Pages Navigation Menu

Breaking News

भारत ने 45 दिनों में किया 12 मिसाइलों का सफल परीक्षण

पाकिस्तान संसद ने माना, हिंदुओं का कराया जा रहा जबरन धर्मातरण

सिनेमा हॉल, मल्टीप्लैक्स, इंटरटेनमेंट पार्क 15 अक्टूबर से खोलने की इजाजत

भूमि पूजन के बाद अयोध्या में दिवाली, योगी ने फोड़े पटाखे

ayodhya deepawali 2अयोध्या में भव्य राम मंदिर के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूमि पूजन के बाद शिलान्यास किया। अब मंदिर निर्माण शुरू हो जाएगा। वहीं आज अयोध्या में हर तरफ दिवाली मनाई जा रही है। यूपी के सीएम योगी दित्यनाथ  ने पटाखे फोड़कर खुशी का इजहार किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा राम मंदिर की आधारशिला रखना नए युग का प्रारंभ है और यह युग ‘रामराज्य’ और ‘नए भारत के निर्माण’ का है। यह नया युग लोककल्याण के लिए तपोमयी सेवा का है। यह युग रामराज्य का है। यह युग प्रभु श्री राम के आदर्शों के अनुरूप नए भारत के निर्माण का है।अयोध्या में भव्य राम मंदिर के लिए भूमि पूजन के बाद हर तरफ दिवाली का माहौल है। ऐसे में RSS प्रमुख मोहन भागवत ने सरयू नदी के तट पर पहुंचे और वहां पूजा-अर्चना की। इस दौरान उन्होंने आरती भी की।श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के भूमि पूजन के बाद अयोध्या में हर तरफ खुशी का आलम है। देर शाम राम की पैड़ी पर राम भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा।श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के भूमि पूजन के बाद अयोध्या में लोग घरों के बाहर दीप जला रहे हैं। आज पूरे जिले में दोपोत्सव जैसा माहौल है।अयोध्या में भव्य राम मंदिर के शिलान्यास के बाद हर तरफ दिवाली जैसा माहौल है। शहर भर के मंदिरों और प्रमुख स्थानों को खूब सजाया गया है और बेहतरीन लाइटिंग की गई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के शहर गोरखपुर में सुबह से ही जश्‍न का माहौल रहा। लोगों ने कहीं अबीर-गुलाल उड़ाकर होली मनाई तो कहीं रामचरित मानस या सुंदरकांड का पाठ किया।

indor ramअयाेध्या की तरह इंदाैर भी रामभक्ति में लीन हाे गया है। मंदिराें काे खूबसूरत लाइटाें से सजाया गया है। भगवान रणजीत हनुमान मंदिर काे भी अयोध्या में भूमिपूजन कार्यक्रम के अवसर सजाया गया है। इस मौके पर भाजपा सांसद शंकर लालवानी, पूर्व महापौर कृष्णमुरारी मोघे कार्यकर्ताओं के साथ बड़ा गणपति पहुंचे और यहां गजाजन की आरती की।शंकर लालवानी ने कहा कि करीब पांच सौ साल से समाजजन राम मंदिर निर्माण की प्रतीक्षा कर रहे थे। प्रधानमंत्री और संतों ने इसी नींव रखी है। इंदौर में इसकी शुरुआत बड़ा गणपति के पूजन-अर्चन के साथ हुआ है। पूरे शहर में उत्साह का माहौल है। सुबह से ही शहर में जश्न मनाया जा रहा है। कांग्रेस कार्यालय में सुंदकांड का पाठ होने को लेकर कहा कि कांग्रेस को तो यह पाठ बहुत पहले करना चाहिए था। यह वही पार्टी है जो शुरू से इसका विरोध कर रही थी। आंदोलन का विरोध किया.. रथ यात्रा का विरोध किया। पूरा देश भक्ति में उमड़ पड़ा तो उन्हें लगा कि हमने गलती कर दी, इस गलती को सुधार रहे हैं।कृष्ण मुरारी मोघे ने कहा कि अच्छे काम में जो भी सहभागी हैं, मैं उनका स्वागत करता हूं। फिर चाहे वो दूसरी अन्य पार्टियां ही क्यों ना हो। राम देश के राष्ट्र पुरुष हैं। राम ने मनुष्य को कैसे जीवन जीना चाहिए इसकी सीख दी। उनके बताए और चले हुए मार्ग पर लोग चलेंगे तो यह धरती स्वर्ग हो जाएगी। उन्होंने शालीनता के साथ इस उत्सव को मनाने की अपील की।

4 घंटे का अखंड रामायण पाठ

मंदिर के प्रमुख पुजारी पं. दीपेश व्यास ने बताया 24 घंटे का अखंड रामायण पाठ का आयोजन किया गया। बुधवार को अभिजीत मुहूर्त में दोपहर 12.15 बजे आरती की गई। मंगलवार रात से ही भगवान रणजीत का मोगरे के फूलों से पुष्प बंगला सजाने के साथ विशेष सजावट की गई। इसी प्रकार राम दरबार और मंदिर परिसर के सभी देवालयों को भी नए स्वरूप में सजाया गया।

जानापाव तीर्थ पर एक हजार दीप जले
अयोध्या में भूमिपूजन समारोह के मौके पर परशुराम महासभा की ओर से बुधवार को जानापाव तीर्थ में शाम 4 बजे से सुंदरकांड पाठ हुआ। शाम 6.30 बजे घी के एक हजार दीये प्रज्ज्वलित किए गए। महासभा के प्रदेशाध्यक्ष पं. वीरेंद्र शर्मा व जिलाध्यक्ष पं. संजय मिश्रा ने बताया उत्सव में कोरोना प्रोटोकॉल को लेकर भी सतर्कता बरती गई। इस अवसर पर जानापाव तीर्थ में सजावट की गई।

राम मंदिर के भूमिपूजन पर गीता भवन में भी विशेष उत्सव
अयोध्या में रामलला मंदिर के भूमिपूजन के उपलक्ष्य में बुधवार को गीता भवन में भी विशेष उत्सव मनाया जा रहा है। यहां अभिषेक, शृंगार के बाद महाआरती हुई। गीता भवन ट्रस्ट के अध्यक्ष गोपालदास मित्तल, मंत्री राम ऐरन व सत्संग समिति के संयोजक रामविलास राठी ने बताया सुबह 9 बजे से राम दरबार सजाया गया। सभी विग्रहों को नए वस्त्र पहनाए गए। दोपहर 12.44 बजे महाआरती हुई।

रामायण पाठ के साथ ही रामरज बिछी

रामलला की नगरी अयोध्या में प्रभु राम के मंदिर भूमिपूजन का उत्सव अहिल्यापुरा (गोराकुंड) में भी मनाया जा रहा है। रामायण पाठ के साथ ही रामरज बिछी। भगवा पताकाओं से पूरा क्षेत्र सजाया गया। आयोजक प. सत्तू शर्मा ने बताया यहां के वीर हनुमान मंदिर में अखंड रामायण पाठ मंगलवार सुबह 10 बजे से शुरू हुआ, जिसकी पूर्णाहुति बुधवार दोपहर 12 बजे हुई। इसके पूर्व हनुमंत लला का इत्र सिंदूर के चोले के संग भव्य शृंगार हुआ।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *