Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

MCD में क्यों हवा हो गई AAP?

kejriनई दिल्ली: दिल्ली के नगर निगम चुनावों में बीजेपी ने हैट्रिक लगाई है. वहीं विधानसभा चुनावों में प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में आई आम आदमी पार्टी (आप) को दिल्ली की जनता ने निगम चुनावों में पूरी तरीके से खारिज कर दिया है. निगम चुनावों में आम आदमी पार्टी की करारी हार के लिए बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जिम्मेदार बताया है. उन्होंने दिल्ली MCD चुनाव परिणाम पर कहा कि यह अरविंद केजरीवाल की हार है. संबित पात्रा ने आप की हार के लिए तीन कारण भी गिनाए हैं. उन्होंने ट्वीट किया है, ‘केजरीवाल की हार के लिए ये तीन कारण जिम्मेदार हैं. हेकड़ी, हनन-आरोप और दिल्ली की आकांक्षाओं से अधिक स्वयं की महत्वाकांक्षा है.

अब तक के रुझान-: 

पूर्वी दिल्ली : रुझान 64 में से 60 वार्डों के रुझान. बीजेपी 42, कांग्रेस 8, आप 8, अन्य 8. यहां पर साफ दिख रहा है कि बीजेपी दो तिहाई बहुमत के करीब है.

उत्तरी दिल्ली : 104 में से 94 सीटों के रुझान, बीजेपी 56, आप 17 और कांग्रेस 16.

दक्षिणी दिल्ली : 102 रुझानों में से बीजेपी के खाते में 65 सीटें. 18 आप के पक्ष में दिख रहे हैं. कांग्रेस 12 सीटों पर आगे चल रही है.

केजरीवाल के पुराने दोस्त योगेंद्र यादव का तंज

एमसीडी चुनावों के रुझानों के बीच ही स्वराज इंडिया के संस्थापक योगेंद्र यादव ने कहा कि दिल्ली ने स्पष्ट रूप से बीजेपी को अपनी प्राथमिकता बता दिया है. योगेंद्र यादव ने कहा कि स्थानीय चुनावों में बीजेपी बड़ी जीत की ओर अग्रसर है. योगेंद्र यादव ने आगे कहा कि ये नतीजे अरविंद केजरीवाल सरकार के प्रति जनता का गुस्सा दिखा रहे हैं. योगेंद्र यादव दो साल पहले अरविंद केजरीवाल के साथ आम आदमी पार्टी में ही थे, लेकिन अरविंद केजरीवाल पर सवाल उठाने के बाद प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव पार्टी से अलग हो गए थे.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *