Pages Navigation Menu

Breaking News

कोरोना वायरस; अच्‍छी खबर, भारत में ठीक हुए 100 मरीज

1.7 लाख करोड़ का कोरोना पैकेज, वित्त मंत्री की 15 प्रमुख घोषणाएं

भारतीय वैज्ञानिक ने तैयार की कोरोना वायरस टेस्टिंग किट

मनीष सिसोदिया का OSD रिश्वत लेते गिरफ्तार!

manish sisodiyaकेंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने रिश्वत लेते रंगे हाथों गोपाल कृष्ण माधव नाम के एक शख्स को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक, ये शख्स दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का OSD बताया जा रहा है. सीबीआई ने गोपाल को एक टैक्स के मामले को निपटाने के लिए 2 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है.गोपाल कृष्ण माधव को गुरुवार देर रात एक ऑपरेशन में गिरफ्तार किया गया, जब वह जीएसटी के एक मामले में 2 लाख रुपये से ज्यादा रिश्वत ले रहे थे. अधिकारियों ने बताया कि माधव को गिरफ्तार करने के तुरंत बाद सीबीआई हेडक्वॉर्टर ले जाया गया, जहां अधिकारी उससे पूछताछ कर रहे हैं.भारतीय जनता पार्टी के सांसद प्रवेश वर्मा ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा, ‘जब दिल्ली के उप मुख्यमंत्री के कार्यालय में तैनात एक सीनियर अधिकारी पैसे ले रहा था तो साफ है यह पैसा दिल्ली के उपमुख्यमंत्री की जेब में जाता था. इसी रिश्वत के पैसे से आम आदमी पार्टी के लोग दिल्ली में चुनाव लड़ रहे हैं और शाहीन बाग के लोगों को बिरयानी खिलाई जा रही है. इस मामले की आगे और जांच होगी.’वहीं इस मामले के सामने आने के बाद डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्विटर पर कहा, ‘मुझे पता चला है कि सीबीआई ने एक GST इन्स्पेक्टर को रिश्वत लेते हुए गिरफ़्तार किया है. यह अधिकारी मेरे ऑफ़िस में बतौर OSD भी तैनात था. सीबीआई को उसे तुरंत सख़्त से सख़्त सजा दिलानी चाहिए. ऐसे कई भ्रष्टाचारी अधिकारी मैंने ख़ुद पिछले 5 साल में पकड़वाए है’.

सिसोदिया के शामिल होने पर जांच जारी

सूत्रों के मुताबिक, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के शामिल होने की बात सामने नहीं आई है, जांच जारी है. अधिकारियों ने बताया कि माधव 2015 में सिसोदिया के ऑफिस में तैनात थे.वहीं, सीबीआई ने यह गिरफ्तारी ऐसे समय में की है जब एक दिन बाद दिल्ली चुनाव के लिए वोटिंग होनी है. दिल्ली चुनाव के लिए आज प्रचार का आखिरी दिन था. अब जनता 8 फरवरी को अपना सीएम चुनने के लिए मतदान करेगी.ऐसे में चुनाव प्रचार से ठीक पहले गुरुवार को अखबार के साथ दिल्लीवालों को एक ऐसे पर्चे भी मिले जिसमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को मुसलमानों का मसीहा बताया गया और उन्हें जालीदार टोपी पहने दिखाया गया.वहीं, चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को नोटिस जारी किया है. चुनाव आयोग ने सीएम योगी को 1 फरवरी को दिल्ली के करावल नगर में दिए उनके विवादित भाषण को लेकर नोटिस भेजा है. इस पर चुनाव आयोग ने 7 फरवरी शाम 5 बजे तक जवाब मांगा है.

विवादित भाषण के लिए सीएम योगी को नोटिस

चुनाव आयोग ने कहा, प्रथम दृष्टया इस तरह की टिप्पणी कर बीजेपी के वरिष्ठ नेता ने 8 फरवरी के दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए लागू आदर्श आचार संहिता के प्रावधानों का उल्लंघन किया. योगी आदित्यनाथ ने यह टिप्पणी 1 फरवरी को दिल्ली में एक भाषण के दौरान की थी.एक जनसभा के दौरान सीएम योगी ने कहा, आज आतंकवादियों को बिरयानी नहीं खिलाई जा रही है. बिरयानी खिलाने का शौक या तो कश्मीर के अंदर कांग्रेस को था या फिर बिरयानी खिलाने का शौक शाहीन बाग जैसी घटनाओं में केजरीवाल को है. मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पाकिस्तान का एक मंत्री केजरीवाल के समर्थन में अपील कर रहा है यानी उसे दिल्ली की जनता पर विश्वास नहीं है. वो अपने पाकिस्तान के आकाओं से कह कर अपने पक्ष में बयान दिलावा रहे हैं. इन चेहरों को पहचान लीजिए और ये देश की सुरक्षा के लिए घातक हैं.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *