Pages Navigation Menu

Breaking News

इस्लामिक आतंकवाद पर नकेल कसने की जरूरत; डोनाल्ड ट्रंप

राष्ट्रपति ट्रंप की लीडरशिप में दोनों देशों के रिश्ते गहरे हुए; नरेंद्र मोदी

डोनाल्ड ट्रंप के लिए आयोजित डिनर का कांग्रेस ने किया बहिष्कार

नाबालिग शख्स ने जामिया में चलाई गोली, एक घायल

Jamia-shooting-blurredनई दिल्‍ली. जामिया नगर इलाके में गुरुवार की दोपहर नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ मार्च से पहले फायरिंग हुई. एक शख्‍स ने खुले आम हथियार लहराया और फायरिंग की. जिसमें एक छात्र घायल भी हो गया है. फायरिंग करने वाले शख्‍स को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है. अब धीरे-धीरे उसकी पहचान भी उजागर हो रही है. ऐसा बताया जा रहा है कि फायरिंग करने वाला शख्‍स ग्रेटर नोएडा के जेवर कर रहने वाला है.नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध में गुरुवार को जामिया से राजघाट तक निकाले जा रहे पैदल मार्च के दौरान पुलिस की मौजूदगी में ही एक लड़के ने तमंचा निकालकर छात्रों पर गोली चला दी। गोली जामिया से मास कम्युनिकेशन कर  रहे छात्र शाहदाब फारुक के हाथ में जा लगी। गोली चलाने के बाद आरोपी लड़का तमंचा लहराते पीछे हटता हुआ पुलिस की ओर पहुंच गया। चंद कदमों की दूरी पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने आरोपी लड़के को मौके पर ही दबोच लिया। लड़के को ग्रेटर कैलाश थाने लाकर उससे पूछताछ जारी है। दूसरी ओर घायल छात्र शाहदाब को पास के होली फैमिली अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे एम्स ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। घटना के बाद से जामिया मिल्लिया में तनाव का माहौल है। पुलिस ने होली फैमिली अस्पताल के सामने बेरीकेड लगाकर छात्रों को रोका हुआ था। छात्र राजघाट जाने की जिद पर अड़े थे। हालात को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया हुआ था।जानकारी के अनुसार जामिया कॉर्डिनेशन कमेटी (सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे छात्र) की ओर से बापू की पुण्यतिथि पर गुरुवार दोपहर 12.00 बजे एक पैदल मार्च का आह्वान किया गया था। इसमें जामिया, एएमयू, जेएनयू, डीयू और कई छात्र संगठन शामिल थे। दोपहर करीब 12 बजे जामिया के गेट नंबर-7 पर भारी संख्या में छात्र जुटने लगे। दोपहर करीब 12.55 बजे भारी संख्या में छात्रों ने राजघाट कूच करना शुरू किया। हालांकि पुलिस ने मौलाना मोहम्मद अली जौहर मार्ग पर होली फैमिली अस्पताल के सामने बेरीकेड लगाकर छात्रों को रोकने की योजना बनाई हुई थी। छात्र कुछ दूर ही चले थे कि उसी दौरान छात्रों के बीच से ही निकले लड़के ने तमंचा निकालकर लहराना शुरू कर दिया।आरोपी ने छात्रों की तरह तमंचा तान दिया और वह कहने लगा मैं देता हैं तुम्हे आजादी, यह लो तुम्हारी आजादी, यह कहकर आरोपी लड़के ने गोली चला दी। वारदात वहां मौजूद टीवी चैनल के कैमरों और छात्रों के मोबाइल में कैद हुई। बाद आरोपी खुद ही पीछे हटता हुआ पुलिस के पास पहुंच गया। पुलिस ने आरोपी को तमंचे समेत दबोच लिया। आरोपी से पूछताछ जारी है।

फायरिंग से पहले कई बार लाइव हुआ था शख्‍स
फायरिंग से पहले वह कई बार फेसबुक अकाउंट पर लाइव भी हुआ और उसने कई पोस्‍ट भी लिखी. उसने लिखा था, ‘शाहीन बाग खेल खत्‍म.’ इससे पहले उसने लिखा था, ‘कोई हिंदू मीडिया नहीं है यहां.’दोपहर लगभग 1 बजे उसने पोस्‍ट किया था, ‘मेरी अंतिम यात्रा पर मुझे भगवा में ले जाएं और जय श्रीराम के नारे लगाएं.’ ऐसा बताया जा रहा है कि हमलावर के पिता पान की दुकान चलाते हैं.

हिरासत में आरोपी युवक
फिलहाल पुलिस ने युवक को हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ की जा रही है. गोली लगने से घायल छात्र को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि यह हमला उस समय हुआ जब प्रदर्शनकारी शांतिपूर्ण तरीके से राजघाट की ओर बढ़ रहे थे. युवक ने पुलिस की मौजूदगी में ही फायरिंग कर दी. हालांकि, इस दौरान उसे रोकने की कोशिश नहीं की गई. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जब छात्र घायल हुआ तब पुलिस ने बैरिकेड खोलने से मना कर दिया, जिसके कारण छात्र को कूदकर आगे बढ़ना पड़ा.

डीसीपी ने दी सफाई
इस मामले में डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है. पुलिस की ओर से कोई चूक नहीं हुई है. डीसीपी ने बताया कि उन्‍होंने भीड़ को आगे बढ़ने से रोका था. उनकी मानें तो फिलहाल इस बात की जांच की जा रही है कि युवक कौन है और कहां से आया है? बता दें कि सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर जामिया मिल्लिया इस्‍लामिया के छात्र लगातार विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं.

NOTE:  गोली चलाने वाले युवक का नाम हम इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं.  युवक की तस्वीर में  चेहरा नहीं दिखा रहे. युवक का नाबालिग. कानून के मुताबिक  की पहचान सार्वजनिक नहीं की जा सकती.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *