Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

रेप मामले में बढ़ीं दाती महाराज की मुश्किलें

dati marajशिष्या का यौन उत्पीड़न करने के मामले में स्वयंभू बाबा दाती महाराज पर दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट दायर किया है. इसमें अप्राकृतिक यौन संबंध की धारा भी लगाई गई है. पीड़िता ने आरोप लगाया था कि दाती महाराज के दिल्ली और राजस्थान के आश्रमों में उनका यौन उत्पीड़न किया गया. हालांकि, क्राइम ब्रांच को दाती महाराज को गिरफ्तार करने के बाद पर्याप्त सबूत नहीं मिले हैं. सूत्रों के मुताबिक पीड़िता ने पाली आश्रम में जिन तीन तारीखों पर उसके साथ रेप होने की FIR दर्ज कराई थी, उसमें से एक तारीख को लड़की पाली में मौजूद नही थी. बल्कि अजमेर में अपने कॉलेज में मौजूद थी, जिसके सबूत कॉलेज में पीड़िता की हाजिरी से मिले हैं.

दिल्ली पुलिस ने सोमवार को स्वयंभू बाबा दाती महाराज और उनके तीन भाईयों के खिलाफ बलात्कार के एक मामले में आरोपपत्र दायर किया. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि साकेत अदालत में भादंसं की धारा 376 (बलात्कार के लिए दंड जिसके लिए अधिकतम सजा सात वर्ष है) और 377 (अप्राकृतिक अपराध) के तहत आरोपपत्र दायर किया गया.इस बीच दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने जानना चाहा कि पुलिस ने दाती को गिरफ्तार क्यों नहीं किया. उन्होंने ट्विटर पर लिखा- आरोपपत्र ठीक है लेकिन दिल्ली पुलिस ने दाती महाराज को कभी गिरफ्तार क्यों नहीं किया? मालीवाल ने लिखा- दिल्ली पुलिस बलात्कार के सभी आरोपियों को जब तुरंत गिरफ्तार कर लेती है तो फिर दाती महाराज को गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया? दूसरे बलात्कारियों की तुलना में उन्हें ज्यादा तवज्जो क्यों?

शिष्या ने जून में दाती महाराज, उनके तीन भाईयों और एक महिला के खिलाफ दक्षिण दिल्ली के फतेहपुर बेरी थाने में मामला दर्ज कराया था. मामले को बाद में अपराध शाखा को भेज दिया गया.राजस्थान महिला आयोग की एक जांच में पाली में दाती महाराज के आश्रम में राज्य महिला आयोग की टीम ने कई अनियमितताएं पाई थी. राजस्थान महिला आयोग की अध्यक्ष सुमन शर्मा ने कहा था कि पाली आश्रम में चल रहे स्कूल और कॉलेजों में सभी नियमों का उल्लंघन किया गया है.आयोग ने कहा था कि संस्थान के पंजीकरण का नवीनीकरण पिछले तीन साल से नहीं कराया गया है और वहां निवास कर रहीं महिला विद्यार्थियों के बारे में इस तरह का कोई रिकॉर्ड नहीं है कि वे कहां से ताल्लुक रखती हैं.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *