Pages Navigation Menu

Breaking News

दिल्ली विधानसभा चुनाव में केजरीवाल की बंपर जीत

दिल्ली की 8 सीटों पर भाजपा की जीत, 5 का इजाफा 

कांग्रेस के 63 उम्मीदवारों की जमानत जब्त

उद्धव सरकार; कांग्रेस के पुणे दफ्तर में तोड़फोड़, 19 गिरफ्तार

udhav cabinateमुंबई।उद्धव मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिलने से नाराज कांग्रेस विधायक संग्राम थोपटे के समर्थकों ने पुणे स्थिति पार्टी कार्यालय में जमकर तोड़फोड़ की. पुलिस ने बताया कि थोप्टे के समर्थकों ने कांग्रेस भवन पर हमला किया और तोड़फोड़ की. प्रदर्शनकारियों ने थोप्टे को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने पर पार्टी नेतृत्व के खिलाफ नारेबाजी की. थोप्टे पूर्व मंत्री अनंतराव थोप्टे के बेटे हैं. वहीं, अन्य घटनाक्रम में सोलापुर से कांग्रेस पार्षद फिरदौस पटेल ने महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोराट को पत्र लिखकर सूचित किया कि वह प्रणीति को मंत्री नहीं बनाए जाने की वजह से पार्टी और पार्षद पद से इस्तीफा दे रही हैं.

पुणे में कांग्रेस विधायक संग्राम थोपटे के समर्थकों द्वारा कांग्रेस कार्यालय पर हमला करने के मामले में पुलिस ने 19 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। मिली जानकारी के अनुसार संग्राम थोपटे को महाराष्ट्र के मंत्रिमंडल में शामिल न किए जाने के कारण ये कार्यकर्ता काफी नाराज हैं।पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार को संग्राम थोपटे के समर्थकों ने शिवाजी नगर इलाके में स्थित कांग्रेस कार्यालय में धावा बोल तोडफ़ोड़ शुरु कर दी। थोपटे के मंत्री न बनाए जाने को लेकर कार्यकर्ताओं में काफी आक्रोश था जिसे लेकर कार्यकताओं ने जमकर नारेबाजी की। संग्राम थोपटे भोर सीट से विधायक हैं और पूर्व मंत्री अनंतराव थोपटे के पुत्र हैं। कांग्रेस विधायकों ने इस घटना पर कहा कि जो हुआ वो निंदनीय है। नेतृत्व का फैसला हमें मंजूर है और भविष्य में भी मंजूर होगा।शिवाजी नगर थाना पुलिस के एक अधिकारी से मिली जानकारी के अनुसार थोपटे के 19 समर्थकों को मंगलवार रात ही गिरफ्तार कर लिया गया था। थोपटे को मंत्री न बनाये जाने के कारण इनमें भारी आक्रोश था। ज्ञात हो कि सोमवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया था।

शिंदे की बेटी को नहीं मिली जगह,समर्थक ने खून से लिखा पत्र

मुंबई. महाराष्ट्र के सोलापुर से तीन बार की कांग्रेस विधायक प्रणीति शिंदे को महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार में शामिल नहीं किए जाने से वहां के पार्टी कार्यकर्ता काफी नाराज हो गए हैं. एक कार्यकर्ता ने तो खून से कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के लिए विरोध पत्र लिखा है. जबकि एक अन्य ने इस्तीफा दे दिया है.महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने 26 कैबिनेट और 10 राज्य मंत्रियों को शामिल कर सोमवार को अपने मंत्रिपरिषद् का विस्तार किया था. पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार शिंदे की बेटी प्रणीति सोलापुर सिटी (मध्य) से तीसरी बार कांग्रेस विधायक निर्वाचित हुई हैं.सोलापुर के जिला युवा कांग्रेस के अध्यक्ष नितिन नागने ने पार्टी प्रमुख सोनिया गांधी को खून से पत्र लिखा और दावा किया कि प्रणीति और उनके पिता ने पार्टी के लिए काफी मेहनत की. दोनों महाराष्ट्र में पार्टी नेतृत्व के प्रति निष्ठावान रहे लेकिन पार्टी उन्हें हाशिए पर डाल रही है.युवा कांग्रेस के अध्यक्ष नितिन नागने ने मांग की कि पूर्व मुख्यमंत्री शिंदे को राज्यसभा के लिए नामित किया जाए और प्रणीति को राज्य सरकार में कुछ बड़ी जिम्मेदारी दी जाए.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *