Pages Navigation Menu

Breaking News

लद्दाख का पूरा हिस्सा, भारत का मस्तक है; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की तारीख 30 नवंबर तक 

टिक टॉक सहित 59 चायनीज ऐप पर प्रतिबंध

दिल्‍ली चुनाव; शिरोमणि अकाली दल ने BJP को दिया समर्थन

bjp sadनई दिल्‍ली,। पंजाब के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री और शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच दिल्‍ली विधानसभा चुनाव को लेकर बातचीत हुई। सुखबीर बादल ने दिल्‍ली विधानसभा चुनाव में भाजपा को समर्थन देने की बात कही।  दिल्‍ली विधानसभा में भाजपा और शिअद का गठबंधन टूटने के बाद सुखबीर और नड्डा की इस मुलाकात को महत्‍वपूर्ण माना जा रहा था। पत्रकारों से बातचीत मेें सुखबीर बादल ने दिल्ली विधासभा चुनाव 2020 में भाजपा को समर्थन देने की घोषणा की। इसके बाद जेपी नड्डा ने समर्थन देने के लिए शिरोमणि अकाली दल और सुखबीर बादल का धन्‍यवाद किया। नड्डा ने कहा कि भाजपा और शिरोमणि अकाली दल का गठबंधन सबसे पुराना व बेहद मजबूत है।सुखबीर बादल ने कहा कि दिल्‍ली विधानसभा चुनावमें हमने कभी गठबंधन नहीं तोड़ा। शिअद ने सिर्फ अलग चुनाव लड़ने का फैसला किया। सुखबीर ने सीएए के मुद्दे पर सफाई देते हुए कहा कि शिअद शुरू से ही सीएए का समर्थन कर रहा है। शिअद सिर्फ SADपाकिस्‍तान और अफगानिस्तान में उत्पीड़न के शिकार सिखों को नागरिकता देने की मांग कर रहा है। इस मुद्दे पर हम रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से भी मिल चुके हैं।सुखबीर बादल ने कहा कि भाजपा और शिअद का गठबंधन सिर्फ राजनीतिक गठजोड़ नहीं है बल्कि की यह भावनाओं और दिलों का मेल है। भाजपा-शिअद गठबंधन पंजाब की शांति, बेहतर भविष्‍य और उसके हितों के लिए भावनाओं का बंधन है। उन्‍होंने कहा कि कुछ गलतफहमियां थीं, लेकिन अब वे दूर हो गई हैं। बता दें कि दिल्‍ली विधानसभा चुनाव में भाजपा और शिअद का गठबंधन टूट गया था। इसके बाद शिअद ने यह चुनाव अकेले लड़ने की बात कही थी। गठबंधन टूटने के बाद पंजाब में भी शिअद नेताओं की नाराजगी सामने आई थी और कुछ नेताओं ने केंद्र सरकार से हटने की बात भी कह  डाली थी। इसके बाद सुखबीर बादल ने कहा था कि पंजाब में दोनों दल मिलकर 2022 में हाेनेवाला पंजाब विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *