Pages Navigation Menu

Breaking News

कोरोना वायरस; अच्‍छी खबर, भारत में ठीक हुए 100 मरीज

1.7 लाख करोड़ का कोरोना पैकेज, वित्त मंत्री की 15 प्रमुख घोषणाएं

भारतीय वैज्ञानिक ने तैयार की कोरोना वायरस टेस्टिंग किट

दिल्ली हिंसा में शामिल 106 लोग गिरफ्तार, 18 FIR दर्ज: दिल्ली पुलिस

Delhi-Riots_56_20200226_267_400उत्तर-पूर्वी दिल्ली में नागरिकता कानून को लेकर भड़की हिंसा में कथित संलिप्तता के लिए 106 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में अभी तक कुल 18 एफआईआर दर्ज की गई है। यह जानकारी अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) मंदीप सिंह रंधावा ने दी। उन्होंने कहा कि मुश्किल में फंसे लोग हेल्पलाइन नंबर पर जानकारी भी भेज सकते हैं।मंदीप सिंह रंधावा ने मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘बुधवार को कोई भी अप्रिय घटना नहीं हुई और उत्तर-पूर्वी दिल्ली से आने वाली पीसीआर कॉल भी कम हो गई है।’उन्होंने बताया कि पुलिस ने मुश्किल में फंसे लोगों को संपर्क करने के वास्ते दो हेल्पलाइन नंबर- 011-22829334, 22829335 जारी किए हैं।

नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करने वाले और विरोध करने वालों ने नॉर्थ ईस्ट दिल्ली को हिंसा की आग में झोंक दिया। नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के कई इलाकों में बीते तीन दिनों से जारी हिंसा में अब तक 22 लोगों की जान चली गई है, जिसमें एक पुलिसकर्मी भी शामिल हैं।रविवार से जारी हिंसा में अब तक करीब 250 से अधिक लोग घायल हो गए हैं, जिनमें करीब 56 से अधिक पुलिस के जवान हैं। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर नॉर्थ ईस्ट दिल्ली यानी उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर और चांदबाग में रविवार, सोमवार और मंगलवार को लगातार हिंसा हुई, जिसकी वजह से प्रशासन ने धारा 144 लगा दिया है और पुलिस की भारी तैनाती की है।

हिंसा प्रभावित इलाकों के दौरे के बाद अमित शाह से मिले अजित डोभाल

dhovalराष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने बुधवार (26 फjवरी) को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को उत्तर पूर्व दिल्ली की वर्तमान कानून व्यवस्था की स्थिति के बारे में बताया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। इसके पहले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोभाल ने दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक करने के बाद बुधवार (26 फरवरी) को कहा कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात नियंत्रण में है। साथ ही उन्होंने बुधवार दोपहर कुछ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा भी किया।

उत्तर पूर्वी दिल्ली में तीन दिन पहले शुरू हुई सांप्रदायिक हिंसा में अब तक कम से कम 22 लोगों की मौत हुई है और 200 से अधिक लोग घायल हुए हैं। जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, यमुना विहार, भजनपुरा, चांद बाग, शिव विहार मुख्य रूप से दंगों से प्रभावित हुए हैं। डोभाल को हिंसा को रोकने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। उन्होंने सीलमपुर में पुलिस उपायुक्त (उत्तर पूर्व) के कार्यालय में दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों के साथ बैठक की।

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) मनदीप सिंह रंधावा, नव नियुक्त विशेष पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव, विशेष पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) सतीश गोलचा, उत्तर पूर्वी दिल्ली के डीसीपी वेद प्रकाश आर्य भी बैठक में शामिल थे। यह बैठक 30 मिनट से अधिक समय तक चली। डोभाल ने मंगलवार (25 फऱवरी) देर रात भी दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ इसी तरह की बैठक की थी।

बैठक के बाद डोभाल हालात का जायजा लेने के लिए जाफराबाद और मौजपुर गए। उन्होंने स्थानीय लोगों से बातचीत की और इलाके में शांति सुनिश्चित करने के बारे में उन्हें आश्वस्त किया। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ”स्थिति नियंत्रण में है और लोग संतुष्ट हैं। हमें कानून लागू करने वाली एजेंसियों पर भरोसा है। पुलिस अपना काम कर रही है और सतर्क है।”

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *