Pages Navigation Menu

Breaking News

मोदी मंत्रिमंडल : 43 मंत्रियों की शपथ, 36 नए चेहरे, 12 का इस्तीफा

 

भारत में इस्लाम को कोई खतरा नहीं, लिंचिंग करने वाले हिन्दुत्व के खिलाफ: मोहन भागवत

देश में समान नागरिक संहिता हो; दिल्ली हाईकोर्ट

सच बात—देश की बात

बिहार BJP में कोरोना, एक साथ 75 नेता और कर्मचारी पॉजिटिव

BJP-Office-Patnaपटना: बिहार बीजेपी में कोरोना को लेकर हड़कंप मचा हुआ है. राजद-जदयू के बाद अब कोरोना ने भाजपा नेताओं को अपनी चपेट में ले लिया है। एक साथ 75 नेता और कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए हैं. कल सबका सैंपल लिया गया था. आज सुबह जांच रिपोर्ट आई है. कल 100 लोगों का सैंपल लिया गया था.संगठन महामंत्री नागेंद्र की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. नागेंद्र का कुछ माह पहले हार्ट का ऑपरेशन हुआ है. प्रदेश महासचिव देवेश कुमार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. उपाध्यक्ष राजेश वर्मा, पूर्व एमएलसी राधामोहन शर्मा भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. बीजेपी दफ्तर में काम करने वाले 3 कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.बिहार बीजेपी का प्रदेश कार्यालय संक्रमण क्षेत्र बन गया है. दफ्तर में सफाई करने वाले 3 कर्मी भी पॉजिटिव मिले हैं. हाल में क्षेत्रीय बैठक के दौरान नेताओं के संक्रमित होने की बात सामने आ रही है.

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने भी ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि लगभग 110 लोगों की जांच हुई, जिसमें सिर्फ पार्टी पदाधिकारी ही नहीं बल्कि कुछ स्टाफ, सुरक्षाकर्मी, आसपास के सफाईकर्मी और अन्य लोग भी थे। इनमें 24 लोग ए-सिम्प्टोमैटिक पाए गए। इनमें सिर्फ 5 लोग ही भाजपा के पदाधिकारी हैं।पिछले कुछ दिनों से पार्टी के कई पदाधिकारी और अन्य स्टाफ असहज महसूस कर रहे थे। यही नहीं, बाहर से आने वाले कई लोगों के बारे में कोरोना संक्रमित होने की खबर आने के बाद पार्टी ने सबकी जांच कराने का निर्णय लिया और सबकी जांच करायी गयी। इसमें संगठन महामंत्री नागेन्द्रनाथ, प्रदेश महामंत्री देवेश कुमार, उपाध्यक्ष राजेश वर्मा, राधामोहन शर्मा समेत 24 संक्रमित पाए गए। भाजपा ऑफिस में इस महीने कई महत्वपूर्ण आयोजन हुए हैं। इसमें क्षेत्रीय बैठकों के अलावा कई और बैठकें, प्रेस कॉन्फ्रेंस शामिल हैं। सभी 45 संगठन जिलों की बैठक भी लगातार पांच दिनों तक दो-दो, तीन-तीन शिफ्टों में आयोजित की गई। माना जा रहा है कि इसी क्रम में बाहर से संक्रमण पार्टी ऑफिस पहुंचा।उधर, पार्टी के कई और नेताओं, जिनकी कोरोना जांच नहीं हुई है, ने भी संक्रमण की आशंका जाहिर की है। कई की तबियत बिगड़ी भी है। इनमें से कई ने खुद को होम क्वारैंटाइन कर लिया है।ऑफिस में इतने बड़े पैमाने पर संक्रमण के बाद पार्टी परेशान है। कारण पार्टी के वरीय नेताओं को संक्रमण का खतरा है। इस महीने पार्टी ऑफिस में आयोजित कार्यक्रमों में बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव के अलावा उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, मंत्री नंदकिशोर यादव और प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल समेत कई मंत्री भी शामिल हुए हैं। ये बैठकों में लगातार मौजूद रहे थे।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »