Pages Navigation Menu

Breaking News

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को निकालने के लिए ऑपरेशन गंगा

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

हरियाणा: 10 साल पुराने डीजल, पेट्रोल वाहनों पर प्रतिबंध नहीं

सच बात—देश की बात

भारत से कपास और चीनी मंगाने पर मजबूर हुआ पाकिस्तान

pakistan-politics-assembly_4b16f7a0-9fcc-11e8-9345-8d51f8ed9678पाकिस्तान ने दो साल बाद भारत से कपास, धागा और चीनी आयात से रोक हटा ली है। पाकिस्तान की इकॉनमिक कोऑर्डिनेशन काउंसिल (ECC) ने बुधवार को भारत से कपास और धागे के आयात को मंजूरी दे दी है। वहीं, प्राइवेट सेक्टर को 5 लाख टन चीनी आयात की भी छूट दी है। सूत्रों ने यह जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि घरेलू बाजार में बढ़ती कीमतों को देखते हुए पाकिस्तान को अपना फैसला बदलना पड़ा है।

पाकिस्तान में लोग भारतीय कपास और चीनी की मांग कर रहे हैं, क्योंकि यह उन्हें कम कीमत में मिल जाती है। दूसरे देशों से होने वाली आपूर्ति के मुकाबले भारतीय उत्पाद सस्ते हैं। भारत दुनिया में कपास का सबसे बड़ा उत्पादक है तो चीनी का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक है। भारत को निर्यात करके जहां सरप्लस खपाने में मदद मिलेगी तो पाकिस्तान में रमजान से पहले चीनी की कीमतें कम हो जाएंगी।

पाकिस्तान ने भारत से आयात को मंजूरी ऐसे समय पर दी है जब दोनों देशों के रिश्तों में पिछले कुछ समय से सुधार के संकेत मिल रहे हैं। बंटवारे के बाद से तीन युद्ध लड़ चुके दोनों देशों के बीच पिछले महीने संघर्षविराम को लागू करने पर सहमित बनी तो दोनों देशों की सेनाओं ने संयुक्त बयान जारी किया।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »