Pages Navigation Menu

Breaking News

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को निकालने के लिए ऑपरेशन गंगा

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

हरियाणा: 10 साल पुराने डीजल, पेट्रोल वाहनों पर प्रतिबंध नहीं

सच बात—देश की बात

कोरोना के बीच स्विस बैंकों में भारतीयों की दौलत 20,700 करोड़ हुई

SwissBanksIndianCurrencyनई दिल्ली। स्विट्जरलैंड के बैंकों में भारतीयों द्वारा जमा किया गया धन पिछले वर्ष 2.55 अरब स्विस फ्रैंक यानी 20,700 करोड़ रुपये से अधिक हो गया है। यह पिछले 13 वर्षों के दौरान इन बैंकों में भारतीय ग्राहकों की सबसे बड़ी जमा रकम है। स्विट्जरलैंड के केंद्रीय बैंक ने गुरुवार को कहा है कि इस बढ़ोतरी में सिक्युरिटीज और कई कंपनियों की भारत-स्थित शाखाओं जैसे संस्थागत जमाकर्ताओं की बड़ी हिस्सेदारी है। हालांकि लगातार दूसरे वर्ष इन बैंकों में जमाकर्ताओं की कुल रकम में कमी आई है।स्विस नेशनल बैंक (एसएमबी) के अनुसार पिछले वर्ष के आखिर में स्विस बैंकों में भारतीयों की सबसे अधिक करीब 13,500 करोड़ रुपये की रकम बांड्स, सिक्युरिटीज और अन्य वित्तीय उपकरणों के माध्यम से जमा थी। वहीं, भारतीय बैंकों की रकम 3,100 करोड़ रुपये से अधिक और विभिन्न ट्रस्ट की 16.5 करोड़ रुपये रही।बैंक ने बताया कि भारत के अन्य ग्राहकों के प्रति पिछले वर्ष के अंत में उसकी देनदारी करीब 4,000 करोड़ रुपये रही। स्विस बैंकों में वर्ष 2019 के मुकाबले इस कैटेगरी के ग्राहकों की रकम वर्ष 2020 में छह गुना बढ़ गई है।

स्विट्जरलैंड के केंद्रीय बैंक द्वारा जारी किए गए सालाना आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2019 में स्विट्जरलैंड के बैंकों में भारतीय ग्राहकों की जमा पूंजी सिर्फ 89.9 करोड़ स्विस फ्रैंक यानी करीब 6,625 करोड़ रुपये रही थी। लेकिन वर्ष 2020 के आखिर में यह रकम 13 वर्षो के शीर्ष पर पहुंच गई। इससे पहले वर्ष 2006 में 6.5 अरब स्विस फ्रैंक के साथ इन बैंकों में भारतीय ग्राहकों की रकम रिकॉर्ड ऊंचाई पर थी। उसके बाद वर्ष 2011, 2013 और 2017 को छोड़कर इसमें लगातार कमी आती रही।

डेटा में और क्या बताया गया?

  • स्विस नेशनल बैंक (SNB) के डेटा के मुताबिक, इससे पहले साल 2006 में स्विस बैंकों में भारतीयों की जमा लगभग 52,575 करोड़ रुपए के उच्च स्तर पर थी। उसके बाद से 2011, 2013 और 2017 के वर्षों को छोड़ ज्यादातर में गिरावट देखी गई।
  • NSB के मुताबिक, हम यह नहीं कह सकते कि ये काला धन है। इन आंकड़ों में भारतीयों, NRI या अन्य लोगों का थर्ड कंट्री एंटिटीज के नाम पर जमा पैसा भी शामिल नहीं है।
  • स्विस बैंकों में भारतीयों के जमा पैसे के आकलन में व्यक्तियों, बैंकों और एंटरप्राइजेज की ओर से जमा समेत स्विस बैंकों के भारतीय ग्राहकों के सभी तरह के फंड्स को ध्यान में रखा गया है।

ब्रिटेन 30.49 लाख करोड़ रुपए के साथ टॉप पर
2020 के अंत तक स्विस बैंक में कुल जमा 161.78 लाख करोड़ रुपए पर पहुंच गया। इनमें विदेशी जमा राशि 48.53 लाख करोड़ रुपए है। ब्रिटेन 30.49 लाख करोड़ रुपए के साथ शीर्ष पर है। दूसरे नंबर पर 12.29 लाख करोड़ रुपए के साथ अमेरिका है। इसके अलावा टॉप 10 देशों में वेस्टइंडीज, फ्रांस, हांगकांग, जर्मनी, सिंगापुर, लक्जमबर्ग, केमेन आइलैंड और बहामास शामिल हैं।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »