Pages Navigation Menu

Breaking News

सीबीआई कोर्ट ;बाबरी विध्वंस पूर्व नियोजित घटना नहीं थी सभी 32 आरोपी बरी

कृष्ण जन्मभूमि विवाद- ईदगाह हटाने की याचिका खारिज

सिनेमा हॉल, मल्टीप्लैक्स, इंटरटेनमेंट पार्क 15 अक्टूबर से खोलने की इजाजत

पुरी में धूमधाम से निकली भगवान जगन्‍नाथ की रथयात्रा

Lord_Jagannath_Rath_नई दिल्‍ली सदियों से चली आ रही भगवान जगन्‍नाथ की रथयात्रा आज पूरी भव्‍यता के साथ निकाली गई। हालांकि, कोरोना वायरस संक्रमण के कारण रथयात्रा में शामिल होने वाले लोगों की संख्‍या पर प्रतिबंध लगाया गया था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक 500 से अधिक लोगों को रथ खींचने की अनुमति नहीं दी जाएगी।रथयात्रा के दौरान पुरी  शहर में सोमवार की रात आठ बजे से कफ्र्यू लागू रहेगा। रथयात्रा में जितने भी लोग शामिल हुए, उनके मुख से श्रद्धाभाव के साथ-साथ भगवान जगन्‍नाथ के प्रति उनकी आस्‍था साफ देखी जा सकती थी। इसे देखने और इसमें हिस्‍सा लेने के लिए देशभर से ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया से लाखों श्रद्धालु यहां पर पहुंचते हैं।इस यात्रा के दौरान लकड़ी के बने विशाल रथों को श्रद्धालु अपने हाथों से खींचते हैं। इस यात्रा में शामिल तीन अलग-अलग विशाल रथों में श्री कृष्‍ण, बलराम और उनकी बहन सुभद्रा विराजमान होती है। जगन्नाथ मंदिर को देश के चार धाम में से एक धाम माना गया है। पुरी के जगन्नाथ मंदिर में रथयात्रा के दौरान पुरी के राजा गजपति महाराज ने झाडू से ‘छेरा-पहरा’ की रस्म अदा की।भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा शुरू होने से पहले ओडिशा के पुरी के जगन्नाथ मंदिर को सैनिटाइज किया गया।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *