Pages Navigation Menu

Breaking News

अयोध्या विकास प्राधिकरण की बैठक में सर्वसम्मति से राम मंदिर का नक्शा पास

मानसून सत्र 14 सितंबर से 1 अक्टूबर तक चलेगा, दोनों सदन अलग-अलग समय पर चलेंगे

  7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं होंगी शुरू, 12 सितंबर तक सभी मेट्रो लगेंगीं चलने 

भारतीय सैनिकों ने चीन के कर्नल को ज़िंदा पकड़ा

India-China-Ladakh-990x539नई दिल्ली: सीमा विवाद पर अब तक की सबसे बड़ी खबर आपको बताने जा रहे हैं. गलवान में चीन के सैनिक भारत के कब्जे में थे. लद्दाख में भारतीय सैनिकों ने चीन के कर्नल को ज़िंदा पकड़ा था. भारतीय सेना के 3 मीडियम रेजिमेंट के जवानों ने चीन के कर्नल को बंधक बनाया था. सूत्रों के मुताबिक, झड़प में चीन के 45 से 50 सैनिक मारे गए थे.

गलवान का पूरा ‘सच’
LAC पर सोमवार रात चीन के निर्माण कार्य की वजह से झड़प हुई थी. LAC पर चीन की निर्माण की कोशिश को भारतीय सेना ने रोका. सैनिकों की बहादुरी की वजह से चीन LAC पार नहीं कर पाया. सैनिकों के बलिदान की वजह से चीन घुसपैठ नहीं कर पाया. चीन ने हमारी सीमा में घुसने की कोशिश की, उन्हें करारा जवाब दिया गया. LAC पर किसी भी तरह का एकतरफा बदलाव बर्दाश्त नहीं. 60 साल में हमारी 43 हजार वर्ग किमी जमीन पर चीन ने कब्जा किया हुआ है. बेवजह विवाद से सैनिकों का मनोबल गिराने की कोशिश हो रही है.

चीन पर प्रधानमंत्री का संदेश: 
पीएम मोदी ने सर्वदलीय बैठक के बाद देश के नाम संबोधन में चीन पर कहा था कि कोई घुसपैठ नहीं जिससे हमारी पोस्ट पर कब्जा हुआ हो. 20 वीर सैनिकों ने दुश्मन को सबक सिखाया, उन्हें बड़ी कीमत चुकानी पड़ी. हमारी सेना हर हालात के लिए तैयार और सक्षम है. सेना को हमने उचित कार्रवाई की खुली छूट दी है. हम चाहते हैं कि शांति और कूटनीतिक प्रयास से मुद्दे सुलझें. संप्रभुता सर्वोपरि है, सीमा पर 5 साल हमने विकास किया है. बेहतर इंफ्रास्ट्रक्चर चीन की हरकत पर नजर रखने में मददगार है. बाहरी दबाव में भारत कभी नहीं झुका, इस बार भी ऐसा ही होगा.

एयरफोर्स  के जवानों की छुट्टियां रद्द
इसे आप चीन के खिलाफ भारत की निर्णायक तैयारी कह सकते हैं क्योंकि याद कीजिए पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कह दिया था की सेना को चीन के खिलाफ खुली छूट दी गई है. वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया कल ही कह चुके हैं कि वायुसेना किसी भी चुनौती के लिए तैयार हैं और बड़ी खबर ये भी है कि सूत्रों के मुताबिक एयरफोर्स  के जवानों की छुट्टियां रद्द कर दी गई है.

पूर्व भारतीय सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि भारतीय सेना ने चीनी सेना के साथ गलवान घाटी में हुई झड़प में 40 चीनी सैनिकों को मार गिराया था. मौजूदा समय में मोदी सरकार में मंत्री जनरल वीके सिंह ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि भारतीय सेना ने 40 चीनी सैनिकों को मार गिराने के अलावा कई को बंधक भी बनाया था. उन्होंने कहा कि भारत ने पीएलए सैनिकों को बाद में छोड़ दिया था.पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास भारतीय सैनिकों के साथ झड़प में सोमवार रात अनिर्दिष्ट संख्या (संख्या का सही अंदाजा नहीं) में चीनी सैनिकों की मौत हो गई. पूर्वी लद्दाख में दोनों देशों की सेनाओं की बीच तनाव बना हुआ है और दोनों पक्षों की सेनाएं मई महीने से ही आमने-सामने हैं.चीन ने उसके सैनिकों के हताहत होने के बारे में चुप्पी साध रखी है, मगर सत्तारूढ़ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीसीपी) के आधिकारिक अखबार पीपुल्स डेली द्वारा प्रकाशित ग्लोबल टाइम्स ने स्वीकार किया कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिक भी मारे गए हैं.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *