Pages Navigation Menu

Breaking News

 अपने CM को शुक्रिया कहना कि मैं जिंदा लौट पाया; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

 

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

देश में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर

सच बात—देश की बात

गुजरात पालिका-पंचायत चुनाव में भाजपा का शानदार प्रदर्शन

bjp gujratगुजरात में हुए पालिका-पंचायत चुनाव में भाजपा को रिकॉर्ड जीत मिली है। मंगलवार को आए नतीजों में अब तक पार्टी को 8474 सीटों में से 6034 सीटें मिल चुकी हैं। 108 पर वह आगे चल रही है। इन चुनावों में सबसे ज्यादा नुकसान कांग्रेस को हुआ है। उसके खाते में महज 1740 सीटें आई हैं। 52 पर वह आगे चल रही है। सबसे हैरान करने वाली बात गोधरा में ओवैसी की पार्टी AIMIM को 7 सीटों पर मिली जीत है। उन्होंने यहां 8 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे।

गांवों तक पहुंची आप की पैठ
सूरत म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन के चुनाव में 27 सीटें जीतकर गुजरात में एंट्री करने वाली आम आदमी पार्टी ने अब जिला पंचायत, तालुका और नगरपालिका में भी एंट्री कर ली है। सौराष्ट्र, सूरत और साबरकांठा में पार्टी ने भी शानदार प्रदर्शन करते हुए जिला पंचायत की 6, तहसील पंचायत की 18, नगरपालिका की 22 सीटें यानी कुल 46 सीटें जीत ली हैं।ओवैसी की पार्टी ने भी 9 सीटों पर जीत हासिल की है। वह मोडासा और भरूच से भी एक-एक सीट जीतने में कामयाब रही है।

PM मोदी ने जनता का आभार जताया
लोकल बॉडी इलेक्शन में बड़ी जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया पर गुजरात के लोगों का आभार जताया। उन्होंने लिखा कि गुजरात के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र ने एकमत से विकास पर मुहर लगाई है। सरकार के जनहित के कार्यों ने जहां लोगों के दिलों में जगह बनाई है, वहीं भाजपा कार्यकर्ताओं की अथक मेहनत रंग लाई है। हमारी पार्टी गुजरात के सभी भाई-बहनों की प्रगति और राज्य की उन्नति के लिए काम करती रहेगी। मैं भाजपा के प्रति अटूट विश्वास और असीम स्नेह के लिए गुजरात की जनता को नमन करता हूं।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का इस्तीफा

गुजरात में स्थानीय निकाय चुनाव में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रदेश अध्यक्ष अमित चावड़ा ने इस्तीफा दे दिया है, उन्होंने ईवीएम को दोषी ठहराया है। कांग्रेस विधायक दल के नेता परेश धनानी ने भी इस्तीफा दे दिया है। जानकारी मिल रही है कि कांग्रेस आलाकमान ने दोनों का इस्तीफा स्वीकार भी कर लिया है। मार्च के अंत तक इनकी जगह नए चेहरे दिखाई दे सकते हैं, तब तक प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी हार्दिक पटेल को दी जा सकती है।

पाटीदारों के गढ़ में भी बीजेपी को बढ़त
पिछले चुनावों की तुलना में इस बार बीजेपी भारी जीत की ओर बढ़ रही है। भाजपा पाटीदारों के गढ़ उत्तर गुजरात और सौराष्ट्र में भी बढ़त बनाए हुए है। वहीं, पिछले चुनावों में जिला पंचायत की 31 में से 22 सीटें जीतने वाली कांग्रेस एक भी सीट नहीं जीत सकी है।

जिला पंचायत में बीजेपी धमाकेदार जीत की ओर
जिला पंचायत की 980 में से 838 सीटों के रुझान आए हैं, जहां 681 सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की है और 64 पर आगे चल रही है। कांग्रेस ने 149 सीटों पर जीत दर्ज की है और 12 पर आगे चल रही है। वहीं, नगरपालिका और तालुका पंचायत चुनावों में भी भारतीय जनता पार्टी अच्छी बढ़त बनाए हुए है। मेहसाणा, कच्छ समेत 10 जिलों में बीजेपी के प्रत्याशी आगे चल रहे हैं।

कांग्रेस के दिग्गजों का बुरा हाल
अर्जुन मोढवाडिया के भाई की निकाय चुनाव में करारी हार। गुजरात कांग्रेस के विधायक निरंजन पटेल अपने ही चुनावी क्षेत्र में हारे। निरंजन पटेल के बेटे भी हारे। खेदब्रह्मा के कांग्रेस विधायक अश्विन कोटवाल के बेटे हारे।तारापुर के कांग्रेस विधायक पूनम परमार के बेटे विजय भी हारे। कांग्रेस विधायक विक्रम माडम के बेटे करण माडम को भी द्वारका जिला पंचायत चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा है।नगर पालिका की 8,473 सीटों, जिला पंचायत की 980 और तहसील पंचायत की 4,773 सीटों के लिए कुल 36,008 बूथों पर मतदान हुआ है। राज्य निर्वाचन आयोग के अनुसार, गुजरात की 81 नगरपालिकाओं, 31 जिला पंचायतों और 231 तहसील पंचायतों के चुनावों में लगभग 64 प्रतिशत मतदान हुआ है। आंकड़ों के अनुसार, 81 नगरपालिकाओं में 58.82 प्रतिशत, 31 जिला पंचायतों में 65.80 प्रतिशत और 231 तहसील पंचायतों में 66.60 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया है।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »