Pages Navigation Menu

Breaking News

कोरोना वायरस; अच्‍छी खबर, भारत में ठीक हुए 100 मरीज

1.7 लाख करोड़ का कोरोना पैकेज, वित्त मंत्री की 15 प्रमुख घोषणाएं

भारतीय वैज्ञानिक ने तैयार की कोरोना वायरस टेस्टिंग किट

चांद बाग नाले में मिला खुफिया विभाग के कांस्टेबल का शव

constable-ankit-sharma_1582705179दिल्ली की चांद बाग पुलिया के पास बहने वाले नाले से बुधवार दोपहर खुफिया विभाग(आइबी) के कांस्टेबल का शव मिलने से सनसनी फैल गई। मृतक कांस्टेबल अंकित शर्मा खजूरी में रहते थे। मंगलवार शाम वह ड्यूटी से घर लौट रहे थे। आरोप है कि इसी दौरान चांद बाग पुलिया पर कुछ लोगों ने उन्हें घेर लिया। लोगों ने पीट-पीट कर उनकी हत्या कर दी और इसके बाद शव को नाले में फेंक दिया। अंकित घर नहीं पहुंचे तो परिजन परेशान हो गए। परिजन मंगलवार से ही उनकी तलाश में थे। अंकित के पिता रविंदर शर्मा भी आइबी में हेड कांस्टेबल हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि पिटाई के साथ ही अंकित को गोली भी मारी गई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए जीटीबी अस्पताल भेज दिया है।नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद और मौजपुर में मंगलवार को लगातार दूसरे दिन जमकर उपद्रव मचा। उपद्रवियों ने सोमवार को भी कई घरों, दुकानों और कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया था। पुलिस पर पथराव और गोलियां भी चलाई गई थीं।इन हिंसक प्रदर्शनों के दौरान गोकुलपुरी इलाके में गोली लगने से हेड कांस्टेबल रतन लाल की मौत हो गई, जबकि शाहदरा के डीसीपी अमित शर्मा घायल हो गए थे। पुलिस के मुताबिक, हेड कांस्टेबल सहायक उपायुक्त कार्यालय से जुड़े थे।वहीं, डीसीपी शर्मा के हाथ और सिर में चोटें आई हैं, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। मंगलवार सुबह डीसीपी की हालत में सुधार हुआ। वहीं, मृतक हवलदार रतनलाल (42) परिवार में कमाने वाले इकलौते थे। वे पत्नी और तीन बच्चों के साथ बुराड़ी में रहते थे।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *