Pages Navigation Menu

Breaking News

31 दिसंबर तक बढ़ी ITR फाइलिंग की डेडलाइन

 

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए ना हो; पीएम नरेंद्र मोदी

सच बात—देश की बात

पाकिस्तान में कोरोना से 22 हज़ार लोगों की मौत,10 लाख संक्रमित

pakisthan coronaदुनिया भर में कोरोना वायरस से संक्रमण एक बार फिर बढ़ता जा रहा है। पड़ोसी देश पाकिस्तान की बात करें तो पिछले 24 घंटे में 1425 नए मामले सामने आए हैं। पाकिस्तान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी है कि देश में अब तक संक्रमित हुए लोगों की कुल संख्या 10 लाख के पार पहुंच गई है।

अब तक 22 हज़ार से अधिक लोगों की मौत

पाकिस्तान के राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय ने बताया है कि देश में अब तक संक्रमण की कुल संख्या 1,000,034 पर पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से 11 लोगों की मौत हो गई है। पाकिस्तान में अब तक कोरोना वायरस से 22,939 लोगों की मौत हो चुकी है। 9 लाख से अधिक कोरोना वायरस से ठीक हो चुके हैं और 53 हज़ार से अधिक लोग अभी भी संक्रमित हैं।

संक्रमण दर 5 फीसद के ऊपर

स्वास्थ्य अधिकारियों ने जानकारी दी है कि पिछले 24 घंटे में पाकिस्तान में 25,215 लोगों के कोरोना टेस्ट हुए हैं। इस दौरान 5.56 फीसद का संक्रमण दर रहा है। 21 जुलाई को पाकिस्तान में संक्रमण दर 6.31 फीसद थी। बता दें कि पाकिस्तान कोरोना वायरस महामारी की चौथी लहर से जूझ रहा है। पाकिस्तान में कोरोना वायरस की चौथी लहर जुलाई महीने की शुरुआत से जारी है।पाकिस्तान में टीकाकरण की बात करें तो यहां भी बुरा हाल है। पाकिस्तान अब तक सिर्फ 3.2 फीसद आबादी को पूरी तरह से वैक्सीनेट कर सका है। सिर्फ 4.3 फीसद लोगों को टीके की कम से कम एक खुराक दी गई है।

कोरोना के डेल्टा वेरिएंट से जूझ रहा बांग्लादेश

बांग्लादेश में कोरोना का कहर एक बार फिर अपने चरम पर है। कोरोना का डेल्टा वेरिएंट तेजी से वहां फैल रहा है। वहां की सरकार ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए शुक्रवार 23 जुलाई, सुबह आठ बजे से देशभर में सख्त लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। यह लॉकडाउन पांच अगस्त की रात 12 बजे तक लागू रहेगा। एक आधिकारिक आदेश में कहा गया है कि आपातकालीन सेवाओं के अलावा सभी सरकारी और निजी कार्यालय बंद रहेंगे।दरअसल, बांग्लादेश के लोक प्रशासन मंत्री फरहाद हुसैन ने गुरुवार को मीडिया से कहा कि लॉकडाउन में ढील नहीं दी जाएगी। पिछली बार की तुलना में यह लॉकडाउन अधिक सख्त होगा। प्रतिबंधों का पालन सुनिश्चित करने के लिए पुलिस, बीजीबी और सेना के जवान तैनात रहेंगे। कायार्लय, अदालत, वस्त्र कारखाने और निर्यात से सबंधित सब कुछ बंद रहेगा।’ढाका ट्रिब्यून’ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यह पूछे जाने पर कि क्या ईद के लिए घर जाने वालों के लिए लॉकडाउन में ढील देने की कोई योजना है। उन्होंने कहा कि नहीं, जो लोग अपने गृह जिलों में वापस चले गए वे 5 अगस्त से पहले शहर नहीं लौट सकते हैं।पिछले दिनों बांग्लादेश की राजधानी ढाका से प्रवासी मजदूरों की लौटने की कई तस्वीरें सामने आईं थीं। लॉकडाउन की आहट के बीच प्रवासी मजदूर जल्द से जल्द ढाका छोड़ने की कोशिश कर रहे थे। लाखों प्रवासियों के बीच ढाका छोड़ने की हड़बड़ी दिखी. वहां 22 जून से ही विभिन्न शहरों के बीच सार्वजनिक परिवहन ठप्प है।वहीं इससे पहले 13 जुलाई को ईद से पहले कारोबार करने और 14 जुलाई की मध्यरात्रि से 23 जुलाई की सुबह आठ बजे तक सभी प्रतिबंधों में ढील दी गई थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि कोरोना वायरस का डेल्टा स्वरूप ढाका में फैल गया है, यहां स्वास्थ्य सुविधाओं पर दबाव बढ़ रहा है। भारत की सीमा से लगे उत्तरी और दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्रों में भी डेल्टा प्रकार के मामले सामने आए हैं।बांग्लादेश के स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार वहां कोरोना से हुई मौतों की संख्या 13,976 पर पहुंच गई है जबकि पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 5,869 नए मामले सामने आने के बाद मामलों की कुल संख्या बढ़कर 8,78,804 हो गई है। बांग्लादेश में इस साल 19 अप्रैल को इस महामारी से सबसे अधिक 112 लोगों की मौत हुई थी।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »