Pages Navigation Menu

Breaking News

31 दिसंबर तक बढ़ी ITR फाइलिंग की डेडलाइन

 

कोविड-19 वैक्सीन की एक खुराक मौत को रोकने में 96.6 फीसदी तक कारगर

अफगानिस्तान की धरती का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए ना हो; पीएम नरेंद्र मोदी

सच बात—देश की बात

राम मंदिर निर्माण के लिए दुल्हन की तरह सजी अयोध्या

Ram_temple-Reutersअयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए पांच अगस्त को होने वाले भूमि पूजन की तैयारियां अंतिम चरण में है। कई लोग इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए अयोध्या पहुंचने भी लगे हैं। श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत मंगलवार शाम को अयोध्या पहुंच रहे हैं। राय ने यह भी बताया कि भूमि पूजन के लिए 136 संतों को निमंत्रण दिया गया है।सोमवार शाम को एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए चंपत राय ने कहा, ‘विश्व हिंदू परिषद के नेता दिनेश चंद सहित हरिद्वार अखाड़ा के महंत यहां पहुंच चुके हैं। कल शाम तक सभी आमंत्रित लोग यहां पहुंच जाएंगे। राष्ट्रीय स्यवंसेवक संघ से मोहन भागवत, भैय्या जी जोशी एवं अन्य यहां आएंगे।’ उन्होंने कहा कि संत-महात्मा को मिलाकर पौने दो सौ लोगों को निमंत्रण भेजा गया है। हमने बाबरी मस्जिद के मुद्दई रहे इकबाल अंसारी और फैजाबाद निवासी मोहम्मद शरीफ को भी निमंत्रण भेजा है। मोहम्मद शरीफ लावारिस शवों का उनके धर्मानुसार अंतिम संस्कार करते हैं।

चंपत राय ने बताया कि भूमि पूजन के दिन प्रधानमंत्री मोदी की ओर से रामलला पर डाक टिकट भी जारी किया जाएगा। प्रधानमंत्री राम जन्मभूमि में पौधरोपण भी करेंगे। प्रधानमंत्री के साथ भूमि पूजन समारोह के मंच पर सिर्फ चार और लोग होंगे इनमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास शामिल होंगे। राय ने भूमि पूजन के दिन रामलला को हरे रंग का वस्त्र पहनाए जाने को इस्लाम से जोड़े जाने पर कड़ी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि परंपरा के अनुसार हर दिन रामलला अलग रंग के वस्त्र पहनते हैं। बुधवार को इसी कड़ी में वह हरे रंग का वस्त्र पहनेंगे। उन्होंने कहा कि हरे रंग पर विवाद पैदा करने वाले महामूर्ख हैं। यह वही लोग हैं जिन्हें पीएम मोदी का इतना भय है कि इन्हें रात में नींद भी नहीं आती।

पांच अगस्त को अयोध्या में भव्य राम मंदिर के लिए भूमि पूजन होना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भूमि पूजन करेंगे। इस दौरान कई राज्यों के मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री, उद्योगपति, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पदाधिकारी और राम मंदिर आंदोलन से जुड़े नेता अयोध्या में मौजूद रहेंगे। भूमि पूजन के लिए पूरे जोर-शोर से तैयारियां चल रही हैं। रामलला की नगरी को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है।किसी चीज की कमी न रह जाए, इसके लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री खुद तैयारियों पर नजर बनाए हुए हैं और लगातार समीक्षा कर रहे हैं।

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »