Pages Navigation Menu

Breaking News

5 अगस्त को राम मन्दिर निर्माण की शुरूआत करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

चांदी की ईंटों से अयोध्या में रखी जाएगी राम मंदिर की नींव

राममय अयोध्या में साधु—संतों ने डाला डेरा

सीएए का विरोध- प्रदर्शन करों 500, 700 रुपए लो …?

protestनई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी  के विरोध में पिछले एक महीने से दिल्ली  के शाहीन बाग  में लगातार धरना प्रदर्शन चल रहा है। यहां बड़ी संख्या में महिलाएं 35 दिनों से कालिंदी कुंज- नोएडा मेन रोड का घेराव करके बैठी हैं। आंदोलन पर बैठी महिलाओं का कहना है कि जब तक सरकार इस विवादास्पद संशोधन को वापस नहीं लेगी तब तक वह यहां से हिलेंगी भी नहीं। इसी बीच भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने धरने पर बैठी औरतों को लेकर सनसनीखेज खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा प्रायोजित ‘शाहीन बाग प्रदर्शन’ पैसे लेकर किया जा रहा है।

मालवीय ने किया ट्वीट

मालवीय ने अपने ट्विटर अकाउंट पर करीब डेढ़ मिनट का एक वीडियो शेयर करते हुए कहा कि दिल्ली के शाहीन बाग में चल रहा धरना प्रदर्शन असल में कांग्रेस का एक खेल है। यहां प्रदर्शन स्थल पर महिलाएं शिफ्ट में आती हैं और उन्हें 500-1200 रुपए दिए जाते हैं। वहीं, प्रदर्शन स्थल के बाहर जितनी भी दुकाने हैं उनसे किराया नहीं लिया जा रहा है। जबकि उन दुकानों का किराया एक से डेढ़ लाख रुपए के बीच है।

वीडियो ने खोली प्रदर्शन की पोल
अमति मालवीय ने जो वीडियो शेयर किया है उसमें एक युवक अन्य शख्स को इस पूरे धरना प्रदर्शन का खेल समझा रहा है। उसने बताया कि यहां पर जितनी भी दुकानें हैं उनका एक से डेढ़ लाख रुपए का किराया मकान मालिक ने माफ कर दिया। इसके अलावा शख्स ने बताया कि यहां कालिंदी कुंज में जो भी महिलाएं धरने पर बैठी हैं वह सभी 500, 700 रुपए ले रही हैं। इन सभी लोगों की शिफ्ट चेंज होती है। मतलब लोग पूरे होने चाहिए, कम नहीं होने चाहिए। जैसे एक हाजार लोगों की जरूरत हैं तो एक हजार लोग वहां होने चाहिए। अगर 500 सौ महिलाएं प्रदर्शन स्थल से जाएंगी तो दूसरी 500 महिलाएं वहां आकर बैठ जाएंगी। यहां शिफ्ट बदली जाती है। वहां जितनी बार जाओगे लोग अलग-अलग दिखाई देंगे।” वीडियों में आगे युवक बोल रहा है कि यहां सबको चाय, बिरयानी अन्य खाना चल रहा है। घर पर जाओ खाना बना कर वापस आकर बैठ जाओं और मुफ्त में 500 रुपए ले जाओं, क्या दिक्कत आ रही है। कालिंदी कुंज, जामिया, बटला के बाहर के जितने भी रास्ते है सब बंद कर रखे है। ये लोग बस पैसा कमा रहे हैं। अपने एक-एक साल के बच्चों को लेकर बैठे हैं और 500 मिल रहे हैं मुफ्त में। वीडियो के अंत में एक शख्त बोलता है कि कांग्रेस का खेल है ये सब। अमित मालवीय ने ये वीडियो 15 जनवरी, 2020 को शेयर किया है।

दिन में कराया खाली रात में फिर कब्जा
बता दें कि पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे लोगों से दिन के वक्त एक तरफ की सड़क को मंगलवार को खाली करवा लिया था और बुधवार को उसे आम लोगों के लिए खोला जाना था। इसके लिए पुलिस ने इलाके के व्यापारिक संगठनों, धार्मिक नेताओं और समुदाय के बड़े लोगों से बात की थी। अब पुलिस बुधवार को फिर से शांतिपूर्ण माहौल में अवरुद्ध मार्ग को खोलने का प्रयास करगी।

पुलिस ने ये कार्रवाई दिल्ली हाईकोर्ट  के निर्देश के बाद की थी। इस बारे में दी गई जनहित याचिका में याची वकील और सामाजिक कार्यकर्ता अमित साहनी ने कहा कि प्रदर्शन के कारण पिछले 27 दिनों से कालिंदी कुंज-शाहीन बाग रोड बंद है। इसकी वजह से लाखों लोगों को अपने गंतव्यों तक पहुंचने में भारी परेशानी हो रही है। यह मार्ग बंद होने की वजह से दूसरे वैकल्पिक रास्तों पर भारी जाम है। याची ने मांग की है कि कोर्ट द्वारा दिल्ली पुलिस को इस मार्ग को खुलवाने का आदेश दिया जाए ताकि लोगों को इस परेशानी से निजात मिल सके। इस संबंध में कोर्ट के द्वारा पुलिस आयुक्त को निर्देश दिए जाए।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *