Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

राहुल गांधी की ताजपोशीः भावुक हुईं सोनिया

Rahul Gandhi, Sonia Gandhiराहुल गांधी ने शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाल लिया. राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष पद का सर्टिफिकेट मिल गया है, जिसके बाद वो औपचारिक तौर पर पार्टी के अध्यक्ष बन गए हैं. सोनिया गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष निर्वाचित होने पर राहुल गांधी को बधाई, शुभकामनाएं और आशीर्वाद दिया. पार्टी के चुनाव अधिकारी एम. रामचंद्रन ने उन्हें यहां पार्टी मुख्यालय में एक समारोह में अध्यक्ष चुने जाने का प्रमाणपत्र दिया। इस समारोह में राहुल गांधी की मां एवं कांग्रेस की निवर्तमान अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पार्टी के कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोहरा, पार्टी महासचिव जनार्दन द्विवेदी, पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता तथा बड़ी संख्या में congress fourकार्यकर्ता मौजूद थे। इस मौके पर राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी वाड्रा और उनके पति रॉबर्ट वाड्रा भी मौजूद थे।इस दौैरान राहुल गांधी ने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि आज देश में लोगों को इसलिए पीटा जाता है कि उनका विश्वास अलग है और उनको खाने के लिए भी मार दिया जाता है। आज लोगों की सेवा के लिए राजनीति का उपयोग नहीं हो रहा है बल्कि जनता को कुचला जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश को आग ले जाना चाहती है, लेकिन प्रधानमंत्री पीछे ले जाते जा रहे हैं। बीजेपी के लोग पूरे देश में आग लगाने की कोशिश कर रहे हैं, वो लोग आग लगाते हैं, हम बुझाते हैं।राहुल गांधी के पदभार संभालने के लिए पार्टी मुख्यालय में आयोजित समारोह में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा। पार्टी मुख्यलय 24 अकबर रोड में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच बड़ी संख्या में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं कार्यकर्ता पहुंचे। सीमित लोगों के लिए जगह होने के कारण सभी कार्यकर्ता समारोह स्थल पर नहीं पहुंच पाए हैं। इस वजह से कार्यकर्ता पार्टी मुख्यालय के बाहर ढोल नगाड़ों के साथ जश्न मना congress threeरहे हैं। इनमें कुछ लोग आदिवासी वेशभूषा में नाच गाकर जश्न मना रहे हैं तो कुछ लोग भोले शंकर और हनुमान जी का भेष धारण कर खुशियां मना रहे हैं।  कांग्रेस मुख्यालय पर आज सुबह से लोगों का जमावड़ा होना शुरू हो चुका है। समर्थक गाजे बाजे और पोस्टर-बैनर के साथ पार्टी दफ्तर पहुंचे हैं। पार्टी मुख्यालय के पास सुरक्षा भी बढाई गई है। इसके लिए 24 अकबर रोड स्थित कांग्रेस दफ्तर पर एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया है जिसमें पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं के अलावा अन्य राज्यों के प्रमुख लीडर और कार्यकर्ता शामिल होंगे। इस ताजपोशी के साथ ही राहुल गांधी 132 साल पुरानी पार्टी की विरासत को संभाल लेंगे। राहुल की ताजपोशी के लिए कांग्रेस दफ्तर को सजा दिया गया है।भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

 

Sonia Gandhi gets felicitationराहुल की सहनशीलता पर गर्व

उन्होंने कहा, ‘मैं राहुल को अध्यक्ष बनने की शुभकामनाएं, बधाई और आशीर्वाद देती हूं. मैं एक मां के तौर पर राहुल की तारीफ नहीं करना चाहती. मुझे राहुल की सहनशीलता पर गर्व है जिससे वे निडर और साहसी बने हैं. राजनीति में आने पर राहुल ने ऐसे भयंकर व्यक्तिगत हमले का सामना किया जिसने उसे और निडर इंसान बनाया है. उन्होंने कहा कि एक नया दौर, एक नये नेतृत्व की उम्मीद आपके सामने है.”

अध्यक्ष पद संभालते वक्त दिल में थी घबराहट

उन्होंने कहा, ‘आज मैं आखिरी बार कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर संबोधित कर रही हूं. 20 साल पहले जब मुझे अध्यक्ष चुना गया, तब मेरे दिल में घबराहट थी, यहां तक कि मेरे हाथ कांप रहे थे. मेरे सामने बहुत कठिन कर्तव्य था.’

congress oneचाहती थी पति और बच्चों को राजनीति से दूर रखना

 उन्होंने कहा, ‘इंदिरा जी ने मुझे बेटी के रूप में अपनाया. जब उनकी की हत्या हुई तो मुझे मां खोने का गम हुआ. मैं राजनीति को अलग नजरिए से देखना चाहती थी, मैं अपने पति और बच्चों को राजनीति से दूर रखना चाहती थी. लेकिन इंदिरा और राजीव के बलिदान  को ठेस न पहुंचे इसलिए राजनीति में आईं.’

‘हम डरने वालों में से नहीं हैं’

सोनिया ने कहा कि सत्ता, स्वार्थ और शोहरत हमारा मकसद नहीं है. देश में भय का माहौल है, हम डरने और झुकने वाले नहीं हैं. कांग्रेस को अंतर्मन में झांककर आगे बढ़ना पड़ेगा और खुद को भी दुरुस्त करना पड़ेगा.

समाज के हर तबके का किया विकास

उन्होंने कांग्रेस पार्टी के लाखों कार्यकर्तागण की सरहाना की. कहा- कार्यकर्तागण इस पूरी यात्रा में मेरे हमसफर रहे हैं. मैंने आपसे जो सीखा उसकी कोई तुलना नहीं हो सकती. हमने समाज के हर तबके का प्रतिनिधित्व और विकास किया, हमने ऐसे कानून बनाए जो जनता के अधिकारों पर आधारित थे.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *