Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

दिल्ली मेट्रो का किराया अधिकतम 60 रुपये तक!

proposed-metro-fare-hike-anti-people-arvind-kejriwalनई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली मेट्रोके 3 अक्टूबर से बढ़ने वाले किराए की योजना से नाराज़ हैं. उन्होंने अपने परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत को आदेश दिए हैं कि प्रस्ताव लाकर बताएं कि कैसे ये बढ़ोतरी रोक सकते हैं. सूत्रों का कहना है कि मेट्रो ने दिल्ली सरकार को भरोसे में लिए बिना ये किराया बढ़ाने का फैसला किया. केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा- मेट्रो किराया बढ़ोतरी जनविरोधी. ट्रासंपोर्ट मंत्री कैलाश गहलोत को आदेश दिए हैं कि एक हफ़्ते में किराया बढ़ोतरी को रोकने के उपाय निकालें.

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन में केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार 50-50 की पार्टनर हैं.

केजरीवाल के इस आदेश के बाद दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने ट्वीट कर जानकारी दी कि दिल्ली मेट्रो के प्रमुख मंगू सिंह को ढाई बजे सभी दस्तावेज के साथ आने के लिए बुलाया गया है. आपको बता दें कि दिल्ली मेट्रो के प्रस्ताव के मुताबिक दिल्ली मेट्रो में किराया न्यूनतम 10 रुपये से लेकर अधिकतम 60 रुपये किया जाएगा जबकि अभी ये न्यूनतम 10 रुपये से अधिकतम 50 रुपये है. इसी साल मई के महीने में पहले ही मेट्रो में किराए बढ़ाये गए थे. ये इस साल की दूसरी बढ़ोतरी है.मई की बढ़ोतरी से पहले मेट्रो में न्यूनतम 8 रुपये से अधिकतम 30 रुपये था, यानी एक तरह से 3 अक्टूबर से जो नए किराए लागू होंगे वो मई से पहले के किराए के मुकाबले दोगुने होंगे.

दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री दिल्ली मेट्रो रेल कोरपोरेशन (डीएमआरसी) के किराया बढ़ाने के कदम से खुश नहीं हैं। अधिकारी ने कहा, परिवहन मंत्री जरुरत पड़ने पर इस मुद्दे पर डीएमआरसी प्रमुख मंगू सिंह को भी समन भेज सकते हैं। सरकार मेट्रो का किराया बढ़ने से रोकने की कोशिश करेगी। डीएमआरसी ने मई में चौथी किराया निधार्रण समिति की सिफारिशों के अनुसार किराए में बढ़ोत्तरी के पहले चरण की घोषणा की थी। दूसरा चरण अक्तूबर से लागू होगा।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *