Pages Navigation Menu

Breaking News

 अपने CM को शुक्रिया कहना कि मैं जिंदा लौट पाया; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

 

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

देश में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर

सच बात—देश की बात

अमेरिका और कनाडा में भीषण गर्मी, सैकड़ों लोगों की मौत

heat americaअमेरिका और कनाडा के कई हिस्सों में भीषण गर्मी ने कहर बरपाया हुआ है। इन दोनों देशों में एयर कंडीशनर और पंखे के बिना घरों में कई लोग मरे हुए मिले हैं। मरने वालों में अधिकतर बुजुर्ग शामिल हैं। पिछले 100 साल में इन दोनों देशों में इतनी गर्मी कभी नहीं पड़ी है। कनाडा में तो कई जगहों पर तापमान 49 डिग्री सेल्सियस के भी पार चला गया है।अमेरिका में पल-पल बदल रहे मौसम ने आम जनजीवन को अस्त-व्यस्त करके रखा हुआ है। दक्षिण पश्चिम अमेरिकी राज्यों में जहां भीषण गर्मी ने लोगों का जीना मुहाल किया है, वहीं दक्षिण पूर्वी राज्यों में भीषण चक्रवाती तूफान से हो रही बारिश से कई इलाकों में बाढ़ आ गई है। मार्च में ही अमेरिका के कई उत्तरी राज्यों में इतनी बर्फ गिरी थी कि लोगों को हफ्तों तक बिजली के बिना रहना पड़ा था।

वैज्ञानिकों ने रिकॉर्डतोड़ गर्मी की चेतावनी दी
मौसम विज्ञानियों ने प्रशांत उत्तर पश्चिमी क्षेत्र और पश्चिमी कनाडा में रिकॉर्ड तोड़ गर्मी की चेतावनी दी थी। इस चेतावनी के मद्देनजर अधिकारियों ने कूलिंग केंद्र बनाए, बेघर लोगों को पानी वितरित किया और कई अन्य कदम उठाए। फिर भी शुक्रवार से मंगलवार तक सैकड़ों लोगों के गर्मी की वजह से मारे जाने की आशंका है। उत्तर पश्चिमी क्षेत्र के अंदरुनी इलाकों और पश्चिमी कनाड़ा में अब भी भयंकर गर्मी की चेतावनी है।मौसम वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि कैलिफोर्निया समेत दक्षिण पश्चिम के कई राज्यों में आने वाले दिनों में रिकॉर्ड गर्मी पड़ सकती है। उन्होंने आशंका जताई है कि इस बार की गर्मी 1913 में डेथ वैली रिकॉर्ड तापमान को भी तोड़ सकती है। बुधवार से शनिवार तक डेथ वैली का तापमान 124 डिग्री फारेनहाइट पहुंच गया है। आने वाले दिनों में यह तापमान और अधिक बढ़ने का अनुमान है। इस डेथ वैली में 1913 में पांच दिनों तक चली हीट वेव के दौरान सर्वकालिक उच्च तापमान 134 डिग्री फारेनहाइट के रिकॉर्ड स्तर तक पहुंच गया था।

गर्मी से बिजली और पानी की आपूर्ति ठप होने की आशंका
मौसम विज्ञानियों ने कहा कि पूर्वानुमानों के अनुसार इस वर्तमान गर्मी की लहर को न केवल इसकी तीव्रता के लिए, बल्कि इसकी अवधि के लिए भी याद किया जाएगा। यह बिजली के ग्रिडों पर दबाव डाल रहा है और पानी की आपूर्ति को प्रभावित कर रहा है। इस प्रचंड गर्मी से इलाके में जो भी बची-खुची वनस्पतियां या पेड़-पौधे हैं वे भी सूख रहे हैं। ऐसे में अगर कैलिफोर्निया के जंगलों में आग लगती है तो उसे रोकना मुश्किल हो जाएगा। गर्म हवा और सूखे पेड़-पौधे आग की लपटों को पल भर में पूरे इलाके में फैला देंगे।

लोगों को धूप से बचने की सलाह
अगर कैलिफोर्निया में गर्मी ऐसी ही बढ़ती रही तो इस इलाके में रहने वाले 4000000 से 5000000 लोग प्रभावित हो सकते हैं। AccuWeather के अनुसार, कैलिफोर्निया, एरिजोना, मोंटाना और इडाहो सहित पूरे क्षेत्र में तापमान पहले ही रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच चुका है। बताया जा रहा है कि इस हफ्ते के अंत से तापमान में गिरावट देखने को मिल सकती है। गर्मी के कारण लोगों में नाक से खून आना, लू लगना और हीट स्ट्रोक जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है। अमेरिका के नेशनल वेदर सर्विस ने लॉस एंजिल्स काउंटी कोस्ट से लगते इलाकों में हीट वेव की चेतावनी जारी की है।

अकेले ओरेगन राज्य में 79 की मौत
heat in amrecaअमेरिका में ओरेगन राज्य की एक नर्सरी में एक प्रवासी मजदूर का शव पाया गया। ओरेगन के मेडिकल परीक्षक ने बताया कि अकेले इस राज्य में मृतकों की संख्या 79 पर पहुंच गयी है और ज्यादातर मौत मुल्टनोमा काउंटी में हुई है। कैलिफोर्निया में भी गर्मी ने लोगों का जीना मुहाल किया हुआ है। पोर्टलैंड में तो एसी और कूलर की मांग इतनी बढ़ गई है कि दुकानों में ढूंढने से भी नहीं मिल रही।कनाडा में ब्रिटिश कोलंबिया की मुख्य कोरोनर लीजा लैपोइंते ने बताया कि उनके कार्यालय को शुक्रवार और बुधवार दोपहर के बीच कम से कम 486 लोगों की अचानक और अप्रत्याशित मौत होने की रिपोर्टें मिली हैं। उन्होंने कहा कि हालांकि यह कहना अभी जल्दबाजी होगी कि इनमें से कितनी मौत गर्मी की वजह से हुई लेकिन गर्मी की वजह से ही ये मौत होने की आशंका है।वाशिंगटन राज्य प्राधिकारियों ने गर्मी के कारण 20 से अधिक लोगों के मरने की खबर दी है लेकिन यह संख्या बढ़ सकती है। ओरेगन की मुल्टनोमा काउंटी में मरने वाले लोगों की आयु 67 से 97 वर्ष के बीच है। काउंटी की स्वास्थ्य अधिकारी जेनिफर वाइन्स ने बृहस्पतिवार को एक साक्षात्कार में कहा कि वह मौसम के पूर्वानुमान के बीच लोगों के जान गंवाने को लेकर चिंतित हैं। ओरेगन में बेंड शहर में दो लोगों के शव एक सड़क पर पाए गए जहां दर्जनों बेघर लोग शिविरों में रहते हैं।मौसम विशेषज्ञों ने बताया कि प्रशांत उत्तर पश्चिम क्षेत्र में गर्मी बढ़ने की आशंका है। यह क्षेत्र आमतौर पर ठंडा रहने और बारिश के मौसम के लिए जाना जाता है और यहां बहुत कम गर्मी पड़ती है जिससे ज्यादातर लोगों के पास एयर कंडीशनर नहीं हैं। अमेरिका के सिएटल, पोर्टलैंड तथा कई अन्य शहरों में गर्मी के सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं और कुछ जगहों पर तो पारा 46 डिग्री सेल्सियस के पार चला गया है।

उष्णकटिबंधीय तूफान क्लाउडेट के कारण अमेरिका के दक्षिण पूर्वी राज्य लुइसियाना, मिसीसिपी और अलबामा के तटीय इलाकों में शनिवार को भारी बारिश हुई और इससे समूचे दक्षिणपूर्वी दलदलीय क्षेत्र में अचानक बाढ़ और संभावित रूप से बवंडर का खतरा बढ़ गया है। राष्ट्रीय तूफान केंद्र के मुताबिक शनिवार सुबह चार बजे यह बेहद शक्तिशाली हो गया और तीन घंटे बाद यह शहर के उत्तर की ओर था, इस दौरान अधिकतम 72 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं, इसके बाद यह उत्तर पूर्व की ओर बढ़ गया।

कई इलाकों में अब भी भारी बारिश का अनुमान
मौसमविदों के अनुसार तूफान से क्षेत्र में 12 से 25 सेंटीमीटर तक बारिश हो सकती है, वहीं दूर दराज के इलाकों में 38 सेंटीमीटर तक बारिश हो सकती है। उन्होंने कहा कि क्लाउडेट जॉर्जिया और कैरोलिना की ओर आगे बढ़ते हुए रविवार सुबह तक उष्णकटिबंधीय दबाव में तब्दील हो सकता है। राष्ट्रीय तूफान केंद्र के पूर्वानुमान के अनुसार, मेक्सिको की खाड़ी के उत्तर की ओर बढ़ रहे तूफान के शनिवार तक अंदरुनी इलाकों में पहुंचने की आशंका है। तूफान के कारण खाड़ी तट के हिस्सों में 25 सेंटीमीटर तक और कुछ इलाकों में 38 सेंटीमीटर तक बारिश होने की संभावना है।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »