Pages Navigation Menu

Breaking News

सोशल मीडिया के लिए गाइडलाइंस जारी,कंटेंट हटाने को मिलेंगे 24 घंटे

 

सोनार बांग्ला के लिए नड्डा का प्लान,जनता से पूछेंगे सोनार बांग्ला बनाने का रास्ता

किसानों के भविष्य के साथ खिलवाड़ न करें, उन्हें गुमराह न करें; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारत में भ्रष्टाचार पर लगा अंकुश, ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल की रिपोर्ट

anti corruptionनई दिल्ली: साल 2020 के करप्शन परसेप्शन इंडेक्स  में 180 देशों में भारत का स्थान छह पायदान फिसलकर 86वें नंबर पर आ गया है. वर्ष 2020 के लिए ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (TI) का भ्रष्टाचार करप्शन परसेप्शन इंडेक्स गुरुवार को जारी किया गया. इंडेक्स में कहा गया है कि 2019 में भारत 180 देशों में 80वें स्थान पर था.

भ्रष्टाचार में भारत 86वें स्थान पर रहा

गौरतलब है कि इंडेक्स में 180 देशों में सार्वजनिक क्षेत्र में भ्रष्टाचार के स्तर का रैंक जारी किया जाता है, जिसमें शून्य से लेकर 100 तक के पैमाने का उपयोग किया जाता है. यहां शून्य स्कोर वाले देश को सबसे अधिक भ्रष्ट माना जाता है और 100 स्कोर वाले को सबसे साफ माना जाता है. भारत 40 अंकों के साथ 180 देशों में 86वें स्थान पर है. इंडेक्स में कहा गया है कि 2019 में भारत 180 देशों में 80वें स्थान पर था. इस वर्ष भारत का CPI स्कोर पिछले वर्ष के स्कोर के बराबर है.

न्यूजीलैंड और डेनमार्क पहले नंबर पर

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत अब भी भ्रष्टाचार इंडेक्स में काफी पीछे है. हालांकि विशेषज्ञों का मानना है कि CPI किसी भी देश में भ्रष्टाचार के वास्तविक स्तर को नहीं दर्शाता है. यह समग्र स्कोर किसी देश की भ्रष्टाचार की स्थिति का आकलन करता है. इस साल, न्यूजीलैंड और डेनमार्क 88 के स्कोर के साथ पहले स्थान पर रहे. सोमालिया और दक्षिण सूडान 12 स्कोर के साथ सबसे नीचे 179वें स्थान पर रहे.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *