Pages Navigation Menu

Breaking News

जेपी नड्डा बने भाजपा के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष

जिनको जनता ने नकार दिया वे भ्रम और झूठ फैला रहे है; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारत में शक्ति का केंद्र सिर्फ संविधान; मोहन भागवत

थाने में बंद थे हैदराबाद के हैवान, सैकड़ों लोगों ने घेरा,फांसी की मांग

protest हैदराबाद में वेटरिनरी डॉक्टर की गैंगरेप के बाद हत्या की घटना ने लोगों को झकझोर कर रख दिया। घटना की भयावह बर्बरता देखकर लोगों का गुस्सा उबल पड़ा। हैदराबाद के शादनगर थाने में चारों आरोपियों को पुलिस ने रखा उसे शनिवार को पब्लिक ने घेर लिया और चप्पल फेंके। पुलिस ने भीड़ पर काबू पाने के लिए लाठीचार्ज भी किया। इसके बाद भी लोग थाने के आस-पास से हटने का नाम नहीं ले रहे। पुलिस ने आरोपियों व थाने की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त फोर्स तैनात किया।जानकारी के अनुसार, पुलिस ने आरोपियों को भीड़ के गुस्से से बचाने के लिए थाने को लॉक कर लिया। लोग यहां शुक्रवार सुबह से ही प्रदर्शन कर रहे हैं और ओरापियों को बिना जांच-पड़ताल के ही मौत की सजा देने की मांग कर रहे हैं। थाने के सामने महिलाओं और छात्राओं के समूह भी इकट्ठा हो गए हैं और “we want justice” के नारे लगा रहे हैं। लोग पब्लिक के सामने आरोपियों को फांसी पर चढ़ाने की मांग कर रहे हैं।

कोर्ट में पेशी के लिए थाने से बाहर नहीं निकल पाई पुलिस-
पब्लिक का गुस्सा इस कदर बढ़ा हुआ है कि पुलिस शनिवार को आरोपियों को थाने से बाहर ले जाकर महबूबनगर की फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश नहीं कर पाई। आरोपियों का मेडिकल कराने के लिए पुलिस ने थाने में ही मजिस्ट्रेट को बुलाना पड़ा और आरोपियों के बयान दर्ज कराए गए। इससे पहले चारों आरोपियों का मेडिकल कराने के लिए पुलिस ने शादनगर थाने के पिछले दरवाजे से डॉक्टरों की टीम को लाई और उनका मेडिकल कराया। पुलिस अब मौका पाते ही चारों आरोपियों को महबूबनगर जेल में शिफ्ट कर सकती है। आरोपियों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया।

कोई वकील आरोपियों का केस नहीं लड़ेगा: बार एसोसिएशन
शादनगर के स्थानीय कोर्ट से संबंधित बार एसोसिएशन ने घटना के चारों आरोपियों का केस लड़ने से इनकार कर दिया है। बार एसोशिएसन ने कहा- कोई भी वकील अदालत में चारों आरोपियों की पैरवी करने नहीं जाएगा और उन्हें कानूनी सहायता भी उपलब्ध नहीं कराई जाएगी। दुष्कर्म और हत्या के आरोपियों को महबूबनगर के फास्ट ट्रैक कोर्ट में पेश किया गया।

महिला सुरक्षा के मुद्दे पर हैदराबाद से दिल्ली तक प्रदर्शन

डॉक्टर की हत्या और दुष्कर्म के खिलाफ हैदराबाद में प्रदर्शन कर रहे लोगों ने बेंगलुरु हाईवे जाम कर दिया। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे भी शामिल हुए। राजधानी दिल्ली में भी घटना के बाद महिला सुरक्षा के मुद्दे पर युवती अनु दुबे ने संसद के बाहर प्रदर्शन किया। शनिवार को राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा पीड़ित के परिवार से मिलने पहुंचीं। उन्होंने बताया कि परिवार पुलिस के रवैये से नाराज है। पुलिस अपने क्षेत्राधिकार को लेकर लड़ रही थी, इस वजह से कार्रवाई में देरी हुई। अगर पुलिस तेजी दिखाती, तो उन्हें बचाया जा सकता था। रेखा शर्मा ने कहा कि दोषियों को मौत की सजा मिलनी चाहिए। तेलंगाना की राज्यपाल डॉ. तमिलिसई सुंदरराजन ने भी पीड़िता के परिजन से मुलाकात की।

तेलंगाना में एक और महिला का जला हुआ शव मिला

शम्शाबाद के सिद्दुला गुट्टा मंदिर इलाके में शुक्रवार को एक और महिला का जला हुआ शव मिला। यह क्षेत्र आरजीआई एयरपोर्ट पुलिस स्टेशन की जद में आता है। डीसीपी प्रकाश रेड्डी ने बताया कि पुलिस को स्थानीय लोगों से सूचना मिली थी कि मंदिर के पास एक महिला का शव जल रहा है। हालांकि, लोगों ने आग बुझाने की कोशिश की, मगर वे नाकाम रहे। शव करीब 35 वर्षीय महिला का है, उसकी पहचान नहीं हो पाई।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *