Pages Navigation Menu

Breaking News

सीबीआई कोर्ट ;बाबरी विध्वंस पूर्व नियोजित घटना नहीं थी सभी 32 आरोपी बरी

कृष्ण जन्मभूमि विवाद- ईदगाह हटाने की याचिका खारिज

सिनेमा हॉल, मल्टीप्लैक्स, इंटरटेनमेंट पार्क 15 अक्टूबर से खोलने की इजाजत

हिंसा दुर्भाग्यपूर्ण, अफवाह-झूठ से बचें; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

modi_imageनागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देश के कई हिस्सों में हो रहे हिंसक प्रदर्शन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया है. पीएम मोदी ने देश में शांति की अपील की है और हिंसक प्रदर्शन ना करने को कहा है. पीएम मोदी ने लिखा कि नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जो हिंसक प्रदर्शन हो रहा है वह निंदनीय है.प्रधानमंत्री ने लिखा, ‘बहस, चर्चा और असंतोष लोकतंत्र का हिस्सा है, लेकिन सार्वजनिक प्रॉपर्टी को नुकसाना पहुंचाना और आम जीवन को प्रभावित करना लोकतंत्र का हिस्सा नहीं है.’ प्रधानमंत्री ने लिखा कि ये वक्त शांति बरतने और एकता दिखाने का है. मैं सभी से अपील करता हूं कि ऐसे वक्त में किसी भी तरह की अफवाह और झूठ से बचें.पीएम ने लिखा, ‘नागरिकता संशोधन एक्ट, 2019 संसद के दोनों सदनों के द्वारा पास किया गया है. बड़ी संख्या में राजनीतिक दलों और सांसदों ने इस बिल का समर्थन किया है. ये एक्ट भारत की पुरानी संस्कृति जो कि भाईचारा सिखाती है, उसका संदेश देती है.’अपने संदेश में प्रधानमंत्री ने लिखा कि मैं भारत के सभी नागरिकों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि नागरिकता संशोधन एक्ट किसी भी धर्म के नागरिक को प्रभावित नहीं करता है. किसी भी भारतीय को इस एक्ट के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है. ये सिर्फ उनके लिए है जिन्होंने बाहर के देश में जुल्म झेला है और भारत के अलावा उनके लिए कोई जगह नहीं है.देशवासियों से पीएम ने अपील करते हुए लिखा कि समय की आवश्यकता है कि आज सभी भारत के विकास में काम करें और गरीब, पिछड़े लोगों को सशक्त करने के लिए एक हों. हम स्वार्थी समूहों को इस प्रकार हमें बांटने और अशांति पैदा करने की इजाजत नहीं दे सकते हैं.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *