Pages Navigation Menu

Breaking News

सीबीआई कोर्ट ;बाबरी विध्वंस पूर्व नियोजित घटना नहीं थी सभी 32 आरोपी बरी

कृष्ण जन्मभूमि विवाद- ईदगाह हटाने की याचिका खारिज

सिनेमा हॉल, मल्टीप्लैक्स, इंटरटेनमेंट पार्क 15 अक्टूबर से खोलने की इजाजत

लघु उद्यमों के लिए एक लाख करोड़ रुपए का फंड

NITIN GADKARIनई दिल्ली. केंद्र सरकार सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (MSME) के बकाया भुगतान को चुकाने के लिए एक लाख करोड़ रुपए का फंड देगी। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि उन्होंने कोष बनाने की योजना तैयार कर ली है। इस प्रस्ताव को मंत्रिमंडल के सामने रखा जाएगा और वित्त मंत्रालय की मंजूरी मिलने के बाद इस पर कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि कोविड-19 महामारी से देश के उद्योग जगत को बड़ा नुकसान हुआ है। नितिन गडकरी ने कहा कि कोरोना के बाद दुनिया चीन के साथ व्यापार जारी नहीं रखना चाहती है। संकट की घड़ी में यह भारत के लिए वरदान की तरह है। अगर इस मौके का सही फायदा उठाने में कामयाब होते हैं तो 2025 तक 5 ट्रिल्यन डॉलर इकॉनमी का सपना भी पूरा हो सकता है।

मदद का फॉर्मूला तैयार
गडकरी ने कहा कि आधिकारिक क्रेडिट गारंटी के तहत बैंकों द्वारा एक लाख करोड़ रुपए का कोष बनाने का निर्णय किया है। हम इस कोष का बीमा कराएंगे और सरकार इसका प्रीमियम जमा करेगी। हमने एक फॉर्मूला तैयार किया है जिसमें कोष के आधार पर ब्याज का बोझ बैंक, भुगतान पक्ष और भुगतान पाने वालों के बीच साझा किया जाएगा। यह कोष एमएसएमई कंपनियों का लोक उपक्रमों, केंद्र और राज्य सरकारों पर बकाये को चुकाने के काम आएगा।

फंड से बाजार में नकदी बढ़ेगी
भारतीय वाणिज्य एंव उद्योग मंडल (एसोचैम) के सदस्यों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान गडकरी ने भारतीय उद्योगों से बड़ी वैश्विक कंपनियों के साथ पूंजी निवेश के लिए संयुक्त उपक्रम बनाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि इस कोष से एमएसएमई कंपनियों की एक सीमा तक मदद की जा सकेगी। यह समय के साथ काम करने वाला कोष होगा, इसलिए इससे बाजार में अतिरिक्त नकदी पहुंचाने में भी आसानी होगी। ये फंड एक मोबाइल फंड होगा जो बाजार में नकदी बढ़ाने में मदद करेगा। उन्होंने इस बात का भी सुझाव दिया कि औद्योगिक संगठन को चीन में मौजूदगी रखने वाले अमेरिका, ब्रिटेन और अन्य उद्योगों की जानकारी एकत्रित करनी चाहिए और उन्हें भारत में कारोबार के लिए आमंत्रित करना चाहिए।

गडकरी ने कहा कि वे इस संबंध में सभी आवश्यक अनुमतियों में तेजी लाने के लिए इस पहल की निगरानी करने के लिए तैयार हैं। एमएसएमई की नकदी के मुद्दे को कम करने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ जीएसटी और आयकर रिफंड में तेजी लाने के मुद्दे को उठाएंगे। मार्च में, गडकरी ने कहा था कि सरकारी और निजी उपक्रमों का एमएसएमई पर लगभग 6 लाख करोड़ रुपए बकाया है।

देश में कोरोनावायरस से मौतें
देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 24 हजार 530 हो गई है। इनमें 18,252 की रिपोर्ट पॉजीटिव है। वहीं 5,498 संक्रमित ठीक हो गए हैं। देश में अब तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 780 हो चुकी है। ये आंकड़े covid19india.org के अनुसार हैं। इससे पहले शुक्रवार को 1408 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। महाराष्ट्र में 390, गुजरात में 191, दिल्ली में 138, तमिलनाडु में 72, उत्तरप्रदेश में 111, राजस्थान में 44, बिहार में 53 और ओडिशा में एक मामला सामने आया। ये आंकड़े covid19india.org और राज्य सरकारों से मिली जानकारी के अनुसार हैं।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *