Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

समलैंगिक-धारा 377 का पूरा इतिहास

Posted by on Sep 11, 2018 in News & Views, कानून, विविध | 0 comments

नई दिल्ली: समलैंगिक यौन संबंधों को अपराध की श्रेणी में रखने वाली IPC की धारा 377 को आंशिक रूप से निरस्त करने वाले सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में 158 साल पुराने इस प्रावधान के इतिहास का जिक्र किया जिसे...

Read More

एससी/एसटी कानून मामला फिर सुप्रीम कोर्ट में

Posted by on Sep 7, 2018 in कानून, फीचर | 0 comments

नई दिल्‍ली: एससी/एसटी कानून का मामला फिर सुप्रीम कोर्ट के पाले पहुंच गया है. इस बार मामला पिछले से कुछ अलग है. कानून में संशोधन वाला जो विधेयक केंद्र सरकार ने पारित किया है, उस पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र...

Read More

रियल एस्टेट में आम्रपाली जैसा फ्रॉड नहीं देखा : सुप्रीम कोर्ट

Posted by on Sep 5, 2018 in कानून, फीचर | 0 comments

नोएडा ।खरीदारों को फ्लैट देने में नाकाम आम्रपाली ग्रुप को सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को फटकार लगाई। कोर्ट ने कहा कि यह बहुत बड़ा फ्रॉड है। रियल एस्टेट में हमने पहले कभी ऐसा नहीं देखा। अगर 100 लोग भी जेल...

Read More

महिलाओं का खतना निजता का उल्लंघन; सुप्रीम कोर्ट

Posted by on Jul 31, 2018 in कानून | 0 comments

दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय में महिलाओं का खतना करने की प्रथा पर सुप्रीम कोर्ट ने गंभीर टिप्पणी की है. कोर्ट ने कहा है कि महिलाओं की खतना सिर्फ इसलिए नहीं की जा सकती है, क्योंकि उन्हें शादी करनी है. इस...

Read More

पत्नी को है पति का वेतन जानने का अधिकार: हाई कोर्ट

Posted by on May 28, 2018 in कानून, राष्ट्र | 0 comments

भोपाल मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि पत्नी को यह जानने का अधिकार है कि उसके पति का वेतन कितना है। डबल बेंच ने कहा है कि पत्नी को तीसरा पक्ष मानकर पति की वेतन संबंधित जानकारी देने...

Read More

व्यभिचार के लिए सिर्फ पुरुष ही जिम्मेदार क्यों?

Posted by on Jan 28, 2018 in News & Views, कानून | 0 comments

सुप्रीम कोर्ट ने भारतीय दंड संहिता यानी आइपीसी की धारा 497 को संवैधानिकता के सवाल पर न केवल सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया बल्कि इसे पांच सदस्यीय संवैधानिक पीठ को भी सौंप दिया है। माननीय न्यायालय का मत है...

Read More