Pages Navigation Menu

Breaking News

कोरोना से ऐसे बचे;  मास्क लगाएं, हाथ धोएं , सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और कोरोना वैक्सीन लगवाएं

 

बंगाल हिंसा: पीड़ित परिवारों से मिले राज्यपाल धनखड़, लोगों के छलके आंसू

हमास के सैकड़ों आतंकवादियों को इजराइल ने मार गिराया

सच बात—देश की बात

गंगा जल का अपमान,अखिलेश यादव माफी मांगें

yogi-vs-akhileshअयोध्या. सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सैफई दौरे के बाद हेलीकॉप्टर उतरने के स्थल पर गंगाजल से समाजवादी के पार्टी के कार्यकर्ताओं ने स्वच्छ किया था, जिसके बाद अयोध्या के संतो ने इस खबर को संज्ञान में लेकर अपना विरोध दर्ज कराया है. संतों ने कहा है कि यह गंगाजल और संत समाज दोनों का अपमान है. समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को संतो ने गुंडों तथा ऊंची मानसिकता का शिकार बताया है. संत समिति ने इसका पुरजोर विरोध करते हुए कहा कि यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का मुख्यमंत्री आवास में प्रवेश करते समय गंगाजल के छिड़काव की प्रक्रिया है. जबकि अखिलेश यादव को यह नहीं मालूम कि यह संत की प्रवृत्ति होती है.

हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि सैफई में किसी मुख्यमंत्री ने 28 वर्षों बाद दौरा किया था. समाजवादी पार्टी पर हमलावर होते हुए बोले कि यह दुर्भाग्यपूर्ण आपका व्यवहार है और यह मां गंगा का अपमान है. समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को गुंडा शब्द से संबोधित करते हुए महंत राजू दास ने कहा कि हेलीपैड पर गंगाजल का छिड़काव किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है. हम इसकी पुरजोर विरोध करते हैं और निंदा करते हैं महंत राजू दास ने आगे आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में मौजूदा समय में योगी की सरकार है किसी भोगी की नहीं यहां पर संतों की सरकार है. बार बालाओं की सरकार नहीं है, जिस तरह से संतों का अपमान हुआ है और मां गंगा का अपमान हुआ है.

यह दुर्भाग्यपूर्ण है पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि पूर्व में गुंडे जेल से अपराध करते थे. इस सरकार में जेल जाने से डरते हैं समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव पर हमलावर बोलते हुए बोले कि इस तरीके का जो कुकृत्य है वह बेहद ही निंदनीय है अखिलेश यादव से मांग की है कि उन्हें साधु संतों से और हिंदू जनमानस से क्षमा मांगनी चाहिए. वही संत समिति के अध्यक्ष कन्हैया दास ने कहा कि समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं के द्वारा किया गया यह कार्य बेहद ही हास्य पद और निंदनीय है साथी समाजवादी पार्टी के ओछी मानसिकता का परिचायक है.

संत समिति के अध्यक्ष कन्हैया दास ने समाजवादी पार्टी पर हमलावर होते हुए कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जिस जगह पर हेलीकॉप्टर उतरा वहां पर गंगाजल का छिड़काव यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री आवास में प्रवेश के समय जिस तरह से मुख्यमंत्री आवास को गंगाजल से शुद्ध किया था उसी की नकल है, यह संत की प्रवित्ति है. परंतु ऐसा लगता है कि अखिलेश यादव साधु बनने की प्रक्रिया के लिए तैयार हैं. अखिलेश यादव को नसीहत देते हुए संत समिति के अध्यक्ष कन्हैया दास ने कहा कि अगर साधु बनना चाहते हैं तो अयोध्या आकर सरयू का स्नान करें.
तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सफाई दौरे के बाद जहां पर मुख्यमंत्री का हेलीकॉप्टर उतरा था. उस जगह पर गंगाजल का छिड़काव किया है. गौ गंगा भारतीय संस्कृति के आधार है गंगा के प्रति निष्ठा होना अच्छी बात है परमहंस दास ने यादव समाज के लोगों पर अभद्र टिप्पणी करते हुए कहा कि अहीरों को बुद्धि 12:00 बजे के बाद आती है. यह मंदबुद्धि हैं. परमहंस दास ने उपहास उड़ाते हुए कहा कि जो काम मुख्यमंत्री के पहुंचने के पहले करना चाहिए था. उस काम को समाजवादी पार्टी के लोगों ने बाद में किया है.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »