Pages Navigation Menu

Breaking News

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को निकालने के लिए ऑपरेशन गंगा

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

हरियाणा: 10 साल पुराने डीजल, पेट्रोल वाहनों पर प्रतिबंध नहीं

सच बात—देश की बात

पुलवामा एनकाउंटर में लश्कर-ए-तैयबा के 5 आतंकी ढेर

jk encounterपुलवामा जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार देर रात से जारी एनकाउंटर में लश्कर ए तैयबा के पांच आतंकी मारे जा चुके हैं। इनमें से एक पाकिस्‍तानी है। पुलवामा के हांजिन राजपोरा इलाके में एनकाउंटर अभी भी जारी है और छिपे हुए आतंकियों की तलाश की जा रही है। क्रॉस फायरिंग के दौरान सेना का एक जवान भी शहीद हो गया
एक सैन्‍य अधिकारी ने बताया कि शुरुआती गोलीबारी में एक जवान घायल हो गया था, जिसकी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। जम्मू-कश्मीर पुलिस आईजी विजय कुमार ने बताया कि पुलवामा एनकाउंटर के दौरान लश्कर के पांच आतंकी ढेर किए गए हैं। इनमें से एक पाकिस्‍तानी नागरिक है।

  • जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच देर रात से मुठभेड़ जारी
  • पुलवामा के हांजिन राजपोरा इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एनकाउंटर
  • लश्कर-ए-तैयबा के 5 आतंकी मारे गए, सेना का एक जवान गोलीबारी में शहीद

देर रात शुरू हुआ एनकाउंटर
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में गुरुवार देर रात सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने पुलवामा जिले के राजपोरा इलाके के हाजिन गांव में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था। आतंकियों के सुरक्षाबलों पर गोलियां चलाने से अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया। सुरक्षा बल ने भी गोलीबारी का मुंह तोड़ जवाब दिया।

ड्रोन हमले के पीछे लश्‍कर और जैश का हाथ: डीजीपी
दूसरी ओर, जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह का कहना है कि ड्रोन के जरिए हथियार, विस्फोटक और मादक पदार्थ गिराने के पीछे पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा और जैश ए मोहम्मद का हाथ है। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि जम्मू-कश्मीर में शांति और विकास लाने के लिए आतंकवाद को अस्वीकार किया जाए और इसे हराया जाए। डीजीपी ने कहा कि आतंकवाद के सफाए के लिए आतंकवाद निरोधी अभियानों की गति और भी तेज की जाएगी, वहीं दूसरी ओर ड्रोन जैसे खतरों से निबटने के लिए सुरक्षा इंतजामों को और भी मजबूत करने के प्रयास किए जा रहे हैं। जम्मू में उच्च सुरक्षा वाले हवाई अड्डा परिसर में स्थित वायुसेना स्टेशन पर हाल में ड्रोन हमला हुआ था।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »