Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

अगर बालासाहेब ठाकरे आज जिंदा होते तो…

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी के बीच गतिरोध कायम है। इस बीच सरकार बनाने में हो रही देरी पर एनसीपी नेता रोहित राजेंद्र पवार ने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन पर हमला बोला और कहा एनडीए के सहयोगियों के बीच “हालिया झड़प” लोकतंत्र का अपमान है। शरद पवार के पोते रोहित पवार ने एक फेसबुक पोस्ट में बाला साहेब की तारीफ की है और कहा कि वह उनकी इज्जत करते हैं। साथ ही उन्होंने सवाल किया कि अगर बालासाहेब ठाकरे (बाला साहेब ठाकरे) आज जिंदा होते तो भाजपा इतना हिम्मत दिखा पाती?’

उन्होंने फेसबुक पोस्ट में लिखा- महाराष्ट्र में कई ऐसे नेता हुए हैं जिन्हें लोगों का सम्मान मिला है। इनमें से एक हैं बालासाहेब ठाकरे। ऐसी कई वजहें हैं जिससे मैं उनका सम्मान करता हूं। चुनाव से पहले भाजपा ने शिवसेना के साथ सत्ता साझा करने का वादा किया किया था, मगर अब बीजेपी अपने वादों से पीछे हट रही है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या बालासाहेब ठाकरे आज जिंदा होते तो भाजपा अभी भी इतना साहस (हिम्मत) दिखा पाती?।

उन्होंने आगे लिखा कि सरकार बनने में देरी हो रही है और एक नागरिक होने के नाते मैं चिंतित हूं। उन्होंने यह भी कहा कि सूखे की मार झेल रहे किसानों को अब बारिश की मार झेलनी पड़ रही है। वह आगे लिखते हैं कि ग्रामीण और साथ ही शहरी लोग, कई समस्याओं का सामना कर रहे हैं। सरकार को जल्द से जल्द गठित करके आम आदमी का समर्थन करने की जरूरत है. लोगों ने हमें विपक्ष के रूप में चुना है। हमने जनादेश को स्वीकार कर लिया है और काम करना शुरू कर दिया है। लेकिन बीजेपी और शिवसेना के बीच हाल की झड़पें लोकतंत्र का अपमान हैं। गौरतलब है कि रोहित पवार, एनसीपी प्रमुख शरद पवार के पोते हैं और करजात विधानसभा से नवनिर्वाचित विधायक हैं। रोहित पवार ने आश्चर्य जताया कि क्या भाजपा-शिवसेना गठबंधन वास्तव में अगले 5 वर्षों के लिए अपने मौजूदा मतभेदों को देखते हुए एक दृढ़ सरकार देगा?

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *