Pages Navigation Menu

Breaking News

कोरोना वायरस; अच्‍छी खबर, भारत में ठीक हुए 100 मरीज

1.7 लाख करोड़ का कोरोना पैकेज, वित्त मंत्री की 15 प्रमुख घोषणाएं

भारतीय वैज्ञानिक ने तैयार की कोरोना वायरस टेस्टिंग किट

दिल्ली चुनाव ; कांग्रेस के 63 उम्मीदवारों की जमानत जब्त

rahul-sad_660_120913071140नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन किया है और कुल हुए मतदान में से पार्टी को पांच फीसदी से भी कम वोट मिले हैं। कांग्रेस के 63 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई है। पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के नेतृत्व में दिल्ली में 15 साल तक शासन करने वाली कांग्रेस लगातार दूसरी बार विधानसभा चुनाव में एक भी सीट जीतने में नाकाम रही है। पार्टी के तीन उम्मीदवार– गांधी नगर से अरविंदर सिंह लवली, बादली से देवेंद्र यादव और कस्तूरबा नगर से अभिषेक दत्त — ही अपनी जमानत बचा पाएकुल हुए मतदान में से पार्टी को पांच फीसदी से भी कम वोट मिले हैं। कांग्रेस के 63 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई है। पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के नेतृत्व में दिल्ली में 15 साल तक शासन करने वाली कांग्रेस लगातार दूसरी बार विधानसभा चुनाव में एक भी सीट जीतने में नाकाम रही है। पार्टी के तीन उम्मीदवार– गांधी नगर से अरविंदर सिंह लवली, बादली से देवेंद्र यादव और कस्तूरबा नगर से अभिषेक दत्त — ही अपनी जमानत बचा पाए हैं।यदि किसी उम्मीदवार को निर्वाचन क्षेत्र में डाले गए कुल वैध मतों का छठा भाग नहीं मिलता है, तो उसकी जमानत जब्त हो जाती है। कांग्रेस के अधिकतर प्रत्याशियों को पांच प्रतिशत से भी कम वोट मिले हैं। दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा की बेटी शिवानी चोपड़ा की कालकाजी सीट से जमानत जब्त हो गई। विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष योगानंद शास्त्री की बेटी प्रियंका सिंह की भी जमानत जब्त हो गई है। कांग्रेस प्रचार समिति के अध्यक्ष कीर्ति आज़ाद की पत्नी पूनम आजाद भी संगम विहार से अपनी जमानत नहीं बचा पाईं। उन्हें केवल 2,604 वोट यानी मात्र 2.23 फीसदी वोट ही मिले।(

सीट जीतने वाला प्रत्याशी कांग्रेस प्रत्याशी (वोट/प्रतिशत)
गांधी नगर अनिल कुमार बाजपेयी (भाजपा) अरविंदर सिंह लवली (21818/19%)
बादली अजेश यादव (आप) देवेंद्र यादव (27,449/20%)
कस्तूरबा नगर मदन लाल (आप) अभिषेक दत्त (19586/19%)

70 में से 16 सीटों पर 15% से 50% तक मुस्लिम आबादी, आप 12 पर जीती

विधानसभा की 70 में से 16 सीटें ऐसी हैं, जो मुस्लिम बहुल हैं। इन सीटों पर 15% से लेकर 50% तक की आबादी मुस्लिम है। इन 16 सीटों में से आप 12 पर जीती है, जबकि 4 पर भाजपा सफल हुई है। पिछले चुनाव में भाजपा ने इन 16 में से सिर्फ एक ही मुस्तफाबाद सीट जीती थी। लेकिन, इस बार मुस्तफाबाद सीट भाजपा के हाथ से निकल गई। यहां से आप जीती है। वहीं, तीन सीटों विकासपुरी, मादीपुर और रिठाला में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर और सांसद प्रवेश वर्मा ने रैली की, यहां भाजपा हार गई। विकासपुरी में सांसद वर्मा ने कहा था कि शाहीन बाग वाले आपके घरों में घुस जाएंगे और मांओं-बहनों से रेप कर लेंगे। वहीं, अनुराग ने रिठाला की रैली में नारा लगवाया- ‘देश के गद्दारों को…’, ‘गोली मारो…।’

इन 16 सीटों पर क्या हाल?

विधानसभा सीट आबादी 2020 के नतीजे 2015 के नतीजे
चांदनी चौक 20% आप आप
मटिया महल 48% आप आप
बल्लीमारान 38% आप आप
सीमापुरी  25% आप आप
सीलमपुर 50% आप आप
घौंडा  15% भाजपा आप
बाबरपुर 35% आप आप
मुस्तफाबाद 36% आप भाजपा
करावल नगर 20% भाजपा आप
ओखला 43% आप आप
त्रिलोकपुरी 18% आप आप
गांधी नगर 22% भाजपा आप
किराड़ी 30% आप आप
विकासपुरी 28% आप आप
संगम विहार 15% आप आप
बदरपुर 15% भाजपा आप
Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *