Pages Navigation Menu

Breaking News

लद्दाख का पूरा हिस्सा, भारत का मस्तक है; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की तारीख 30 नवंबर तक 

टिक टॉक सहित 59 चायनीज ऐप पर प्रतिबंध

प्रधानमंत्री मोदी को डंडे से मारने वाली राहुल गांधी की बात पर विवाद

rahul vs modiनई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को डंडे से मारने वाली कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान को लेकर विवाद बढता जा रहा है।सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में डंडामार राजनीति को भाजपा ने गंभीरता से लिया है और पार्टी इस मुदृे को लेकर जनता के बीच कांग्रेस को घेरेगी। इस मामले का असर लोकसभा में भी देखने को मिला।भाजपा ने कहा है कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री को डंडे से मारने की बात कर अपनी सोच के स्तर का प्रदर्शन किया है। भाजपा ने चेतावानी भरे अंदाज में कहा कि राहुल गांधी एक बात समझ ले नरेंद्र मोदी भारत के प्रदर्शन मंत्री है उन्हें झूने की भी यदि कोशिश की तो उसके अच्छे परिणाम नहीं होंगे। हताश निराश राहुल गांधी कुछ बोल रहे हैं यह अच्छी बात नहीं है।

असम के कोकराझार में रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा. शुक्रवार को पीएम मोदी ने कहा कि कभी-कभी लोग मोदी को डंडा मारने की बाते कहते हैं, लेकिन जिस मोदी को इतनी बड़ी मात्रा में माताओं-बहनों का सुरक्षा कवच मिला हो उस पर कितने ही डंडे गिर जाएं उसको कुछ नहीं होता.पीएम मोदी ने कहा, ‘अब इस धरती पर किसी भी मां के बेटे-बेटी का, किसी भी बहन के भाई का, किसी भी भाई की बहन का खून नहीं गिरेगा, हिंसा नहीं होगी. अब केंद्र सरकार, असम सरकार और बोडो आंदोलन से जुड़े संगठनों ने जिस ऐतिहासिक अकॉर्ड पर सहमति जताई है, जिस पर साइन किया है, उसके बाद अब कोई मांग नहीं बची है और अब विकास ही पहली और आखिरी प्राथमिकता है.’पीएम मोदी ने कहा, ‘सरकार का प्रयास है कि असम अकॉर्ड की धारा-6 को भी जल्द से जल्द लागू किया जाए. मैं असम के लोगों को आश्वस्त करता हूं कि इस मामले से जुड़ी कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद केंद्र सरकार और त्वरित गति से कार्रवाई करेगी.’पीएम मोदी ने कहा, ‘अकॉर्ड के तहत BTAD में आने वाले क्षेत्र की सीमा तय करने के लिए कमीशन भी बनाया जाएगा. इस क्षेत्र को 1500 करोड़ रुपये का स्पेशल डेवलपमेंट पैकेज मिलेगा, जिसका बहुत बड़ा लाभ कोकराझार, चिरांग, बक्सा और उदालगुड़ि जैसे जिलों को मिलेगा.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘आज जब बोडो क्षेत्र में, नई उम्मीदों, नए सपनों, नए हौसले का संचार हुआ है, तो आप सभी की जिम्मेदारी और बढ़ गई है. मुझे पूरा विश्वास है कि ‘बोडो टेरीटोरियल कॉउंसिल’ अब यहां के हर समाज को साथ लेकर, विकास का एक नया मॉडल विकसित करेगी.’उन्होंने रैली को संबोधित करते हुए कहा, बोडो टेरिटोरियल काउंसिल, असम सरकार और केंद्र सरकार, अब साथ मिलकर, सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास को नया आयाम देंगे. इससे असम भी सशक्त होगा और एक भारत-श्रेष्ठ भारत की भावना भी और मजबूत होगी.इसी दौरान पीएम मोदी ने कहा, ‘कभी-कभी लोग मोदी को डंडा मारने की बाते कहते हैं. लेकिन जिस मोदी को इतनी बड़ी मात्रा में माताओं-बहनों का सुरक्षा कवच मिला हो उस पर कितने ही डंडे गिर जाएं उसको कुछ नहीं होता.’

लोकसभा में शुक्रवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बयान पर हंगामा हुआ. हंगामा इतना बढ़ गया कि मामला धक्का-मुक्की तक आ पहुंचा. दरअसल, एक सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने राहुल गांधी के डंडेमार बयान का जिक्र किया और आलोचना करने लगे. उन्हें स्पीकर ओम बिड़ला ने रोकने की कोशिश की.इस बीच कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर, हर्षवर्धन की सीट पर पहुंच गए और दोनों के बीच बहस शुरू हो गई. वहीं, बीजेपी सांसद वेल में आ गए और कांग्रेस सांसद मनिकम टैगोर को पकड़ लिया और धक्का-मुक्की शुरू हो गया. इसके बाद स्पीकर ओम बिड़ला ने सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया.

क्या बोले केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन?

लोकसभा में मचे हंगामे के बाद डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि मुझे आश्चर्य है कि राहुल गांधी के पिता खुद देश के प्रधानमंत्री थे तो ऐसी टिप्पणी वो कैसे कर सकते हैं, लोग पीएम को डंडों से पीटेंगे और देश से बाहर फेंक देंगे. हम सभी को इसकी निंदा करनी चाहिए.

राहुल गांधी ने दिया ये बयान

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने अपनी पार्टी के सांसद मनिकम टैगोर का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने किसी पर हमला नहीं किया. वे वेल में जरूर गए. आप कैमरा देख सकते हैं. उनके ऊपर उल्टा हमला हुआ. राहुल ने केंद्रीय हर्षवर्धन पर निशाना साधते हुए कहा कि वे मेरे सवाल का जवाब देने की बजाय दूसरी बात कर रहे थे.

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *