Pages Navigation Menu

Breaking News

 आत्मनिर्भर भारत के लिए 20 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की तारीख 30 नवंबर तक बढ़ी

कोरोना के साथ आर्थिक लड़ाई भी जीतनी है ; नितिन गडकरी

दिल्ली में कोरोना वायरस के 23 नए मामले,जाने पूरे देश का हाल

delhi doctorवैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर देश में लगातार बढ़ता जा रहा है।  रविवार को कोरोना से जम्मू-कश्मीर, गुजरात और महाराष्ट्र में एक-एक लोगों की मौत हो गई। देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 27 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में कुल मरीजों की संख्या 1047 हो गई है। इसमें 95 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।वर्तमान में भर्ती मरीजों की संख्या 924 है। वहीं श्रीनगर में सेना का सूबेदार संक्रमित पाया गया है। दिल्ली में रविवार को कोरोना वायरस के 23 नए मामले सामने आए है। इस प्रकार राजधानी में अब तक 72 लोग इस जानलेवा वायरस से संक्रमित पाए गए है। कोरोना वायरसः केंद्र सरकार ने आज व्यापक और एकीकृत प्रतिक्रिया सुनिश्चित करने के लिए 11 सशक्त समूह का गठन किया है। इन समूहों को आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत स्थापित किया गया है। प्रत्येक समूह की देखरेख में पीएमओ और कैबिनेट सचिवालय के वरिष्ठ प्रतिनिधि हैंरक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर आयोजित मंत्री समूहों की बैठक में, कोरोना से संबंधित सभी मुद्दों की समीक्षा की गई, जिसमें खाद्य, दवा, ऊर्जा उत्पादों आदि जैसे आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति श्रृंखला बनाए रखना शामिल है:

अभी तक के आंकड़ें

देश में कुल मरीज 1047
कुल मौतें 27
मरीज ठीक हुए 95
वर्तमान में भर्ती मरीज 924
एक दिन में बढ़े 102

इसके अलावा एक मरीज देश छोड़कर चला गया।

गुजरात में पांच और लोग कोरोना से संक्रमित

गुजरात में कोरोना वायरस से पांच और लोग संक्रमित पाए गए हैं। राज्य में अब तक कुल 63 लोग कोरोना से संक्रमित है। गुजरात स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग की प्रमुख सचिव जयंती रवि ने इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने बताया है कि कोरोना के दो मरीज वेंटिलेटर पर हैं, जबकि एक मरीज को अहमदाबाद के एसवीपी अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

पश्चिम बंगाल में दो और लोग कोराना संक्रमित, 20 हुई कोरोना मरीजों की संख्या

देश के अन्य राज्यों की तरह पश्चिम बंगाल में भी कोरोना वायरस धीरे-धीरे अपने पांव पसार रहा है। रविवार को दो और लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। अब तक राज्य में 20 लोग इस जानलेवा वायरस से संक्रमित है।
महाराष्ट्र में आज 22 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही राज्य में कोरोना से संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 203 हो गई है।  22 नए मामलों में (मुंबई से 10, पुणे से 5, नागपुर से 3, अहमदनगर से 2 और सांगली, बुलढाणा और जलगांव से प्रत्येक से एक-एक)। वहीं, 35 मरीज अब तक डिस्चार्ज हो चुके हैं। राज्य में मरने वालों की संख्या आठ हो गई है, जिनमें दो की मौत आज हुई।
तमिलनाडु में इरोड से कोरोना के आठ नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। ये सभी मामले आईआरटी पेरुंदुरई में इलाज करा रहे थाई नागरिकों के संपर्क में थे। संपर्क ट्रेसिंग के माध्यम से मरीजों की पहचान की गई। सभी रोगियों को उपचार के लिए अलग रखा गया:

यूपी सरकार का आदेश, बाहर से आने वाले लोगों को जिले में क्वारंटीन करें अफसर, दें पूरी सुविधा

कोविड-19 महामारी के कारण घोषित किए गए लॉकडाउन के बाद अन्य राज्यों से लोग यूपी आ रहे हैं जिन्हें उनके जिलों में भेजा जा रहा है। प्रदेश सरकार ने आदेश दिया है कि ऐसे लोगों को जिला प्रशासन उनके घर न जाने दे बल्कि धर्मशालाओं व हॉस्टलों में क्वारंटीन कर रखे। उनसे 14 दिनों का प्रोटोकॉल पूरा करवाया जाए और इस अवधि में उनके खाने-पीने का पूरा प्रबंध किया जाए। इन लोगों को 14 दिन की अवधि पूरी होने पर ही उनके घर जाने दिया जाए। इस संबंध में प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी की तरफ से सभी जिलाधिकारियों, पुलिस आयुक्तों व पुलिस अधीक्षकों को आदेश जारी कर दिए गए हैं।

कर्मचारियों को वेतन दें कंपनियां : योगी

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को सभी उद्योगों को आदेश दिया कि अगर उनका काम कोरोना वायरस के चलते देशव्यापी लॉकडाउन की वजह से बंद है तो उन्हें अपनी कर्मचारियों को वेतन देना होगा।

अपने गंतव्य की ओर जा रहे लोगों से मुख्यमंत्री योगी ने की मुलाकात

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दिल्ली से आए लोगों को उनके जिलों में पहुंचाने के लिए खुद निगरानी कर रहे हैं। लोगों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए वह खुद व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं।इसी कड़ी में वह बसों के संचालन को देखने और यात्रियों का हालचाल लेने के लिए अवध चौराहे पर पहुंच गए और यात्रियों से बात की। ये यात्री लखनऊ के अवध चौराहे से बसों द्वारा कानपुर, गोरखपुर, बस्ती और फैजाबाद की ओर जा रहे हैं।

नोएडा: कंपनी की लापरवाही के कारण संक्रमित हुए 13 लोग, महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज

कोरोना वायरस के संक्रमण के बाद गौतमबुद्धनगर जिले में पहला मुकदमा दर्ज किया गया है। नोएडा की सीज फायर कंपनी के खिलाफ मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने एफआईआर दर्ज कराई है। आरोप है कि कंपनी के विदेश से आए ऑडिटर के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष संपर्क में आने से 13 लोग कोरोना से संक्रमित हो गए। इसकी जानकारी होने के बाद भी कंपनी ने कर्मचारियों को होम क्वारंटीन नहीं किया और उन्हें आम दिनों की तरह ही काम कर बुलाना जारी रखा। गौतमबुद्ध नगर के मुख्य चिकित्सा अधिकारी की ओर से डॉ. अनुराग भार्गव ने थाना एक्सप्रेसवे में महामारी अधिनियम 1897 के तहत एफआईआर दर्ज कराई है। थाना एक्सप्रेसवे प्रभारी ने बताया कि आरोप है कि कंपनी का ऑडिटर विदेश से आया था। इसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को नहीं दी गई थी। साथ ही कंपनी की ओर से कर्मचारियों के लिए वो जरूरी इंतजाम भी नहीं किए गए जो कोरोना वायरस से बचाव के लिए आवश्यक थे। कंपनी ने कर्मचारियों को होम क्वारंटीन नहीं किया। उन्हें लगातार काम पर बुलाया गया। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक ऑडिटर के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष संपर्क में आने से 13 लोग कोरोना वारस से संक्रमित हो चुके हैं।

कोरोना की जंग में लोगों की मदद के लिए उतरी सेना

आगरा में पैदल आने और यहां से जाने वालों का सिलसिला जारी है। लॉकडाउन में इन लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए प्रशासन वाहनों की व्यवस्थाएं करने में जुटा हुआ है, लेकिन इतनी भीड़ है कि रोडवेज बसें भी नाकाफी हैं। ऐसे में प्रवासी श्रमिकों की मदद के लिए सेना आगे आई है। उधर, प्रशासन ने स्कूल बसों को लगाया है। आगरा में शनिवार को फंसे हुए लोगों को घर पहुंचाने के लिए रोडवेज की 375 बसें चलाईं गई थीं, लेकिन यात्री लेकर सिर्फ 75 बसें ही गईं। शहर के आईएसबीटी, ईदगाह और आगरा कोर्ट बस अड्डे पर रातभर लोगों की भीड़ रही। रविवार सुबह भी घर जाने वालों की संख्या कम नहीं हुई है।

लॉकडाउन के पांचवें दिन कुछ नियंत्रित दिखी व्यवस्था

लॉकडाउन के पांचवे दिन आज पश्चिमी यूपी में व्यवस्था काफी नियंत्रण में मिली। सब्जी मंडियों में सन्नाटा पसरा रहा। केवल थोक विक्रेता ही पहुंचे। सामान की होम डिलीवरी कराए जाने के बावजूद दुकान पर सामान बेच रहे कई दुकानदारों को बिजनौर प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए पुलिस हिरासत में ले लिया।सड़कों पर आवागमन का साधन नहीं मिलने से दूसरे राज्यों से आ रहे मजदूरीपेशा लोगों के पैदल अपने घर लौटने का सिलसिला जारी है। उधर, मेरठ में कोरोना पाॅजिटिव केस मिलने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। यहां मेडिकल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 50 संदिग्धों की जांच रिपोर्ट आज आएगी। स्वास्थ्य विभाग कोरोना चेन तोड़ने की हर संभव कोशिश में जुट गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना को हराने वाले आगरा के जूता कारोबारी से की बात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात कार्यक्रम में देश को संबोधित किया। इसमें प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना वायरस को मात देने वाले आगरा के जूता कारोबारी अशोक कपूर से बात की। जूता कारोबारी ने कोरोना पर जीत का अनुभव प्रधानमंत्री से साझा किया। साथ ही आगरा के स्वास्थ्यकर्मियों और स्टाफ का आभार जताया।
जूता कारोबारी अशोक कपूर ने कहा, ‘मैं और मेरे परिवार के छह लोग कोरोना पीड़ित मिले थे।हमें आगरा से दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल एंबलेंस से भेजा गया। हमें 14 दिन अस्पताल में रखा गया। चिकित्सकों और अन्य स्टाफ ने हमारा ख्याल रखा। कपूर ने प्रधानमंत्री से कहा कि आगरा और दिल्ली के अधिकारियों और कर्मचारियों का आभारी हूं।खंदारी निवासी जूता कारोबारी अशोक कपूर के दो बेटे और दामाद इटली गए थे। वहां से लौटकर आने पर उनके दामाद में कोरोना के लक्षण दिखे थे। जिसके बाद उनके दोनों बेटों का भी टेस्ट हुआ था। फिर परिवार को भी बुलाया गया। आखिर में पता चला कि परिवार के छह सदस्यों को संक्रमण है।

‘आप’ विधायक के खिलाफ एफआईआर, सीएम योगी के खिलाफ की थी आपत्तिजनक टिप्पणी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। वकील प्रशांत पटेल शिकायत के बाद राजेंद्र नगर विधानसभा से आप विधायक राघव चड्ढा के खिलाफ नोएडा के सेक्टर 20 थाने में एफआईआर दर्ज की गई है।

बरेली में कोरोना का पहला मरीज मिला, परिवार को किया गया आइसोलेट

शहर के सुभाष नगर निवासी युवक कोरोनावायरस का पॉजिटिव मिला है। अस्पताल प्रशासन के मुताबिक 21 मार्च को युवक नोएडा से आया था। वह जिस कंपनी में काम करता था, वहां भी 4 लोग में कोरोना से संक्रमण की पुष्टि हुई है। 26 मार्च को युवक का सैंपल जांच के लिए भेजा गया था। शनिवार सुबह करीब 4 बजे आई रिपोर्ट में पॉजिटिव मिलने पर युवक के पिता को अस्पताल बुलाया गया। रिपोर्ट की जानकारी देने के बाद उसे और उसके परिजन को एक निजी अस्पताल में आइसोलेट में किए जाने की कवायद की जा रही है।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *