Pages Navigation Menu

Breaking News

31 दिसंबर तक बढ़ी ITR फाइलिंग की डेडलाइन

 

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए ना हो; पीएम नरेंद्र मोदी

सच बात—देश की बात

सीबीएसई ने 2021 बोर्ड परीक्षा के लिए पेपर पैटर्न में किया बदलाव

cbse-620x400सीबीएसई ने वर्ष 2021 में होने वाली 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए 30 फीसदी सिलेबस कम किया था। कोविड-19 के कारण सत्र में देरी होने और समय कम बचने के कारण यह फैसला लिया गया था। अब बोर्ड ने अगले साल होने वाली परीक्षा के क्वेश्चन पेपर पैटर्न में भी बदलाव किया है।बोर्ड द्वारा 2021 परीक्षा के लिए सैंपल पेपर्स भेजे जाने के बाद स्कूलों ने इस संबंध में जानकारी दी है। स्कूलों ने बताया है कि कक्षा 12वीं के क्वेश्चन पेपर्स में इस बार मल्टीपल च्वाइस क्वेश्चन्स (MCQs) को ज्यादा वेटेज दिया गया है। वहीं, केस स्टडीज आधारित सवालों का वेटेज भी बढ़ा है।(file photo )

कक्षा 10वीं और 12वीं के सैंपल पेपर्स (CBSE class 10th and 12th sample papers) जारी होने के बाद स्कूलों ने बताया है कि मल्टीपल च्वाइस क्वेश्चन्स का वेटेज 10 फीसदी तक बढ़ाया गया है। पहले जहां नॉलेज आधारित सवाल पूछे जाते थे, अब बोर्ड अंडरस्टैंडिंग और एप्लीकेशन बेस्ड सवालों पर शिफ्ट हो रहा है।फीजिक्स जैसे विषय में थिंकिंग स्किल्स और रीजनिंग आधारित सवाल शामिल किए गए हैं। वहीं, बायोलॉजी में एमसीक्यू को शॉर्ट आंसर टाइप सवालों से बदला गया है। मैथ्स में सवालों की संख्या 36 से बढ़ाकर 38 की गई है।

ये हैं अहम बदलाव

मल्टीपल च्वाइस सवालों को ज्यादा वेटेज।
इंग्लिश में करीब 50 फीसदी सवाल एमसीक्यू।
मैथ्स और फीजिक्स में केस स्टडी बेस्ड सवाल।
फीजिक्स में असर्शन, रीजनिंग बेस्ड सवाल।
बायोलॉजी में एमसीक्यू की जगह शॉर्ट आंसर टाइप क्वेश्चन्स (1-1 अंक के)।

इन सवालों की संखया 5 से बढ़ाकर 14 की गई है।

इकोनॉमिक्स में एमसीक्यू की संख्या 8 से बढ़ाकर 20 की गई है।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »