Pages Navigation Menu

Breaking News

लव जेहाद: उत्तर प्रदेश में 10 साल की सजा का प्रावधान

पाकिस्तान संसद ने माना, हिंदुओं का कराया जा रहा जबरन धर्मातरण

जम्‍मू-कश्‍मीर में 25 हजार करोड़ का भूमि घोटाला

दिल्ली हिंसाः पुलिस ने ताहिर हुसैन के मोबाइल की CDR खंगाली, मिले सबूत

app corporaterदिल्ली पुलिस ने आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को गिरफ्तार कर लिया है. अब दिल्ली पुलिस ताहिर हुसैन के खिलाफ सबूत जुटा रही है. ताहिर के मोबाइल की CDR खंगालने के बाद पता चला कि दिल्ली में हिंसा के दौरान यानी 24 से लेकर 27 फरवरी तक ताहिर हुसैन के मोबाइल टावर की लोकेशन नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के मुस्तफाबाद ही थी.

चांद बाग भी मुस्तफाबाद में पड़ता है और इन इलाकों के आस-पास के टॉवर की लोकेशन एक ही है. ताहिर हुसैन का दावा है कि हिंसा के दौरान और बाद में वो अपनी बिल्डिंग और आस-पास की गलियों व इलाकों में रहा. अब पुलिस ताहिर हुसैन के इस दावे की सच्चाई का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि अगर इलाके में हिंसा हुई और पुलिस ने उसको रेस्क्यू किया, तो फिर हिंसा प्रभावित इलाके में वो इतने दिन क्यों रहा?जब नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हिंसा थम गई यानी 27 फरवरी के बाद उसकी लोकेशन दिल्ली के जाकिर नगर में मिली थी. इसके बाद उसका फोन बंद हो गया था. हिंसा के ठीक बाद ताहिर हुसैन ने अपना पुराना सिम ऑन किया था और उससे कई लोगों से बात की थी, जिसमें आम आदमी पार्टी का एक नेता और कुछ वकील शामिल हैं. बातचीत किस बारे में हो रही थी, अभी इसका खुलासा नहीं किया गया है.

ताहिर हुसैन का दावा है कि 24 फरवरी की रात मेरी बिल्डिंग के आस-पास पुलिस थी. हिंसा के बाद वो अपनी बिल्डिंग के सामने और आस-पास की गलियों में रहने वाले अपने दोस्तों के घर सोया. हालांकि वह आईबी कर्मचारी अंकित की हत्या के बारे में कुछ भी बोलने से इनकार कर रहा है. ताहिर हुसैन का कहना है कि उसको इस बारे में कोई जानकारी नहीं है. उसको लाश मिलने के बाद ही हत्या की जानकारी हुई.दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने ताहिर हुसैन को खजूरी खास पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज होने के बाद गिरफ्तार किया है. यह FIR खजूरी खास में तैनात एक कांस्टेबल संग्राम सिंह ने दर्ज कराई है, जिसमें ताहिर हुसैन के घर से पेट्रोल बम और पत्थर फेंकने की बात कही गई है. इस हमले में उपद्रवियों ने संग्राम सिंह की मोटर साइकिल जला दी थी.संग्राम सिंह ने इस एफआईआर में कहा कि ताहिर हुसैन के घर से फेंके जा रहे पेट्रोल बम से बगल में होने वाली शादी का सामान जल गया था. आपको बता दें कि दिल्ली की दो अदालतों ने उनके आत्मसमर्पण के आवेदन और जमानत याचिका को खारिज कर दिया था, जिसके बाद ताहिर हुसैन को गिरफ्तार किया गया है.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *