Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

गौरी लंकेश की हत्या पर सियासत का खेल

gauri_lankesh_1504673647_618x347बेंगलुरु बेंगलुरु में वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की सनसनीखेज तरीके से हत्या कर दी गई है। मशहूर कन्नड़ पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश को राज राजेश्वरी नगर स्थित आवास पर अज्ञात हमलावरों ने गोली मार दी। वह चर्चित कन्नड़ टैब्लॉइड लंकेश पत्रिके की संपादक भी थीं। गौरी लंकेश, कन्नड़ कवि और पत्रकार पी लंकेश की सबसे बड़ी बेटी थीं। शुरुआती रिपोर्ट के मुताबिक गौरी पर बेहद नजदीक से हमलावरों ने 7 राउंड फायरिंग की। मौके पर ही गौरी लंकेश की मौत हो गई। उनको पहले भी जान से मारने की धमकियां मिल चुकी थीं। पड़ोसियों के मुताबिक 55 साल की गौरी लंकेश को मोटरसाइकल सवार 3 हमलावरों ने रात में 8 बजकर 25 मिनट पर गोली मार दी और वारदात के बाद फरार हो गए। हमले के वक्त गौरी अपने घर का मुख्य गेट खोल रही थीं। फायरिंग के दौरान उनके सिर, गर्दन और सीने पर 3 गोलियां लगीं, जबकि 4 गोलियों के दीवार पर निशान मिले हैं। पड़ोसियों का कहना है कि गौरी अपने दफ्तर से घर लौटी थीं, तभी हमलावरों ने उन्हें निशाना बनाया। बेंगलुरु के पुलिस कमिश्नर टी सुनील कुमार ने गौरी लंकेश की हत्या की पुष्टि की है। वारदात की जानकारी मिलने के बाद आला पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। गौरी के छोटे भाई और पत्रकार इंद्रजीत लंकेश का कहना है कि इस हत्या से वह स्तब्ध हैं। उन्हें हत्यारों के उद्देश्य बारे में कोई अनुमान नहीं है।गौरी लंकेश के भाई और फिल्म निर्माता इंद्रजीत लंकेश ने उनके हत्या की सीबीआई जांच की मांग की है और भरोसा जताया कि सीसीटीवी फुटेज और पत्रकार के मोबाइल फोन से ठोस सबूतों की मदद से हत्यारे जल्द ही पकड़े जाएंगे. इंद्रजीत ने कहा कि परिसरों में सीसीटीवी कैमरे में पूरी घटना कैद हो गई है. मैं इस बात को लेकर काफी आश्वस्त हूं कि दोषी जल्द ही पकड़े जाएंगे.

गौरी लंकेश की हत्या पर सियासत का खेल भी शुरू हो गया है. सीएम सिद्धारमैया ने कहा कि फिलहाल जांच एसआईटी की दी जा रही है. उन्होंने कहा कि गौरी की हत्या में वैसे ही हथियार इस्तेमाल हुए जैसे कलबुर्गी, दाभोलकर, पनसारे की हत्या में हुए थे. अभी कोई सबूत नहीं मिला है इसलिए इसे दूसरे हत्याओं से नहीं जोड़ सकते. सीएम ने कहा कि गौरी ने हाल ही में मुझसे मुलाकात की थी लेकिन किसी खतरे के बारे में नहीं बताया था. मैंने पुलिस को इस तरह की विचारधारा वाले दूसरे लोगों को सुरक्षा मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं.सीबीआई से जांच के सवाल पर सीएम ने कहा कि इस फैसले को डीजीपी और गृह मंत्री पर छोड़ दिया गया है.वहीं, बीजेपी ने इसे लेकर कांग्रेस सरकार और सीएम सिद्दारमैया को निशाने पर लिया है और कानून व्यवस्था को जिम्मेदार ठहराया है. बीजेपी नेता सदानंद गौड़ा ने सीबीआई जांच की मांग की है.कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट किया कि सच को कभी दबाया नहीं जा सकता. गौरी लंकेश हमारे दिलों में बसती हैं. मेरी संवेदनांए और प्यार उनके परिवार के साथ. दोषियों को सजा मिलनी चाहिए. जो कोई भी बीजेपी-आरएसएस की विचारधारा के खिलाफ बोलता है उसे दबाया जाता है यहां तक कि मार डाला जाता है. पीएम के शब्दों के दो मायने होते हैं. एक उनके बेस के लिए होता है और दूसरा दुनिया के सामने.कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि गौरी एक तर्कशील पत्रकार थीं जिन्हें गोलियों से शांत करा दिया गया. उनकी हत्या उन लोगों को चुप कराने का प्रयास है जो विपरीत विचार रखते हैं. दुर्भाग्यपूर्ण है. केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने पत्रकार की हत्या पर शोक व्यक्त किया है.वहीं, बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने राहुल गांधी के बयान को शर्मनाक बताया. उन्होंने कहा कि पीएम इस वक्त देश के बाहर हैं. उनके बारे में ऐसा बोलना शर्मनाक है. सभी आरोप निराधार हैं. कानून-व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी राज्य सरकार की है और वहां कांग्रेस की सरकार है.केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीथाला और केरल यूनियन ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट ने भी वरिष्ठ पत्रकार की हत्या पर शोक व्यक्त किया. वहीं दिल्ली में प्रेस क्लब ऑफ इंडिया और विमन्स प्रेस क्लब (आई डब्ल्यू पी सी) ने वरिष्ठ पत्रकार गौरी की हत्या की कड़े शब्दों में निंदा की है.पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पत्रकार हत्या मामले को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण और खतरनाक करार दिया. वहीं आरएसएस ने गौरी के हत्या की सीबीआई जांच की मांग किया है.बीजेपी ने कर्नाटक की कांग्रेस सरकार को घेरा और कहा कि पिछले ढ़ाई साल से कर्नाटक में लगातार ऐसी हत्याएं हो रही हैं जिसको रोकने में कर्नाटक सरकार और सिद्धरमैया नाकाम रहे.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *