Pages Navigation Menu

Breaking News

अयोध्या विकास प्राधिकरण की बैठक में सर्वसम्मति से राम मंदिर का नक्शा पास

मानसून सत्र 14 सितंबर से 1 अक्टूबर तक चलेगा, दोनों सदन अलग-अलग समय पर चलेंगे

  7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं होंगी शुरू, 12 सितंबर तक सभी मेट्रो लगेंगीं चलने 

भारतीय सैनिकों की बहादुरी को अमेरिका का सलाम

amirica pompeo19_20412430नई दिल्ली। लद्दाख की गलवन घाटी में चीनी सैनिकों के साथ खूनी झड़प में वीरगति पाने वाले भारतीय जवानों के प्रति अमेरिका ने गहरी संवेदना प्रकट की है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने कहा कि गलवन में जवानों की क्षति पर हम सभी भारतीयों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हैं। उनकी बहादुरी को सलाम करते हैं। हवाई में चीन के राजनयिक यांग जिची से मुलाकात के बाद पोंपियो ने एक ट्वीट में ये उद्गार व्यक्त किए।उन्होंने कहा कि हम इन बलिदानी जवानों के परिवार, स्वजन और उनके समुदाय को याद रखेंगे। अमेरिकी विदेश विभाग ने हालांकि यह स्पष्ट नहीं किया कि चीन के राजनयिक से पोंपियो की मुलाकात के दौरान भारत व चीन के संघर्ष का मुद्दा उठा या नहीं।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने  शहीदों को नमन किया. माइक पोम्पियो ने लिखा, ‘..चीन के साथ हुए विवाद में भारत के जिन जवानों की जान गई है, उन्हें हम श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं.

गलवन में भारत-चीन के बीच हुए खूनी संघर्ष पर अमेरिका नजर रखे हुए है- ट्रंप

एक दिन पूर्व व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कायले मैक्केननी की तरफ से कहा गया था कि राष्ट्रपति ट्रंप को गलवन में भारत-चीन के बीच हुए खूनी संघर्ष की जानकारी है। हम लोग स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। हमें भारतीय सेना के बयान से 20 जवानों के बलिदान की जानकारी मिली है। हम उन्हें दिल से श्रद्धांजलि देते हैं। उन्होंने कहा कि भारत-चीन के बीच मध्यस्थता की हमारे पास फिलहाल कोई योजना नहीं है।उन्होंने बताया कि गत 2 जून को राष्ट्रपति ट्रंप के साथ पीएम नरेंद्र मोदी की फोन पर हुई बातचीत में भारत-चीन सीमा मसले पर भी बात हुई थी।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *