Pages Navigation Menu

Breaking News

संघ कार्यालय पर संघी-कांग्रेसियों ने फहराया तिरंगा
पंपोर में मुठभेड़ में तीनों आतंकवादी मारे गए  
वाराणसी में केजरीवाल को दिखाए काले झंडे

शैलजा हत्याकांड खुलासा : मेजर निखिल हांडा की तीन और गर्लफ्रेंड…..

murder-case-delhi-Major-Nikhil-Handa-affair-with-other-woman-Delhi-police-287x167दिल्ली कैंट इलाके में मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी शैलजा की हत्या के आरोपी मेजर निखिल हांडा ने एक और सनसनीखेज खुलासा किया है। सोमवार को पूछताछ के दौरान निखिल ने पुलिस को बताया कि शैलजा के अलावा उसकी तीन और गर्लफ्रेंड थी। वह महिलाओं को फंसाने के लिए फेक सोशल मीडिया आईडी का यूज करता था।

शैलजा द्विवेदी हत्याकांड में आरोपी निखिल हांडा से हो रही पूछताछ में कई अहम खुलासे हो रहे हैं। पूछताछ के दौरान चौंकाने वाली बात यह सामने आई है कि शैलजा द्विवेदी के अलावा कई अन्य लड़कियों से भी प्यार का नाटक कर रहा था। इसका मतलब कि वह एक ही साथ कई लड़कियों के संपर्क में था। पूछताछ में पता चला है कि वह फेसबुक के जरिये कई लड़कियों से चैट करता था वह भी फेक आईडी के जरिये। इनमें एक महिला तलाकशुदा भी है, जिससे वह घंटों चैट करता था। कहा तो यह भी जा रहा है कि सभी लड़कियों से वह शादी का वादा भी करता था।

शैलजा का मर्डर करने के बाद एक गर्लफ्रेंड को किया था फोन
सोमवार को पूछताछ के दौरान निखिल ने खुलासा किया कि शैलजा के अलावा उसकी कई गर्लफ्रेंड थी। शैलजा की हत्या करने के बाद निखिल ने सबसे पहले कॉल कर एक गर्लफ्रेंड को अपनी हत्या की बात बताई थी, लेकिन उसने किसी भी मदद से इनकार कर दिया था। देश की राजधानी दिल्ली में घटी खूनी ‘प्रेम’ कहानी ने रिश्तों को भी शर्मसार किया है।विवाहेत्तर संबंध  (Extra marital affair) इसी अंजाम को प्राप्त होते हैं, लेकिन इंसानी जान जाने को जायज नहीं ठहाराया जा सकता है। ऐसे में यह कोई लव स्टोरी भी नहीं थी, बल्कि निखिल हांडा का सहज आकर्षण था। क्योंकि वह फेसबुक पर फेक अकाउंट बनाकर कई लड़कियों और औरतों को अपने प्रेम जाल में फंसा चुका है। हैरानी की बात तो यह है कि इतनी लड़कियां निखिल हांडा की शिकार हुईं, लेकिन कोई भी मामला पुलिस तक नहीं पहुंचा।

पति को लग गई थी निखिल-शैलजा के बीच ‘रिश्तों’ की खबर
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, मेजर मेजर निखिल हांडा और शैलजा द्विवेदी के बीच रिश्तों की जानकारी पति अमित द्विवेदी को लग गई थी। इतना ही नहीं, एक दिन मेजर अमित ने शैलजा और निखिल को वीडियो कॉल करते हुए पकड़ लिया था। इसके बाद उन्होंने निखिल और शैलजा को एक दूसरे से दूर रहने को कहा था।

पत्नी शैलजा तो मानी पर निखिल पर था जुनून सवार
बताया जाता है कि पति के समझाने के बाद शैलजा ने तो निखिल से दूरी बना ली, लेकिन निखिल ऐसा नहीं कर पाया और लगातार शैलजा को फोन करता रहा। पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि जनवरी से जून के बीच दोनों के बीच 3300 से अधिक फोन कॉल हुए थे।

परेशान शैलजा ने निखिल को दी थी कोर्ट मार्शल करवाने की धमकी
पुलिस जांच में सामने आया है कि शैलजा द्विवेदी निखिल हांडा  की हरकतों से इस कदर परेशान हो चुकी थीं कि  शैलजा ने उसे पीछा न छोड़ने पर सेना के अफसरों से शिकायत करके कोर्ट मार्शल करवाने की धमकी दी थी। माना जा रहा है कि  नौकरी जाने का खतरा देखकर उसने शैलजा की हत्या कर दी।

शैलजा की हर मूवमेंट की खबर रखता था
जानकारी सामने आई है कि पिछले कुछ दिनों से शैलजा आर्मी के बेस अस्पताल में इलाज के लिए जा रही थी। इसका पता निखिल को चला तो वह भी अपनी बीमारी का बहाना बनाकर दीमापुर से दिल्ली आ गया। बेस हॉस्पिटल में खुद और अपने बच्चे को एडमिट कराकर मौका ढूंढ़ता रहता कि कैसे शैलजा से मुलाकात कर पाए?पुलिस पूछताछ में निखिल ने बताया कि फर्जी फेसबुक अकाउंट की मदद से उसने शैलजा से 2015 में दोस्ती की थी। छह महीने तक तो वह खुद को बिजनेसमैन बताता रहा। दोनों अच्छे दोस्त बन गए तो निखिल ने शैलजा को सच्चाई बता दी। पुलिस की मानें तो पूछताछ में आरोपी मेजर ने शैलजा के खून की बात मान ली है। अमित और निखिल पड़ोसी थे। उसी दौरान निखिल की दोस्ती शैलजा द्विवेदी से हो गई। दोनों करीब आ गए थे। लेकिन छह महीने पहले मेजर अमित परिवार के साथ दिल्ली शिफ्ट हो गए। पुलिस के मुताबिक, निखिल ने शैलजा को मारने का प्लान कुछ दिन पहले ही किया था। उसे यह मौका मिला 23 जून को जब शनिवार सुबह फिजियोथेरेपी कराने बेस हॉस्पिटल गई थी। निखिल ने फोन कर शैलजा को मिलने बुलाया। दोनों करीब काफी देर दिल्ली कैंट इलाके में ही होंडा सिटी में घूमते रहे।इस दौरान बातचीत में शैलजा ने जब निखिल से शादी करने से साफ मना कर दिया तो उसने गाड़ी में रखे चाकू से शैलजा की गला काटकर हत्या कर दी। इसके बाद शैलजा को गाड़ी से नीचे फेंक कर गाड़ी भी उसके ऊपर चला दी ताकि हत्या को सड़क दुर्घटना बनाया जा सके।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *