Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

मोदी के भाषण में 60 फीसदी बातें मेरे और कांग्रेस के ऊपर : राहुल गांधी

Rahul Gandhi come back

Rahul Gandhi come back

अहमदाबाद: राहुल गांधी  ने गुजरात में आयोजित एक रैली में पीएम मोदी और बीजेपी पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि कल मैं पीएम मोदी जी का भाषण सुन रहा था उसमें आधे से ज्यादा बातें उनके और कांग्रेस के ऊपर थीं. jराहुल ने कहा कि लेकिन मोदी जी अमित शाह और जय शाह के मामले में चुप्पी साधे हुए हैं. उन्होंने कहा कि यह चुनाव बीजेपी और कांग्रेस के लिए नहीं गुजरात के भविष्य के लिए है.आपको बता दें कि सोमवार को ही गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपना घोषणापत्र भी जारी दिया है. पार्टी ने अपने घोषणापत्र में किसानों की कर्जमाफी, किसानों को मुफ्त बिजली, बोनस, बेरोजगारी भत्ता, बेरोजगार युवाओं के लिए फंड जैसे तमाम लोकलुभावन वादे किए हैं. हालांकि इसमें पाटीदार आरक्षण का फॉर्मूला साफ नहीं है.

कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में तीन अहम मुद्दे डाले हैं. पहला मुद्दा किसानों के बारे में, दूसरा युवाओं के रोजगार के बारे में और तीसरा बड़ा मुद्दा महिलाओं के बारे में है. किसानों के बारे में जो पांच अहम बातें हैं उसमें किसानों को कर्जमाफी, 16 घंटे बिजली, खेती के लिए मुफ्त पानी शामिल हैं. कपास, मूंगफली और आलू की जो उपज होगी उस पर किसानों को बोनस मिलेगा और किसानों पर जो बिजली चोरी के मामले हैं उन पर दोबारा पुनर्विचार किया जाएगा. घोषणापत्र में किसानों के लिए यह 5 चीजें हैं.वहीं, पीएम मोदी भी गुजरात चुनाव में भारपा को जीत दिलाने की कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. पीएम भी तोबड़तोड़ रैलियों करके लोगों तक अपनी बात पहुंचा रहे हैं. वो कांग्रेस पर निशाना साधने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं. बीते सोमवार को भी पीएम मोदी ने गुजरात में रैली को संबोधित किया था और महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता शहजाद पूनावाला के बयान को हथियार बनाकर राहुल गांधी और कांग्रेस पर निशाना साधा था.

गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. पार्टी ने अपने घोषणापत्र में किसानों की कर्जमाफी, किसानों को मुफ्त बिजली, बोनस, बेरोजगारी भत्ता, बेरोजगार युवाओं के लिए फंड जैसे तमाम लोकलुभावन वादे किए हैं. हालांकि इसमें पाटीदार आरक्षण का फॉर्मूला साफ नहीं है.कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में तीन अहम मुद्दे डाले हैं. पहला मुद्दा किसानों के बारे में, दूसरा युवाओं के रोजगार के बारे में और तीसरा बड़ा मुद्दा महिलाओं के बारे में है. किसानों के बारे में जो पांच अहम बातें हैं उसमें किसानों को कर्जमाफी, 16 घंटे बिजली, खेती के लिए मुफ्त पानी शामिल हैं. कपास, मूंगफली और आलू की जो उपज होगी उस पर किसानों को बोनस मिलेगा और किसानों पर जो बिजली चोरी के मामले हैं उन पर दोबारा पुनर्विचार किया जाएगा. घोषणापत्र में किसानों के लिए यह 5 चीजें हैं.पार्टी ने घोषणा पत्र में युवाओं के लिए भी कई वादे किए हैं. राज्‍य के बेरोजगार युवाओं के लिए 32 हजार करोड़ का फंड बनाए जाने की बात कही है. पार्टी ने कहा है कि राजय में जो 2,50,0000 बेरोजगार युवा हैं उनके लिए 32000 करोड रुपये का एक फंड बनाया जाएगा. 4000 रुपये बेरोजगारी भत्ता देने की बात भी है. सरकारी विभाग में जो कॉन्ट्रैक्ट पर काम दिया जाता है या जो फिक्स सैलरी पर रखा जाता है या जो आउटसोर्सिंग की जाती है वह सब बिल्कुल बंद हो जाएगी. सरकारी नौकरियों में जितनी भी खाली जगह है उन्हें जल्द से जल्द भरा जाएगा.

कांग्रेस ने घोषणापत्र में हर समाज की महिला का अपना घर देने की बात कही है. साथ ही हर जिले में एक सिंगल विंडो इमरजेंसी सेंटर होगा जो 24 घंटे चलेगा. सभी लड़कियों के लिए मुफ्त शिक्षा की बात भी इसमें की गई है. साथ ही महिलाओं के खिलाफ जो अपराध होगा उसकी सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी. पिंक ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था महिलाओं के लिए की जाएगी. पाटीदार आरक्षण पर कांग्रेस ने घोषणापत्र में कहा है कि अनुच्‍छेद 31(सी) और 46 के आधार पर गैर आरक्षित जातियों को विशेष दर्जा दिए जाने को लेकर विधानसभा में विधेयक लाया जाएगा. इस सिलसिले में सभी संबंधित पक्षों से सलाह मशविरा किया जाएगा और एक आयोग का गठन होगा जो सुनिश्चित करेगा कि सभी जरूरतमंद गैर आरक्षित वर्ग के लोगों को विशेष दर्जे का लाभ मिले.

गुजरात से कांग्रेस के वादे…
– किसानों का क़र्ज़ माफ़
– किसानों को 16 घंटे बिजली, मुफ़्त पानी
– कपास, मूंगफली के किसानों को बोनस
– बेरोज़गार युवाओं के लिए 32000 करोड़ का फ़ंड
– युवाओं को 4000 रुपये बेरोज़गारी भत्ता
– खाली पड़े सरकारी पद भरे जाएंगे
– मुफ़्त प्राथमिक और उच्च शिक्षा
– हर महिला का अपना घर होगा
– महिलाओं के लिए पिंक ट्रांसपोर्ट व्यवस्था

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *