Pages Navigation Menu

Breaking News

31 दिसंबर तक बढ़ी ITR फाइलिंग की डेडलाइन

 

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए ना हो; पीएम नरेंद्र मोदी

सच बात—देश की बात

अफगानिस्तान की सीमा के अंदर घुसी पाक की सेना !

pak armyपाकिस्तानी सेना पर अफगानिस्तान में तालिबान की मदद करने को लेकर कई सवाल उठे हैं। खुद अफगानिस्तान के राष्ट्रपति यह बात कह चुके हैं। अब एक ताजा वीडियो वायरल हुआ है, जिसे देखने के बाद अफगानिस्तान में पाकिस्तान की भूमिका पर संदेह होने लगा है। यह वीडियो पाक-अफगान सीमारेखा का है। वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि पाकिस्तानी सेना के जवान डूरंड लाइन पार करके अफगानिस्तान की धरती पर पहुंचे हुए हैं। इसके अलावा बाद वह तालिबानी नियंत्रण वाले इलाके में आराम से घूम-फिर रहे हैं। सिर्फ इतना ही नहीं, पाक आर्मी के सिपाही तालिबानी लड़ाकों से बातचीत भी कर रहे हैं। यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

वीडियो पर अभी चुप बैठी है पाकिस्तानी सेना 
दावा किया जा रहा है कि यह वीडियो हाल ही में दोनों देशों की सीमा पर स्थित स्पिन बोल्डक इलाके में रिकॉर्ड किया गया है। यहां अफगानी धरती पर बनी नजर सिक्योरिटी पोस्ट पर पाकिस्तानी सेना के जवान तालिबान लड़ाकों के साथ देखे जा रहे हैं। हालांकि पाकिस्तानी सेना ने इस वीडियो को लेकर अभी तक कोई बयान नहीं जारी किया है। गौरतलब है कि अफगानिस्तान में तालिबानी नियंत्रण बढ़ने के बाद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने पैरामिलिट्री फोर्सेज को हटाकर यहां पर पाकिस्तानी आर्मी के जवानों को तैनात किया गया है। अफगानिस्तान में बढ़ते तनाव को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। आंतरिक मामलों के मंत्री शेख रशीद अहमद के मुताबिक ब्लूचिस्तान और कुछ अन्य जगहों से मिलिशिया को वापस बुला लिया गया है। इनके बदले में वहां पर आर्मी की तैनाती कर दी गई है।

गौरतलब है कि अफगानिस्तान-पाकिस्तान सीमा पर स्थित यह इलाका तालिबान के कब्जे में है। तालिबानी लड़ाकों ने इस जगह पर दस दिन पहले कब्जा जमा लिया था। यहां अफगानिस्तान की तरफ मौजूद इलाके को स्पिन बोल्डक के नाम से जाना जाता है। वहीं पाकिस्तान की तरफ जो इलाका है, उसे चमन बॉर्डर कहा जाता है। तालिबान द्वारा कब्जा कर लेने के बाद भी पाकिस्तान ने इस सीमा को बंद करने से इंकार कर दिया था। पाकिस्तान का कहना है कि यह एक महत्वपूर्ण सीमा है। हजारों लोग यहां से हर रोज सीमा के आर-पार जाते हैं। अगर इस सीमा को बंद कर दिया गया तो फिर लोगों को परेशानी होगी। वहीं इस सीमा पर कब्जा करने के बाद तालिबान ने यहां से अफगानिस्तान के झंडे को हटाकर सफेद झंडा लगा दिया है। कांधार प्रांत में स्थित इस सीमा कब्जा करने के बाद काफी बड़ी रकम तालिबान के हाथ लगी थी। यह रकम अफगान सुरक्षा बल के लोग यहां छोड़कर भाग गए थे।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »