Pages Navigation Menu

Breaking News

अयोध्या विकास प्राधिकरण की बैठक में सर्वसम्मति से राम मंदिर का नक्शा पास

मानसून सत्र 14 सितंबर से 1 अक्टूबर तक चलेगा, दोनों सदन अलग-अलग समय पर चलेंगे

  7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं होंगी शुरू, 12 सितंबर तक सभी मेट्रो लगेंगीं चलने 

दिल्ली की हवा वाहनों से कम, पराली जलाने से अधिक जहरील

polutionनई दिल्ली।हर गुजरते दिन के साथ दिल्ली की आबोहवा खराब होने लगी है। नासा की तस्वीरों साफ है कि दिल्ली की हवा वाहनों से कम पराली जलाने से अधिक जहरीली हो रही है। सोमवार को राजधानी में एयर क्वालिटी इंडेक्स 223 तक पहुंच गया। लोधी रोड में आज सुबह PM 10-217 और PM 2.5-223 दर्ज किया गया। जानकारों की मानें तो आने वाले दिनों में स्मॉग का खतरा और गहराएगा। नासा ने खेतों में पराली जलाने की कुछ तस्वीरें साझा की है। ये तस्वीरें भारत के नॉर्थ वेस्टर्न रीजन और भारत से सटे सीमाई इलाकों की हैं. आशंका है कि दिल्ली के पड़ोसी राज्यों हरियाणा और पंजाब में पराली जलने के कारण उठता धुआं आने वाले दिनों में दिल्ली-एनसीआर के लिए दमघोंटू बन सकता है।

हवा की गुणवत्ता में लगातार गिरावट

राजधानी दिल्ली में दिवाली से पहले प्रदूषण का स्तर लगातार बढ़ रहा है।लोधी रोड जैसी साफ और हरी भरी जगह पर भी एयर क्वालिटी मॉडरेट कैटिगरी में आ चुकी है। संभावना यह भी जताई गई है कि 18 अक्टूबर के बाद प्रदूषण दिल्ली के लोगों के लिए परेशानी का सबब बनने लगेगा।हरियाणा और पंजाब में बड़े पैमाने पर जलाई जाने वाली पराली का असर दिल्ली के एआईक्यू पर जल्द असर दिखा सकता है. हवा की स्पीड लगातार कमजोर हो रही है. बता दें कि दिल्ली सरकार ने पहले ही यह कह दिया था कि नवंबर के महीने में दिल्ली की एयर क्वालिटी खराब होगी क्योंकि उस वक्त दूसरे राज्यों में पराली जलाई जाती है. इसी कारण ने केजरीवाल सरकार ने राजधानी में ऑड-ईवन दोबारा लागू करने का फैसला भी किया.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *