Pages Navigation Menu

Breaking News

लव जेहाद: उत्तर प्रदेश में 10 साल की सजा का प्रावधान

पाकिस्तान संसद ने माना, हिंदुओं का कराया जा रहा जबरन धर्मातरण

जम्‍मू-कश्‍मीर में 25 हजार करोड़ का भूमि घोटाला

पाकिस्तान में राजनीतिक हथियार बन गया है कोरोना ? विपक्षी नेता संक्रमित ?

imranक्या पाकिस्तान में कोरोना वायरस भी राजनीतिक हथियार बन गया है? क्या इमरान खान नियाजी विपक्षी नेताओं और विरोधियों को कोरोना से संक्रमित करवा रहे हैं? मुख्य विपक्षी पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के प्रमुख शहबाज शरीफ और पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी के संक्रमित होने के बाद इमरान सरकार पर इस तरह के आरोप लग रहे हैं। दोनों ही प्रमुख नेताओं ने कहा है कि यदि उन्हें कुछ होता है तो इसके लिए इमरान सरकार जिम्मेदार होगी।

कैसे संक्रमित हुए दोनों नेता?
शहबाज शरीफ और यूसुफ रजा गिलानी का आरोप है कि राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) में पेशी के दौरान वे कोरोना संक्रमित हुए हैं। दोनों ही नेताओं का कहना है कि एनएबी के कई अधिकारी कोरोना से संक्रमित थे। इसके बाद भी जानबूझकर उन्हें व्यक्तिगत पेशी के लिए मजबूर किया गया। उन्होंने पहले ही आशंका जताई थी कि एनएबी में जाने से वे कोरोना संक्रमित हो सकते हैं, और हुआ भी वही।

कैंसर की दलील को भी ठुकराया?
पीएमएल-एन के प्रमुख और पूर्व पीएम नवाज शरीफ के भाई शहबाज शरीफ ने तो सरकार के सामने यह दलील भी रखी थी कि वे कैंसर के मरीज रहे हैं, शरीर की प्रतिरोधक क्षमता सामान्य से कम होने की वजह से वह हाई रिस्क पर हैं। इसके बावजूद उन्हें एनएबी में पेशी के लिए मजबूर किया गया। पीएमएल-एन नेता अताउल्लाह तरार ने 68 वर्षीय शहबाज के संक्रमित होने की गुरुवार को पुष्टि की। उन्होंने दावा किया कि शहबाज धनशोधन के एक मामले में 9 जून को राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के सामने पेश हुए थे और वह वहीं से संक्रमित हुए हैं।

उठ रहे हैं कई सवाल
सवाल उठ रहा है कि जब पूरी दुनिया में अभी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए केसों की सुनवाई हो रही है तो देश के प्रमुख नेताओं को पाकिस्तान सरकार ने यह सुविधा क्यों नहीं दी? क्या इमरान खान पाकिस्तान के बड़े नेताओं को बीमारी में फंसाने की साजिश रचकर सेना के लिए रास्ता पूरी तरह साफ और विपक्ष की आवाज को खामोश करना चाहते हैं?

‘इमरान खान होंगे जिम्मेदार’
शहबाज शरीफ की पार्टी के नेता अताउल्लाह तरार ने कहा, ”एनएबी को कई बार लिखित में यह जानकारी दी गई थी कि शहबाज शरीफ कैंसर से पीड़ित रह चुके हैं और अन्य लोगों की अपेक्षा उनके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है।” उन्होंने कहा कि वायरस के खतरे को देखते हुए पीएमएल-एन प्रमुख पहले से ही अलग-थलग रह रहे थे लेकिन एनएबी की वजह से उन्हें घर से बाहर निकलना पड़ा। उन्होंने कहा, ”अगर शहबाज शरीफ को कुछ होता है तो उसके जम्मेदार इमरान नियाजी और एनएबी होंगे। इससे पहले एनएबी को शहबाज शरीफ ने एक बयान में कहा था, ”मीडिया में यह जाहिर है कि एनएबी के कुछ अधिकारी कोविड-19 से संक्रमित हैं। कृपया यह ध्यान दें कि मैं कैंसर से पीड़ित रह चुका हूं और 69 साल का हूं। मुझे यह सलाह दी गई है कि अपने शरीर की कमजोर प्रतिरोधक क्षमता को ध्यान में रखते हुए कम से कम ही बाहर निकलूं।”पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री युसूफ रजा गिलानी के कोरोना वायरस (कोविड-19) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। गिलानी के बेटे कासिम गिलानी ने शनिवार को ट्वीट के जरिए पिता के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी दी। उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री  इमरान खान और राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) पर आरोप लगाया है।

कई बड़े नेता आ चुके चपेट में
पिछले सप्ताह पीएमएल-नवाज के अध्यक्ष और राष्ट्रीय संसद में विपक्ष के नेता शाहबाज शरीफ और पीटीआई कराची चैप्टर के अध्यक्ष और सिंध असेंबली के सदस्य खुर्रम शेर जामन के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। सोमवार को पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी और रेल मंत्री शेख रशीद कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे।

1 लाख 35 हजार हो चुके संक्रमित
पाकिस्तान में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 लाख 35 हजार से अधिक हो चुकी है। 2593 लोगों की मौत हो चुकी है तो अब तक 50 हजार लोग रिकवर हुए हैं। सबसे अधिक केस सिंध और पंजाब प्रांत में हैं।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *