Pages Navigation Menu

Breaking News

कोरोना वायरस; अच्‍छी खबर, भारत में ठीक हुए 100 मरीज

1.7 लाख करोड़ का कोरोना पैकेज, वित्त मंत्री की 15 प्रमुख घोषणाएं

भारतीय वैज्ञानिक ने तैयार की कोरोना वायरस टेस्टिंग किट

मोदी ने की ‘शांति और भाईचारे’ की अपील

Modi-759-8नई दिल्ली: उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा की वारदात को लेकर पीएम मोदी ने बुधवार को ट्वीट किया और लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया, “दिल्ली के विभिन्न इलाकों के हालात की गहन समीक्षा की है… पुलिस तथा अन्य एजेंसियां शांति तथा सामान्य माहौल सुनिश्चित करने के लिए लगातार ज़मीन पर काम कर रही हैं… शांति तथा सौहार्द हमारे चरित्र का केंद्र हैं… मैं दिल्ली में रहने वाले अपने भाइयों-बहनों से हर वक्त शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील करता हूं… शांति का बहाल होना और जल्द से जल्द सामान्य माहौल की वापसी बेहद अहम है…”वहीं, हिंसा को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा. सोनिया गांधी ने कहा कि हिंसा और दुखद घटनाओं के पीछे साजिश की गई है. दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान भी साजिश देखी गई, भाजपा नेताओं ने भड़काऊ भाषण देकर भय का माहौल बनाया. दिल्ली में मौजूदा हालात के लिए केन्द्र सरकार, गृह मंत्री और दिल्ली सरकार जिम्मेदार. साथ ही उन्होंने कहा कि केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह को दिल्ली में हिंसा के लिए जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा देना चाहिए.

इसके अलावा उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार और मुख्यमंत्री भी शांति बनाए रखने में नाकाम रहे. सीडब्ल्यूसी का मानना है कि स्थिति गंभीर है, तत्काल कार्रवाई की आवश्यकता है. स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पर्याप्त बल तैनात किया जाना चाहिए, मोहल्लों में शांति समितियों का गठन किया जाना चाहिए. दिल्ली के मुख्यमंत्री को प्रभावित इलाकों में जाना चाहिए और लोगों के साथ लगातार संवाद करना चाहिए.कांग्रेस महासचिव (पूर्वी उत्तर प्रदेश) प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, “मैं दिल्ली के लोगों से अपील करती हूं कि हिंसा में शामिल नहीं हों, सावधानी बरतें, और शांति बनाए रखें… हमने उत्तर प्रदेश में अपने कार्यकर्ताओं से भी हिंसा फैलने की स्थिति में शांति बनाए रखने के लिए सभी संभव प्रयास करने के लिए कहा है…”

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *