Pages Navigation Menu

Breaking News

अयोध्या विकास प्राधिकरण की बैठक में सर्वसम्मति से राम मंदिर का नक्शा पास

मानसून सत्र 14 सितंबर से 1 अक्टूबर तक चलेगा, दोनों सदन अलग-अलग समय पर चलेंगे

  7 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से मेट्रो सेवाएं होंगी शुरू, 12 सितंबर तक सभी मेट्रो लगेंगीं चलने 

उड़ीं लॉकडाउन की धज्जियां, करोड़ों रुपये की बिकी शराब

lequare delhi leadनई दिल्ली. देशभर में शराब की दुकानें लगभग 40 दिन बाद सोमवार को फिर से खुली और इन पर लोगों की भारी भीड़ दिखाई दी. कुछ स्थानों पर सामाजिक दूरी बनाए रखने के नियम का उल्लंघन भी किया गया. इस बीच देशभर से खबरें आ रही हैं कि पहले दिन करोड़ों रुपये की शराब की बिक्री हो गयी है. यूपी से खबर है कि वहां लगभग 100 करोड़ रुपये की शराब लोग गटक गये. वहीं कर्नाटक आबकारी विभाग ने बताया कि शराब की दुकानें खोलने के पहले दिन रिकॉर्ड 45 करोड़ रुपये की शराब की बिक्री हुई.

उत्तर प्रदेश में 100 करोड़ रुपये की बिकी शराब

उत्तर प्रदेश में शराब की 26,000 दुकानें आज फिर से खुली तो उन पर लोगों की भारी भीड़ नजर आयी. आबकारी liquol lineविभाग को अनुमान है कि सोमवार को पहले दिन प्रदेश की 26 हजार दुकानों से करीब 100 करोड़ रुपये का राजस्व सरकार को मिलने का अनुमान है. प्रदेश के प्रमुख सचिव (आबकारी) संजय भुसरेड्डी ने अपने अधिकारियों के साथ स्वंय सुबह करीब दस बजे से ही शहर के महानगर, अलीगंज, इंदिरानगर आदि इलाकों की शराब की दुकानों का निरीक्षण किया और सभी दुकानों पर सेनेटाइजर और सामाजिक मेल जोल से दूरी की व्यवस्था को सुनिश्चित किया.भुसरेड्डी ने बताया कि सोमवार से प्रदेश के सभी जनपदों की करीब 26 हजार शराब की दुकाने खोलने के आदेश दे दिये गये हैं. अधिकतर जनपदों में दुकाने खुली और लॉकडाउन के नियमों का पालन, सामाजिक मेल जोल से दूरी और सफाई की व्यवस्था पर ध्यान देते हुये शराब की बिक्री जारी है.

कर्नाटक में पहले दिन रिकॉर्ड 45 करोड़ रुपये की शराब की बिक्री हुई

कर्नाटक आबकारी विभाग ने बताया कि शराब की दुकानें खोलने के पहले दिन रिकॉर्ड 45 करोड़ रुपये की शराब की बिक्री हुई है. लेकिन इस दौरान डराने वाली तसवीरें और वीडियो भी आयीं, जिसमें लोगों ने लॉकडाउन की जमकर धज्जियां उड़ा दीं.कर्नाटक में कंटेनमेंट जोन के बाहर सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक शराब की दुकानें खोलने की छूट दी गई है। वहां के कई इलाकों में लोग सुबह 5 बजे से ही लाइन में खड़े हो गए। यहां तक कि कई दुकानों के सामने ग्राहकों ने फूल-अगरबत्ती और नारियल चढ़ाकर बकायदा पूजा की। कुछ लोगों ने अपनी चप्पलें लाइन में रख दीं ताकि लाइन से हटना पड़े तो भी उनका नंबर बना रहे। दुकानदारों में समय को लेकर कंफ्यूजन था, इसलिए कुछ दुकानें 9 बजे नहीं खुल पाईं।

दुकान खुलते ही शराब पर टूट पड़े लोग, पुलिस को भांजनी पड़ी लाठी

DELHI_LIQUORमालूम हो गृह मंत्रालय ने सोमवार से लॉकडाउन की अवधि दो और सप्ताह के लिए बढ़ा दी थी और ग्रीन तथा ओरेंज जोन में शराब और तंबाकू की दुकानें खोलने की अनुमति दी थी. शराब की दुकानों को खोलने की इज्‍जात मिलने के बाद लोग दुकानों पर टूट पड़े. कई जगह भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हल्के बल का इस्तेमाल भी करना पड़ा.उत्तर और मध्य दिल्ली से भी ऐसी खबरें मिली हैं. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, उन दुकानों को बंद करने को कहा गया, जहां सामाजिक दूरी बनाए रखने के नियम का पालन नहीं हो रहा था. वहीं कुछ स्थानों पर भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हल्के बल का इस्तेमाल करना पड़ा.उत्तर प्रदेश में शराब की 26,000 दुकानें फिर से खुली तो उन पर लोगों की भारी भीड़ नजर आई जबकि राजस्थान में कुछ दुकानों पर सामाजिक दूरी बनाये रखने संबंधी नियम का पालन नहीं किया गया. सरकारी अधिसूचना के अनुसार शराब बेचने वाली दुकानों पर सामाजिक दूरी बनाये रखने संबंधी नियम का पालन करना होगा और एक समय में दुकान पर पांच से अधिक लोग मौजूद नहीं रह सकते है.नोएडा और ग्रेटर नोएडा में सुबह 10 बजे से ही दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ नजर आने लगी थी. गौतमबुद्ध नगर जिला प्रशासन ने कुछ पाबंदियों के साथ सुबह दस बजे से शाम सात बजे तक शराब की दुकानों को खोलने की अनुमति दी थी.शराब की दुकानों के निकट पुलिसकर्मियों की भी तैनाती की गई थी ताकि भीड़ एकत्र न हो. उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण पर रोक लगाने के लिये जारी लॉकडाउन के नियमों में छूट के बाद सोमवार से शर्तों के साथ शराब की दुकानें खुली और खुलने से पहले ही दुकानों पर लंबी लंबी कतारें देखने को मिली.

गोवा में किया गया लॉकडाउन का पालन

कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगाये गये लॉकडाउन के तीसरे चरण के पहले दिन सोमवार को लगभग एक महीने बाद गोवा में शराब की दुकानें खुलीं. एक अधिकारी ने बताया कि लोगों ने सामाजिक दूरी बनाये रखने संबंधी निर्देश का पालन किया और इन दुकानों के बाहर लोग कतारों में खड़े हुए दिखाई दिये.इस बीच, गोवा में शराब की दुकानों के मालिकों ने घोषणा की थी कि उन लोगों को शराब नहीं बेची जायेगी, जिन्होंने मास्क नहीं पहनने होंगे. गोवा शराब व्यापारी संघ के अध्यक्ष दत्ता प्रसाद नाइक ने कहा, गोवा में सोमवार को शराब की दुकानें खुलीं लेकिन लोगों की ज्यादा भीड़ नहीं थी. हमने ‘मास्क नहीं, शराब नहीं’ की नीति अपनाई थी, ताकि सामाजिक दूरी बनाये रखने संबंधी नियम का पालन किया जा सके.

कैसा रहा अन्‍य राज्‍यों का हाल

केंद्र सरकार के दिशानिर्देश के बाद कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए जारी लॉकडाउन के तीसरे चरण के दौरान छत्तीसगढ़ में शराब की दुकानों समेत कई दुकानें खोल दी गई हैं. हालांकि सभी जगहों पर शॉपिंग मॉल और संक्रमित क्षेत्रों में दुकानें बंद हैं. संक्रमित क्षेत्रों में पूरी तरह से लॉकडाउन का पालन किया जा रहा है. राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने सोमवार को यहां बताया कि केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए राज्य में शराब की दुकानें तथा अन्य दुकानें खोल दी गई हैं.राज्य के कई हिस्सों में शराब की दुकान के सामने लंबी कतारें देखी गई हैं. उत्तराखंड में शराब की दुकानों के बाहर ग्राहकों की लंबी कतारें देखने को मिली. महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे में भी शराब की दुकानों के बाहर लोगों की भारी भीड़ देखी गई. कर्नाटक के बेंगलुरु और अन्य हिस्सों में भी शराब की दुकानें खुली और बड़ी संख्या में लोग शराब खरीदने पहुंचे.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- दिल्ली सरकार को कम से कम छूट देनी चाहिए
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का कहना है कि मौजूदा हालात को देखते हुए दिल्ली में सख्ती की जरूरत है। कोरोना का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए दिल्ली सरकार को लॉकडाउन में कम से कम छूट देनी चाहिए।

मुंबई, पुणे में दुकानें नहीं खुलीं
दोनों शहरों में शराब की दुकानों के बाहर लंबी लाइनें लग गईं। मुंबई में लोग 6 घंटे लाइन में लगे रहे लेकिन, दुकानें नहीं खुलीं। एक्साइज विभाग की ओर से स्थिति साफ नहीं होने की वजह से दुकानें बंद रहीं। एक दुकानदार ने बताया कि रविवार शाम एक्साइज विभाग ने सर्कुलर जारी कर कहा कि शराब नहीं बिकेगी। स्थिति साफ होने तक हम दुकान नहीं खोलेंगे।

आंध्र प्रदेश: शराब 25% महंगी हुई फिर भी भीड़ कम नहीं
आंध्र प्रदेश सरकार ने ऑरेंज और ग्रीन जोन इलाकों में सुबह 11 बजे से शाम 7 बजे तक शराब बिक्री की छूट दी है। शराब खरीदने के लिए लोग कतारों में खड़े नजर आए। इन इलाकों में शराब की दुकानें खुलने से पहले ही आधा किलोमीटर तक लाइनें लग गईं। जबकि, सरकार ने शराब की कीमतें 25% बढ़ा दी हैं। लोगों को ना तो तेज गर्मी की चिंता है ना ही कोरोना का संक्रमण फैलने का डर है। कई इलाकों में लोग सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान नहीं रख रहे।

पुडुचेरी: शराब की दुकानें खोलने पर फैसला नहीं

पुडुचेरी में सोमवार से फैक्ट्रियों में कामकाज शुरू हो गया। इस केंद्र शासित प्रदेश में सुबह 5 से शाम 6 बजे तक सभी दुकानें और रेस्टोरेंट खोलने की अनुमति है। हालांकि, रेस्टोरेंट से खाना सिर्फ पैक करवाया जा सकता है। यहां अभी शराब की दुकानें खोलने पर कोई फैसला नहीं हुआ है। पुडुचेरी में 12 संक्रमित हैं। इनमें से 6 की इलाज के बाद अस्पताल से छुट्‌टी हो चुकी है।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *