Pages Navigation Menu

Breaking News

कोरोना वायरस; अच्‍छी खबर, भारत में ठीक हुए 100 मरीज

1.7 लाख करोड़ का कोरोना पैकेज, वित्त मंत्री की 15 प्रमुख घोषणाएं

भारतीय वैज्ञानिक ने तैयार की कोरोना वायरस टेस्टिंग किट

मोदी विरोधियों का अड्डा है शाहीन बाग: बीजेपी

Ravi_Shankar_Pr5153नई दिल्ली केंद्रीय कानून मंत्री एवं बीजेपी के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि शाहीन बाग कोई जगह नहीं, बल्कि एक विचार है। यह टुकड़े-टुकड़े गैंग और मोदी विरोधियों का मंच है जहां मासूम बच्चों में भी प्रधानमंत्री के खिलाफ जहर भरा जाता है। प्रसाद ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि नागरिकता कानून की किस धारा पर आपत्ति है, यह आज तक कोई नहीं बता सका है, फिर भी विरोध जारी है। उन्होंने पूछा कि संसद में पूरी लोकतांत्रिक प्रक्रिया से पास कानून को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने के बाद भी धरने पर बैठने का क्या मतलब है? प्रसाद ने शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों पर बहुसंख्यक शांतिप्रिय आबादी को दबाने का भी आरोप लगाया।

जगह नहीं विचार है शाहीन बाग: प्रसाद
प्रसाद ने कहा, ‘शाहीन दिल्ली का एक मोहल्ला नहीं है, शाहीन बाग भूगोल का एक टुकड़ा नहीं है। शाहीन बाग एक विचार है, जहां भारत के झंडे और भारत के संविधान का कवर है और भारत को तोड़ने वालों को मंच दिया जाता है। जहां पर टुकड़े-टुकड़े गैंग पीछे खड़े रहते हैं। जहां पर बच्चों की मासूमियत का छलावा देते हुए उनसे प्रधानमंत्री के खिलाफ हिंसा के लिए उकसाया जाता है।’

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार ने हर स्तर पर सीएए को लेकर पैदा भ्रम को दूर करने प्रयास किया। फिर भी हर व्यक्ति के पास विरोध करने का अधिकार है। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री, गृह मंत्री, बीजेपी अध्यक्ष, मंत्रियों ने कहा है कि विरोध का सबको अधिकार है। लेकिन यह विरोध सिर्फ मोदी विरोध है। बार-बार हमने बताया कि नागरिकता संशोधन कानून किसी की नागरिकता नहीं छीनता है। इस देश का मुस्लिम इज्जत के साथ रहता है और रहेगा।’

शांतिप्रिय बहुसंख्यकों को दबाया जा रहा है: बीजेपी
उन्होंने कहा, ‘एक प्रावधान नहीं बताया गया, एक धारा नहीं बताई गई जिससे आपत्ति हो। लोकतंत्र में विश्वास करने का दावा करते हैं, लेकिन संसद में खुलकर हुई बहस के बाद पारित कानून पर आपत्ति है। सुप्रीम कोर्ट में इसके खिलाफ अपील की तो उसने चार हफ्ते में सरकार से जवाब मांगा। पूरी लोकतांत्रिक प्रक्रिया सुचारू तौर पर आगे बढ़ रही है।’ उन्होंने कहा, ‘फिर भी आप धरने पर बैठे हैं, बच्चों को स्कूल नहीं जाने दे रहे हैं, मरीजों का ऐंबुलेंस नहीं निकलने देते हैं। इसका मतलब यह है कि मुट्ठीभर लोग खामोश बैठे बहुसंख्यक जनता को दबा रहे हैं। शाहीन बाग का सही चेहरा यही है कि वह शांतिप्रिय बहुसंख्यक आबादी को दबाने में जुटा है।’

NPR पर कांग्रेस से सवाल
उन्होंने राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के विरोध पर भी कांग्रेस को घेरा। उन्होंने कांग्रेस सरकार में जारी एक नोटिफिकेशन दिखाते हुए पूछा कि क्या कांग्रेस करे तो ठीक और बीजेपी करे तो गलत हो जाता है? प्रसाद ने कहा, ’15 मार्च, 2010 का नोटिफिकेशन है। तब कांग्रेस की सरकार थी और पी. चिदंबरम गृह मंत्री थे। इसमें साफ कहा गया था कि हम नैशनल पॉप्युलेशन रजिस्टर (एनपीआर) को लागू करने जा रहे हैं। आप करें तो ठीक? तब सरकार के पीछे वामदल, मुलायम सिंह यादव की समाजवादी पार्टी और लालू यादव की पार्टी आरजेडी भी थी।’

पाकिस्तान प्रेम में पड़े कांग्रेसी: बीजेपी
बीजेपी नेता कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर और मणिशंकर अय्यर पर भी निशान साधा। उन्होंने कहा, ‘मैंने सुना है कि जिन्ना भी आ गए हैं हिंदुस्तान की सियासत में। शशि थरूर कभी भारत को हिंदू पाकिस्तान कहते थे। आजकल कांग्रेस नेताओं का पाकिस्तान प्रेम बहुत कौतुहल का विषय बना हुआ है। मणिशंकर अय्यर जाएंगे तो अपने सारे विचार पाकिस्तान में रखेंगे।’इससे पहले उन्होंने कहा, ‘शाहीन बाग के मुद्दे पर राहुल गांधी और केजरीवाल खामोश हैं, उनके लोग खूब बोल रहे हैं। मनीष सिसोदिया भी बोलते हैं। दिग्विजिय सिंह और मणिशंकर अय्यर ने वहां जाकर क्या-क्या बोले हैं, बताने की जरूरत नहीं है। मैं कांग्रेस के लोगों को एक बात साफ-साफ कहना चाहता हूं कि अब इस देश का कोई बंटवारा नहीं होगा। जो कोई ऐसी सोच रखेगा, उस पर कार्रवाई भी होगी।’

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *