Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

चौटाला परिवार में छिड़ा सियासी संग्राम

chotalaनई दिल्ली: 2019 का लोकसभा चुनाव बेहद करीब है. देशभर में सियासी सरगर्मियां तेज हैं और इसी बीच हरियाणा के चौटाला परिवार में संग्राम छिड़ा हुआ है. पार्टी अध्यक्ष ओमप्रकाश चौटाला ने अपने बेटे अजय चौटाला को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया. कुछ वक्त पहले उन्होंने अपने पोतों सांसद दुष्यंत चौटाला और उनके भाई दिग्विजय चौटाला को पार्टी भी निष्कासित कर दिया था.इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) पार्टी से दुष्यंत-दिग्विजय के निष्कासन के बाद से ही पार्टी में लगातार विद्रोह देखने को मिल रहा था. पार्टी कार्यकर्ता दुष्यंत के पक्ष में काली पट्टियां बांधकर धरने पर बैठ गये थे. वहीं दुष्यंत ने दावा किया कि पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक नहीं हुई है. न ही अध्यक्ष ओम प्रकाश चौटाला की तरफ से बर्खास्तगी के लिये कोई आदेश जारी हुए हैं.इससे पहले शिक्षक भर्ती घोटाले में जेल की सजा काट रहे इंडियन नेशनल लोकदल (आइएनएलडी) के महासचिव अजय चौटाला ने 5 नवंबर को पैरोल पर रिहा होने के बाद पार्टी और परिवार में चल रहे घमासान पर काफी आक्रमक प्रतिक्रिया दी थी. अजय चौटाला ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था, ”याचना नहीं अब रण होगा, जीवन या मरण होगा. दुर्योधन तू उत्तरदाई होगा. हिंसा का उत्तरदाई होगा.” उन्होंने पार्टी में चल रहे उठापटक को लेकर ये भी कहा कि हक मांगने से नहीं छीनने से मिलता है.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *