Pages Navigation Menu

Breaking News

भारत ने 45 दिनों में किया 12 मिसाइलों का सफल परीक्षण

पाकिस्तान संसद ने माना, हिंदुओं का कराया जा रहा जबरन धर्मातरण

सिनेमा हॉल, मल्टीप्लैक्स, इंटरटेनमेंट पार्क 15 अक्टूबर से खोलने की इजाजत

गलवान पर कांग्रेस के मोदी से सवाल

sonia oppनई दिल्ली. गलवान में भारत और चीन के सैनिकों की झड़प पर कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर रुख अख्तियार किए हुए है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को भी केंद्र से सवाल किए। सोनिया ने कहा कि अगर हमारी जमीन चीन ने नहीं हथियाई है तो हमारे जवान कैसे शहीद हुए? राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सच बोलना ही होगा।कांग्रेस आज गलवान के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए देशभर में ‘शहीदों को सलाम’ मुहिम चला रही है।

रक्षा और विदेश मंत्री घुसपैठ पर बात कर रहे हैं- सोनिया
सोनिया गांधी ने कहा- प्रधानमंत्री बोल रहे हैं कि चीन ने घुसपैठ नहीं की है। दूसरी तरफ रक्षा मंत्री और विदेश मंत्री लगातार इस पर बात कर रहे हैं। आज जब हम अपने शहीदों को श्रद्धांजलि दे रहे हैं तो भारत यह जानना चाहता है कि कैसे और क्यों हमारे 20 जवान शहीद हुए? उन्होंने कहा- अगर लद्दाख में हमारी क्षेत्रीय संप्रभुता को चीन ने चुनौती दी है तो क्या प्रधानमंत्री सीमा के हालात पर पूरे देश को भरोसा दिलाएंगे।

प्रधानमंत्रीजी आप बिना डरे बोलिए, पूरा देश साथ खड़ा है- राहुल
राहुल ने वीडियो ट्वीट किया- हिंदुस्तान के वीर शहीदों को मेरा नमन। पूरा देश मिलकर एक साथ एक होकर सेना और सरकार से साथ खड़ा है। एक जरूरी सवाल है। कुछ दिन पहले प्रधानमंत्रीजी ने कहा था कि हिंदुस्तान की एक इंच जमीन कोई नहीं ले सकता। कोई हमारे देश में नहीं घुसा है। मगर सुनने को मिल रहा है, लोग कह रहे हैं, सैटेलाइट फोटो में दिखाई दे रहा है, लद्दाख की जनता कह रही है, आर्मी के जनरल कह रहे हैं कि चीन ने एक जगह नहीं तीन जगह चीन ने हमारी जमीन छीनी है। राहुल ने कहा- प्रधानमंत्रीजी आपको सच बताना होगा। घबराइए मत। अगर चीन ने जमीन छीनी है तो उसका फायदा होगा। आप सच बोलिए, बिना डरे बोलिए कि हां चीन ने जमीन ली है और हम कार्रवाई करने जा रहे हैं। पूरा देश आपके साथ खड़ा है। राहुल ने पीएम से एक और सवाल पूछा- हमारे जो भी शहीद हैं, उन्हें बिना हथियार किसने भेजा और क्यों भेजा?

मोदी ने कहा था- मारते-मारते मरे हैं हमारे जवान
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गलवान घटना पर 19 जून को सर्वदलीय बैठक में कहा था- जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। देश की संप्रभुता सर्वोच्च है। देश की सुरक्षा करने से हमें कोई भी रोक नहीं सकता। हमारे दिवंगत शहीद वीर जवानों के विषय में देश को इस बात का गर्व होगा कि वे मारते-मारते मरे हैं।
मोदी ने कहा था- हमारी सीमा में कोई दाखिल नहीं हुआ और ना ही किसी ने हमारी पोस्ट पर कब्जा किया है। हमारे देश के पास ऐसी क्षमता है कि कोई एक इंच जमीन की तरफ नजर नहीं उठा सकता।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *