Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

कांग्रेस पर क्षेत्रीय दलों के साथ गठबंधन का दबाव बढ़ा

sonia rahulकांग्रेस पार्टी पर कर्नाटक विधानसभा चुनाव में हार के बाद दूसरे राज्यों में गठबंधन का दबाव बढ़ गया है। पार्टी के अंदर लोकसभा के साथ विधानसभा चुनाव में भी क्षेत्रीय दलों के साथ तालमेल करने का दबाव बढ़ गया है। ताकि, चुनाव में धर्मनिरपेक्ष वोट के बंटवारे को रोका जा सके। राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस और भाजपा का सीधा मुकाबला है। पर बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी, इनलो, लेफ्ट पार्टियां और दूसरे छोटे दल भी वोट के साथ सीट हासिल करते रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस को चुनाव में इन पार्टियों को साथ लेना होगा।
कर्नाटक के मामले में रणनीतिकार मानते हैं कि जेडीएस-बसपा के गठबंधन से कई सीटों पर कांग्रेस को नुकसान हुआ है। पार्टी ने बसपा के साथ गठबंधन की कोशिश की होती, तो चुनाव परिणाम बदल सकते थे। राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में भी बसपा का अच्छा खासा असर है। राजस्थान में बसपा के तीन विधायक है। जबकि पिछले चुनाव में मध्य प्रदेश में चार और छत्तीसगढ़ में एक सीट जीती थी। ऐसे में पार्टी में अभी से बसपा के साथ गठबंधन की बात उठने लगी है। पार्टी ने मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में जातीय समीकरण बनाने की कोशिश शुरू की है। पार्टी गोडवाना गणतंत्र पार्टी के अध्यक्ष हीरा सिंह मरकाम के साथ संपर्क में हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की गुरुवार से शुरू होने वाली छत्तीसगढ़ यात्रा में मरकाम साथ रह सकते हैं। इसके साथ पार्टी इन तीनों प्रदेशों की दूसरी छोटी पार्टियों को भी साथ लेने पर विचार कर रही है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि मौजूदा दौर में व्यापक स्तर पर तालमेल करना बेहद जरुरी है। इस दिशा में पार्टी ने प्रयास करने भी शुरु कर दिए हैं। बसपा ने कर्नाटक में जनता दल (सेकुलर) के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा है। वहीं, हरियाणा में बसपा ने इनलो के साथ गठबंधन किया है। इन दोनों राज्यों के अलावा बसपा अपना जनाधार बढ़ाने के लिए कई दूसरे राज्यों में भी क्षेत्रीय दलों के साथ तालमेल कर सकती है।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *