Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

मध्यप्रदेश;8 दलों ने बनाया बीजेपी के खिलाफ गठबंधन

mp prabhatभोपाल: मध्यप्रदेश में इस साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ गठबंधन बनाने के लिए आठ राजनीतिक दलों की रविवार को भोपाल में बैठक हुई. इस बैठक में लोकतांत्रिक जनता दल, सीपीआई, सीपीएम, बहुजन संघर्ष दल, गोंडवाना गणतंत्र पार्टी, समाजवादी पार्टी, राष्ट्रीय समानता दल एवं प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी शामिल हुई. आठों पार्टियों ने बीजेपी को सत्ता से हटाने का संकल्प लिया, लेकिन कांग्रेस को भी इस गठबंधन में शामिल कर महागठबंधन बनाने के मुद्दे पर सीपीआई एवं सीपीएम ने विरोध किया. इस कारण इन दलों का गठबंधन नहीं हो सका.

लोकतांत्रिक जनता दल के सलाहकार गोविंद यादव ने बताया, ‘‘संवैधानिक लोकतंत्र बचाने एवं वैकल्पिक राजनीति की खातिर मध्यप्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए गैर-बीजेपी राजनैतिक दलों के गठबंधन निर्माण के लिए आठ विभिन्न राजनैतिक दलों की बैठक भोपाल में हुई.’’  यादव ने बताया कि सीपीआई एवं सीपीएम ने संपूर्ण विपक्षी एकता के लिए गैर बीजेपी गठबंधन निर्माण पर सैद्धांतिक सहमति व्यक्त की लेकिन कांग्रेस के साथ चुनाव पूर्व पूर्ण गठबंधन नहीं करने का फैसला लिया. शेष अन्य दलों ने संपूर्ण विपक्षी एकता के लिए कांग्रेस के साथ चुनाव पूर्व पूर्ण गठबंधन का समर्थन किया. उन्होंने कहा कि इन आठों दलों की अगली बैठक सात अक्टूबर को पुनः आयोजित की गई है. यादव वर्तमान में लोक क्रांति अभियान के संयोजक हैं. वह मध्यप्रदेश जेडीयू के अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

उन्होंने कहा कि बसपा द्वारा मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 22 प्रत्याशियों की 20 सितंबर को की गई घोषणा के बाद यह कदम उठाया जा रहा है, ताकि विपक्षी दलों के वोटों का विखराव न हो और बीजेपी को लगातार चौथी बार सत्ता में आने से रोका जा सके. यादव ने बताया कि बसपा ने मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने का ऐलान गुरूवार को कर दिया और वह सभी 230 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी. इसलिए हम गैर बीजेपी वोटों का और बिखराव होने से रोकने के लिए गठबंधन करेंगे, ताकि बीजेपी को हराया जा सके. उन्होंने कहा कि विधानसभा के चुनाव के लिए अब बहुत कम समय बचा है. लंबे समय से महागठबंधन के लिए प्रयास कर रही कांग्रेस अब तक सफल नहीं हो पायी है. इसलिए हम इस महागठबंधन के लिए प्रयास कर रहे हैं.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *