के बाहरी इलाके में खेत हैं, ने कहा कि वह अपनी उम्र को लेकर जरा भी विचलित नहीं थे। उन्‍होंने ने अपने बच्‍चे का नाम अरमान रखा है और उनका कहना है कि उसकी देखभाल ऊपरवाला करेगा।गिल ने कहा, ‘लोग कहते हैं कि हमारी मौत के बाद बच्‍चे का क्‍या होगा। लेकिन मुझे भगवान पर पूरा भरोसा है। भगवान सर्वशक्तिमान और सर्वव्‍यापी है और वही सब देख लेगा।’फर्टिलिटी क्‍लीनिक चलाने वाले अनुराग बिश्‍नोई ने कहा, शुरुआत में वो आईवीएफ को लेकर थोड़े आशंकित थे, लेकिन टेस्‍ट रिपोर्ट्स से पता चला कि कौर बच्‍चे को जन्‍म दे सकती हैं।’डॉक्‍टर ने कहा, ‘पहले तो मैंने मामले से पीछा छुड़ाने की कोशिश की क्‍यों वो बहुत कमजोर दिख रही थी। लेकिन फिर हमने उनके सारे टेस्‍ट करवाए और रिपोर्ट आने के बाद आगे बढ़े।’

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *