Pages Navigation Menu

Breaking News

बंगाल में ममता,असम में बीजेपी, तमिलनाडु में डीएमके तो केरल में लेफ्ट की जीत

 

सुप्रीम कोर्ट में समय से पहले गर्मी की छुट्टियां, दिल्ली में एक सप्ताह और बढ़ा लॉकडाउन

एसबीआई ने आवास ऋण पर ब्याज दर 6.70 प्रतिशत की

सच बात—देश की बात

राशिद अल्वी ने कांग्रेस को दी नसीहत, आजाद ने की मोदी की तारीफ

alwiकपिल सिब्बल, गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा जैसे नेताओं के बाद अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राशिद अल्वी ने भी पार्टी को नसीहत देते हुए बीजेपी से सीख लेने को कहा है। अल्वी ने रविवार को कहा कि बीजेपी हर छोटे-बड़े चुनाव को जीतने के लिए दिन-रात मेहनत करती है। साथ ही यह भी कहा कि भगवा पार्टी से मुकाबले के लिए उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी 24 घंटे काम करने की जरूरत है।

राशिद अल्वी ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा, ”अमति शाह की अपनी रणनीति है और कांग्रेस पार्टी को चुनावों में जीत के लिए रणनीति बनाने की जरूरत है। सभी छोटे-बड़े चुनाव में पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिए बीजेपी के कार्यकर्ता दिन-रात मेहनत करते हैं।” कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी के कार्यकर्ता पार्टी की जीत सुनिश्चित करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ते हैं।

अल्वी ने आगे कहा, ”वे सभी कोशिश करते हैं। नैतिक-अनैतिक कामों में भी शामिल हो जाते हैं। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को कड़ी मेहनत करने की जरूरत है। 24X7 घंटे काम करना होगा और एक रणनीति बनानी होगी। केवल तभी हम उनसे मुकाबला कर सकते हैं।”

अल्वी का बयान ऐसे समय पर आया है जब आज ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने जम्मू में एक सभा के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की है। कांग्रेस से नाराज बताए जा रहे 23 नेताओं में शामिल आजाद ने कहा कि पीएम बन जाने के बावजूद मोदी अपनी जड़ों को नहीं भूले और खुद को चायवाला कहते हैं। आजाद सहित कई नेता कांग्रेस पार्टी में संगठन चुनाव और नेतृत्व के मोर्चे पर पार्टी को इन दिनों नसीहत देने में जुटे हुए हैं।

गुलाम नबी आजाद ने की मोदी की तारीफ

gulam navi azadकांग्रेस पार्टी से नाराज बताए जा रहे ‘ग्रुप-23′ के नेताओं में शामिल और हाल ही में राज्यसभा से रिटायर हुए गुलाम नबी आजाद ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की है। उन्होंने पीएम मोदी को जमीन से जुड़ा हुआ नेता बताते हुए कहा है कि लोगों को उनसे सीखना चाहिए कि कामयाबी की बुलंदियों पर जाकर भी कैसे अपनी जड़ों को याद रखा जाता है। उन्होंने पीएम मोदी के बचपन में चाय बेचने की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने अपनी असलियत नहीं छिपाई।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री आजाद ने यहां गुर्जर देश चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि किसी व्यक्ति को दुनिया से अपनी असलियत नहीं छिपानी चाहिए। उन्होंने कहा, ”मैं खुद गांव का हूं और मुझे इसका फक्र है। मैं अपने प्रधानमंत्री जैसे नेताओं की काफी प्रशंसा करता हूं जो कहते हैं कि वह गांव से हैं। वह चाय बेचते थे।’ आजाद ने कहा, ”मोदी के साथ मेरे राजनीतिक मतभेद हो सकते हैं लेकिन वह भी अतीत में चायवाला होने के बारे में खुल कर बात करते हैं।’गुलाम नबी आजाद के रिटायरमेंट पर राज्यसभा में पीएम मोदी ने उनकी जमकर तारीफ की थी और यहां तक की उनसे जुड़ी एक घटना को याद करके भावुक भी हो गए थे। पीएम मोदी ने आजाद को सैल्यूट किया था। बाद में गुलाम नबी आजाद भी भावुक हो गए थे। गुलाम नबी आजाद पार्टी के उन 23 नेताओं में प्रमुख चेहरा हैं जो संगठन चुनाव की मांग को लेकर मोर्चा खोल चुके हैं। एक दिन पहले ही इन नेताओं ने जम्मू में सभा की थी और कहा था कि वे कांग्रेस को मजबूत करना चाहते हैं।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »